एसेब्रोफाइलाइन : उपयोग,फायदे खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां Acebrophylline In hindi

0
8210

acebrophylline fayde nuksan in hindi

1एसेब्रोफाइलाइन क्या है?

एसेब्रोफाइलाइन  एक ऐसा यौगिक है जिसमे एंब्रोक्सोल और थियोफाइललाइन मुख्य घटक के रूप में मौजूद होते हैं| एसेब्रोफाइलाइन वायुमार्ग के रास्ते और फेफड़ों में मौजूद चिकनी मांसपेशियों को आराम देने का काम करता है। यह वायुमार्ग में बलगम के बनने को ढीला और पतला करने के साथ साथ नियमित भी करता है| यह रोगी को सांस लेने में भी आराम दिलाता है।

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: नेटमेड्ससेवऑनमेडिकल

2एसेब्रोफाइलाइन का उपयोग

इसका उपयोग मुख्य रूप से सी.ओ.पी.डी (क्रोनिक अवरोधक फुफ्फुसीय रोग) और ब्रोन्कियल अस्थमा से पीड़ित वयस्कों के लिए अवरोध, सूजन और जलन का इलाज करने के लिए किया जाता है। यह खांसी, सांस लेने में कठिनाई या छाती में कठोरता से छुटकारा दिलाने के लिए प्रयोग किये जाते हैं|

Also Read in English: About Acebrophylline 

3एसेब्रोफाइलाइन  कैसे लें?

या तो आप एसेब्रोफाइलाइन के कैप्सूल या फिर सिरप-आधारित फॉर्मूला ले सकते हैं। इन्हें मुंह से पानी के के साथ या चिकित्सक द्वारा दिए गये निर्देशों के अनुसार लिया जाता है।

जी.आई. जैसी असुविधा से बचने के लिए एसेब्रोफाइलाइन को भोजन के बाद ही लिया जाना चाहिए। दवाओं को एक समान रूप से लेने के लिए इसका उपयोग करने से पहले इस तरल को अच्छी तरह से हिला लें। दवा की सही खुराक का उपभोग करने के लिए नापने वाले चम्मच का प्रयोग कर सकते हैं|

 और पढो: एलेक्स कफ सिरपएसीमेज़ प्लसबैंडी प्लस

4एसेब्रोफाइलाइन की आम खुराक

इस दवा की खुराक और लेने का तरीका चिकित्सक द्वारा निम्न बातो को ध्यान में रखकर तय किया जाता है:

  • रोगी की आयु और शरीर का वजन
  • रोगी की स्वास्थ्य की स्थिति और चिकित्सा की स्थिति
  • रोग की गंभीरता
  • पहली खुराक लेने पर प्रतिक्रिया
  • एलर्जी और दवा की प्रतिक्रियाओं का इतिहास

एसेब्रोफाइलाइन टैबलेट, कैप्सूल या सिरप के रूप में मिलती है। यह गोलियाँ आम तौर पर 100 मि.ग्रा. से 200 मि.ग्रा. कि खुराक में उपलब्ध होती हैं। वयस्कों के लिए इसकी खुराक दिन में दो बार 100 मि.ग्रा. है। जी.आई की  असुविधा से बचने के लिए दवा को हमेशा भोजन के बाद ही लें|

5सावधानियां – एसेब्रोफाइलाइन से कब बचें?

यदि आपको क्सानथिन  से व्युत्पन्न, एंब्रोक्सोल, एसेब्रोफाइलाइन या थियोफाइललाइन से एलर्जी है तो इससे बचकर रहें|

कम रक्तचाप या दिल के दौरे या अनियमित हार्ट बीट के इतिहास वाले मरीजों को इस दवा का प्रयोग बिलकुल नहीं करना चाहिए|

जिगर या गुर्दे की बीमारी वाले लोगों को भी इस दवा को नहीं लेना चाहिए|

6एसेब्रोफाइलाइन के दुष्प्रभाव?

एसेब्रोफाइलाइन के साइड इफेक्ट काफी असामान्य होते हैं। इससे होने वाले कुछ दुष्प्रभाव निम्न हैं:

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • दस्त
  • भूख में कमी
  • सरदर्द
  • उनींदापन
  • माइग्रेन
  • सांस लेने में कठिनाई
  • बुखार
  • बीपी में परिवर्तन

7एलर्जी प्रतिक्रियाओं की सूचना

इसकी एलर्जी प्रतिक्रियाएं दुर्लभ हैं, लेकिन त्वचा पर चकत्ते और खुजली जैसी प्रतिक्रियाएं देखी गयी है।

8ड्रग इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

सभी संभव दवाएं जो कि इस दवा के साथ लेने पर प्रभाव डालती है उनको यहां सूचीबद्ध नहीं कर सकते| इसलिए आपको अपने द्वारा हमेशा उपयोग की जाने वाली सभी दवाओं और उत्पादों की जानकारी अपने चिकित्सक को देनी पड़ेगी|

अजीथ्रोमाइसिन, एरिथ्रोमाइसिन, लिनकोमाइसिन, क्लिंडामाइसीन, ऑक्सीटेट्रासाइक्लिन, प्रोप्रानोलोल, फेनोटोइन, ऑलोपुरिनोल, सिमेटिडाइन, सेफलेक्सिन, कार्बेमेज़िपिन, एंटीकोगुल्टेंट्स आदि दवाओं के साथ इसके ड्रग इंटरैक्शन की जानकारी मिली है। यदि इनका संयुक्त रूप से उपयोग जरूरी हो तो एसेब्रोफाइलाइन की खुराक कम लेनी चाहिए|

सी.एन.एस जैसी उत्तेजक दवाओं का एसेब्रोफाइलाइन के साथ उपयोग नहीं करना चाहिए|

आपको अपने द्वारा खाए जाने वाले उन हर्बल उत्पादों के बारे में भी अपने डॉक्टर को जरूर बताना चाहिए|

बिना डॉक्टर की मंजूरी के दवा के नियम में कोई बदलाव ना लायें|

9प्रभाव और परिणाम

एसेब्रोफाइलाइन के प्रभाव को देखने के लिए लिया गया समय, दवा के प्रयोग पर निर्भर करता है जोकि आमतौर पर 1 से 2 घंटे होता है।

10एसेब्रोफाइलाइन का संग्रहण

एसेब्रोफाइलाइन को हमेशा सीधे प्रकाश और गर्मी से दूर एक शांत और शुष्क वातावरण में रखा जाना चाहिए। कमरे का तापमान भी 15 से 30 डिग्री सेल्सियस के मध्य होना चाहिए।

 और पढो: बेप्लेक्स फोर्टडोलो 650क्रेमाफिन

11ऐसब्रोफाइललाइन लेते समय टिप्स –

  • अस्थमा या घरघराहट जैसी स्थिति में एसेब्रोफाइलाइन प्रभावी नहीं है|
  • रात में सोते समय अस्थमा के बढ़ते हुए लक्षणों से स्वयं को बचाने के लिए इस दवा का उपयोग शाम को करने की सलाह दी जाती है|
  • एसेब्रोफाइलाइन स्टेरॉयड को इनहेलर के रूप में लेना सही नहीं है लेकिन एसेब्रोफाइलाइन लेने से यह सुनिश्चित होगा कि स्टेरॉयड इनहेलर्स की खपत को आधा किया जा सकता है|
  • अपने चिकित्सक को हमेशा हृदय, गुर्दे या जिगर की बीमारियों, थायराइड ग्रंथि के विकार, जी.आई विकार या मस्तिष्क की बीमारियों के इतिहास के बारे सही रूप से बताएं|
  • अगर आपके पास ऐसे किसी भी तरह के विकारों का इतिहास है तो अपने डॉक्टर को इसके बारे में सूचित करें|
  • अपनी धूम्रपान की आदत के बारे में डॉक्टर को बताना ना भूलें|

एसिब्रोफाइललाइन का उपयोग करते समय कैफीन का सेवन कम करना चाहिए क्योंकि इसके कुछ साइड इफेक्ट्स बढ़ सकते हैं|

सामान्य प्रश्न

क्या एसेब्रोफाइलाइन नशे की लत है?

नहीं

क्या शराब के साथ एसेब्रोफाइलाइन ले सकते हैं?

अल्कोहल के साथ एसेब्रोफाइलाइन लेने के बारे में कुछ ज्ञात नहीं है फिर भी अल्कोहल के साथ लेने से पहले अपने चिकित्सक को इसकी सूचना अवश्य दें|

क्या किसी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

एसेब्रोफाइलाइन का उपभोग करते समय तम्बाकू और मारिजुआना जैसी नशीली चीज़ों से बचना चाहिए। निष्क्रिय धूम्रपान के साथ भी इसके अवांछनीय प्रभाव होने का जोखिम ज्यादा है।

क्या गर्भवती होने पर मै एसेब्रोफाइलाइन ले सकती हूँ?

अगर आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने के बारे में सोच रहे हैं तो हमेशा अपने डॉक्टर को इस बारे में सूचना दें| गर्भवती महिलाओं द्वारा को इसका उपयोग करने की सलाह  कभी नही दी जाती|

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान एसेब्रोफाइलाइन ले सकती हूँ?

यदि आप अपने बच्चे को स्तनपान करा रहे हैं तो अपने डॉक्टर को जरूर सूचित करें। बच्चे को स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस दवा का उपयोग नही करना चाहिए|

क्या मैं एसेब्रोफाइलाइन लेने के बाद ड्राइव कर सकता हूं?

यदि आप सिरदर्द, चक्कर आना, कम रक्तचाप या उनींदापन जैसे दुष्प्रभाव अनुभव करते हैं तो ड्राइव करते हुए एस्ब्रोफाइललाइन का उपभोग करना सुरक्षित नहीं है।

यदि मैं एसेब्रोफाइलाइन का प्रयोग अधिक मात्रा में करता हूं तो क्या होगा?

एसेब्रोफाइलाइन का अधिक मात्रा में प्रयोग करना जहरीले या गंभीर दुष्प्रभाव पैदा करता है। यदि आपने इसकी अधिक खुराक भी ली है तो तुरंत अपने चिकित्सक के पास जाएँ|

अगर मैं एक्सपायरी हो चुकी एसेब्रोफाइलाइन ले लूं तो क्या होगा?

किसी भी प्रतिकूल घटना को उत्पन्न करने के लिए एक्सपायरी हो चुकी एसेब्रोफाइलाइन की एक खुराक लेने से कुछ भी प्रभाव होना बहुत ही असंभव है। लेकिन यदि आपने ऐसी दवा ली है और आप अस्वस्थ या बीमार महसूस कर रहे हैं तो कृपया अपने चिकित्सक से जरूर बात करें| आपके इलाज के लिए यह दवा उतनी प्रभावशाली नहीं हो सकती| ऐसी दवा का उपयोग करने से बचने की सलाह दी जाती है।

अगर मुझे एसेब्रोफाइलाइन की खुराक लेनी याद नहीं रहती तो क्या होता है?

जैसे ही आपको इस दवा को लेना याद आये तुरंत अपनी भूली हुई खुराक ले लें| लेकिन यदि उसके बाद दूसरी खुराक लेने का समय हो गया हो तो इसकी दुगुनी खुराक न लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 + 14 =