Albendazole in Hindi अल्बेंडज़ोल: उपयोग, फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां

0
340558
albendazol fayde nuksan in hindi

Albendazole in Hindi – अल्बेंडज़ोल क्या है?

यह एंथेलमिंटिक दवाओं के समूह से संबंधित है जोकि इनफेस्टिंग  हेल्मिंटेस (परजीवी कीड़े) को मार देता है या निष्कासित कर देता है| अल्बेन्डाज़ोल परजीवी की सूक्ष्म-प्रोटीन प्रोटीन पर वार करता है जिसका कि परजीवी से  उच्च संबंध होता है| वह इसके विकास को रोकता है और मानव शरीर को नुकसान पहुंचाए बिना नष्ट कर देता है।

Albendazole Uses in Hindi – अल्बेंडज़ोल का उपयोग

यह हुकवर्म, पिनवर्म, राउंडवर्म, टैपवर्म और हाइडेटिड बीमारी की वजह से होने वाले संक्रमण की दवा है।

Also Read in English: About Albendazole 

Albendazole Price in India –भारत में अल्बेंडज़ोल का मूल्य

स्पेशिफिकअल्बेंडज़ोल का मूल्य
400 मिलीग्राम की 1 गोलियों की स्ट्रिप12.00 रुपये

How to Take Albendazole in Hindi – अल्बेंडज़ोल कैसे लें?

अल्बेंडज़ोल टैबलेट को जब मुंह से लिया जाता है तो यह अवशोषण में मदद करता है। फैटी भोजन के साथ लेने से इस दवा के अवशोषण को और भी बढ़ाया जा सकता है। इसको लेने से पहले कोई तैयारी या उपवास की जरूरत नहीं है। छोटे बच्चों का इलाज करते समय इन गोलियों को कुचलकर बहुत सारे पानी के साथ दिया जाता है। अल्बेन्डाज़ोल की खुराक रोगी के वजन और परजीवी संक्रमण के प्रकार के अनुसार भिन्न होती है।

बिना डॉक्टर की सहमति के कभी भी इसकी खुराक को लंबे समय तक इस्तेमाल न करें। यदि कोई सुधार दिखाई ना दे या लक्षण खराब लगें  तो तुरंत चिकित्सा लें। आपने इसे यदि काउंटर उत्पाद के रूप में लिया है तो इस दवा को लेने से पहले इसके पैकेज पर दिए गये सभी निर्देश पढ़ें।

Albendazole Common Dosage in Hindi – अल्बेंडज़ोल की आम खुराक?

एस्करिस, हुकवर्म, एंटरोबियस और ट्रिचुरिस: 400 मि.ग्रा. की एक खुराक (वयस्कों और 2 साल से ऊपर के बच्चों के लिए और 1 से 2 साल की उम्र के बच्चों के लिए 200 मि.ग्रा.)

न्यूरोसाइटिस्टिकोसिस: अल्बेंडाज़ोल न्यूरोसाइटिस्टिकोसिस के इलाज के लिए एंथेलमिंटिक है। 8 से15 दिन के लिए 400 मि.ग्रा. बी.डी. (15 मि.ग्रा. प्रति कि.ग्रा. प्रति दिन) के लिए तय किया जाता है।

टेपवर्म और स्ट्रांगय्लोइडओसिस: 400 मि.ग्रा. प्रतिदिन लगातार 3 दिनों के लिए।

हाइडेटिड रोग: 400 मि.ग्रा. बी.डी. 4 सप्ताह के लिए, यदि आवश्यक हो तो 2 सप्ताह बाद फिर से दोहराएं, 3 कोर्स तक। सर्जरी के बाद या पहले यह सही उपचार है।

 और पढो:क्लैवम 625|साइट्रल्का|डेरोलैक

Albendazole Precautions in Hindi – सावधानियांअल्बेंडज़ोल से कब बचें?

अल्बेंडज़ोल का उपयोग निम्न में नहीं किया जाना चाहिए:

यदि इसके किसी घटक से एलर्जी हो

  • गर्भवती महिला
  • स्तनपान
  • लिवर रोग वाले मरीज
  • गुर्दे की मध्यम से गंभीर समस्या वाले रोगी
  • शराबी
  • अस्थि मज्जा दमन से पीड़ित मरीज

और पढो: Alex Cough Syrup Benefits in HindiAllegra Benefits in Hindi

Albendazole Side-Effects in Hindi – अल्बेंडज़ोल के दुष्प्रभाव?

इसके दुष्प्रभावों में निम्न शामिल हैं:

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • सरदर्द
  • पेट में दर्द
  • बालों का अस्थायी नुकसान

बहुत कम मामलों में रोगी को गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं जैसे कि:

  • दृष्टि में बदलाव
  • गंभीर पेट दर्द
  • आंखों और त्वचा का पीलापन
  • गहरे रंग का मूत्र
  • थकावट की सामान्य समस्या
  • संग्रहन

ऐसे अवस्था में अपने डॉक्टर से बात करें|

और पढो: Alprax Benefits in HindiAristozyme Benefits in Hindi

Albendazole Effects on Organs in Hindi – अंगों पर प्रभाव?

यह दवा जिगर की समस्याओं का कारण बनती है। पहले हो चुकी जिगर की बीमारी या शराब के आदी हो चुके  रोगियों को डॉक्टर की निगरानी में और बहुत सावधानी से इस दवा का प्रयोग करना चाहिए।

Albendazole Allergic Reactions in Hindi – एलर्जी प्रतिक्रियाएं

अपने डॉक्टर को बताएं कि क्या आपको इसके किसी तत्व से एलर्जी है।

अल्बेन्डाज़ोल से एलर्जी कम ही होती है लेकिन यह निम्न लक्षण प्रदर्शित करती है: दांत,  खुजली, साँसों की कमी,  चेहरे, होंठ, जीभ, या गले की सूजन।

Albendazole Drug Interactions in Hindi – ड्रग इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

सभी संभव दवा इंटरैक्शन यहां सूचीबद्ध नहीं हो सकते हैं। आप अपने चिकित्सक को अपनी सभी दवाओं, काउंटर उत्पादों और विटामिन की खुराक के बारे में भी सूचित करें जिनको आप ले रहे हैं|

अल्बेंडज़ोल निम्न दवाओं और उत्पादों के साथ परस्पर प्रभाव डालता है|

  • क्लोज़ापाइन
  • डेक्सैमेथेसोन
  • पराज़िक्वांटल
  • कार्बामाज़ेपाइन
  • फेनीटोइन

और पढो: Ascoril Cough Syrup Benefits in Hindi

Albendazole Effects/Results in Hindi – प्रभाव और परिणाम

अल्बेंडाज़ोल लेने के बाद पहले कुछ दिनों में ही लाभ होना महसूस होने लगता है| लेकिन लक्षणों को पूरी तरह खत्म करने के लिए डॉक्टर द्वारा बताई गयी पूरी खुराक लें|

Albendazole Storage in Hindi – अल्बेंडज़ोल का भंडारण

इस दवा को कमरे के तापमान पर सीधे प्रकाश और गर्मी से बचाकर रखना चाहिए|

बच्चों और पालतू जानवरों को इस दवा से दूर रखें।

 और पढो:बेटनोवेट-सी|क्लॉप्लेट|बेकाडेक्सामाइन

Albendazole History in Hindi – अल्बेंडज़ोल कब बनाया गया था?

अल्बेंडज़ोल का आविष्कार रॉबर्ट जे. ग्यूरिक और वासिलियोस जे. थियोडोरिड्स ने किया था और 1975 में इसे पेटेंट किया था। उन्होंने 1977 में इसे ऑस्ट्रेलिया में भेड़ के लिए एंथेलमिंथिक के रूप में पेश किया था और 1 992 में पहली बार मानवीय उपयोग के लिए पंजीकृत किया था।

Albendazole Tips for Taking in Hindi – अल्बेंडज़ोल लेते समय टिप्स:

इस दवा को हमेशा वसायुक्त भोजन के साथ लेना चाहिए जो तेजी से अवशोषण करता है।

यदि रोगी पहले से ही एंटी-मिर्गीप्टिक और कॉर्टिकोस्टेरॉइड ले रहा है तो इस दवा का उपयोग सावधानी से करना चाहिए।

अल्बेंडज़ोल प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर करता है| आपके स्वास्थ्य की स्थिति की जांच करने के लिए रक्त की जांच जरूरी हो जाती है|

सामान्य प्रश्न

क्या अल्बेंडज़ोल नशे की लत है?

नहीं

क्या शराब के साथ अल्बेन्डाज़ोल ले सकते हैं?

शराब के साथ लेने के बारे में इसके प्रभाव अज्ञात हैं इसलिए लेने से पहले डॉक्टर को बताएं|

क्या किसी विशेष खाद्य पदार्थ को लेने से बचना चाहिए?

इस दवा को वसा युक्त भोजन के साथ लेने से दवा का बेहतर अवशोषण होता है| इसे खाली पेट लेने से बचना चाहिए|

क्या गर्भवती होने पर अल्बेंडाज़ोल ले सकते हैं?

गर्भवती होने पर या गर्भवती होने की योजना बनाने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें। गर्भावस्था में  अल्बेंडाज़ोल का उपयोग करने की सिफारिश नहीं की जाती क्योंकि यह गर्भ में विकसित हो रहे भ्रूण को नुकसान पहुंचाता है।

क्या बच्चे को स्तनपान करने के दौरान अल्बेंडाज़ोल ले सकते हैं?

यदि आप शिशु को स्तनपान कर रही हैं तो बिना डॉक्टर की सहमति के इस दवा का उपयोग ना करें|

क्या अल्बेंडज़ोल लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

अल्बेंडज़ोल लेने के बाद कुछ रोगियों को थोड़ा उनींदापन लगता है| इसलिए  भारी मशीनरी चलाने वाले या वाहन चलाते समय सावधानी से इसका उपयोग करें|

यदि अल्बेंडज़ोल अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?

इसे अधिक मात्र में कभी नहीं लेना चाहिए। अधिक दवा लेने से लक्षणों में सुधार होने की बजाय गंभीर साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। अधिक खुराक लेने के लक्षणों में भ्रम, फैनिंग और सांस लेने में कठिनाई आदि हैं|

यदि एक्सपायरी हो चुकी अल्बेंडज़ोल खाएं तो क्या होगा?

यह दवा कभी काम नहीं करेगी| ऐसी दवा लेने पर  अपने चिकित्सक को सूचना दें| सुरक्षित रहने के लिए एक्सपायरी दवा की जांच किये बिना उपयोग न करें।

यदि अल्बेंडाज़ोल की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होता है?

  • यदि इस दवा की खुराक लेनी याद नही रहती तो दवा अच्छी तरह से काम नहीं कर पाती क्योंकि दवा के प्रभावी रूप से काम करने के लिए शरीर में दवा की एक निश्चित मात्रा रहनी जरूरी है| इसलिए जैसे ही आपको भूली हुई दवा की याद आये तो तुरंत उस खुराक लें| लेकिन यदि दूसरी खुराक का समय हो गया हो तो दुगुनी खुराक ना लें|

Purchase From Here:

  1. 1mg Coupon Codes
  2. Medlife Coupons
  3. Netmeds Offers
  4. Pharmeasy Coupons

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 3 =