मधुमेह के लिए आंवला का रस कैसे Amla Juice for Diabetes in Hindiउपयोग करें? क्या ये सुरक्षित है?

आंवला का रस आंवले के रस से निकाला जाता है जिसे इंडियन गूसबेरी भी कहा जाता है। फ्य्ल्लान्थस एम्ब्लिका इसका वैज्ञानिक नाम है, जो पेड़ आंवला के फल पैदा करता है जो हल्के हरे और पारदर्शी होते हैं। यह आंवला पोषक तत्वों, विटामिन-सी और एंटी-ऑक्सिडेंट का एक पावरहाउस है। आंवला का रस मधुमेह जैसी स्वास्थ्य स्थितियों का इलाज कर सकता है। आंवला का रस ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित कर सकता है जो ऊर्जा के स्तर को बढ़ाते हुए मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।

Also read: Eucalyptus Oil in Hindi | Neem Oil in Hindi

How to use Amla Juice for Diabetes in Hindi-मधुमेह के लिए आंवला रस का उपयोग कैसे करें

  • आंवले के रस को ऐसे ही सेवन किया जा सकता है। लेकिन अपने अजीब स्वाद के कारण इसे अन्य फलों के रस में  या पानी के साथ मिलाकर लेने से आंवले का रस ज्यादा स्वादिष्ट हो जाता है।
  • आंवला का रस नींबू, शहद, जामुन (भारतीय ब्लैकबेरी), घृतकुमारी और करेला के साथ मिलाकर लिया जा सकता है।
  • दिन में ऊर्जा को बढ़ावा देने वाले सभी पोषक तत्वों के अवशोषण के लिए सुबह खाली पेट आंवला का रस पियें जो मधुमेह रोगियों के लिए सहायक है।
Read more: Himalaya Mentat Tablet Uses in Hindi

Is it safe to consume Amla Juice in Hindi-क्या आंवला जूस का सेवन करना सुरक्षित है?

आयुर्वेद का अभ्यास करने वाले 10 साल के अनुभव के साथ बैचलर ऑफ आयुर्वेद, मेडिसिन एंड सर्जरी (बीएएमएस) समीर गढ़िया के अनुसार मधुमेह वाले व्यक्ति रोजाना 20 मि.ली. आंवला जूस ले सकते हैं|

Also read: Himalaya Neem Face Pack के फायदे

Amla Juice Dosage in Hindi-आंवला जूस की खुराक

रोजाना 20 मि.ली. आंवला जूस पानी के साथ दिन में दो बार लिया जाता है।

Side Effects of Amla Juice in Hindi-आंवला जूस के साइड इफेक्ट्स

आंवला जूस एक बहुत ही स्वास्थ्यवर्धक खाद्य पदार्थ है और यदि ज्यादा मात्रा में इसका सेवन किया जाए तो इससे कुछ   दुष्प्रभाव हो सकते हैं| इसके होने वाले कुछ दुष्प्रभाव निम्न हो सकते हैं:

  • कब्ज
  • रूखी त्वचा
  • पेट की गैस
  • रक्त चाप
  • ब्लड शुगर
Read more: Fenugreek For Diabetes ke Nuksan
Previous articleAjwain for weight loss in Hindi वजन घटाने के लिए अजवाईन के 4 फायदे
Next articleBenefits of Eucalyptus Oil in Hindi नीलगिरी तेल (यूक्लिप्ट्स आयल) के लाभ: उपयोग, खुराक और साइड इफेक्ट्स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 − 4 =