Azithromycin in Hindi एजीथ्रोमाइसिन: उपयोग, फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां

0
74701

azithromycin fayde nuksan in hindi

1Azithromycin in Hindi – एजीथ्रोमाइसिन क्या है?

एजीथ्रोमाइसिन एक ऐसा एंटीबायोटिक है जो मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक्स की कक्षा से संबंधित है| यह बैक्टीरिया में आवश्यक प्रोटीन के संश्लेषण में हस्तक्षेप करके जीवाणु के विकास को पूरी तरह समाप्त कर देता है|

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: 1 एमजीप्रैक्टो

2Azithromycin Uses in Hindi – एजीथ्रोमाइसिन का उपयोग

बैक्टीरिया से होने वाले संक्रमणों के इलाज के लिए इसका उपयोग किया जाता है जैसे टान्सिल, साइनस, त्वचा, कान, नाक, और गले में संक्रमण, श्वसन पथ और फेफड़ों (निमोनिया) में संक्रमण।

Also Read in English: About Azithromycin 

3How to Take Azithromycin in Hindi – एजीथ्रोमाइसिन कैसे लें?

  • एजीथ्रोमाइसिन गोलियों और सस्पेंशन के रूप में मिलती है जिसको मुंह से, आंखों की बूंदों और इंजेक्शन के रूप में लिया जा सकता है। इसके हर फॉर्मूला को यहां सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता|
  • एजीथ्रोमाइसिन की गोलियाँ और सिरप डॉक्टर के निर्देशानुसार मुंह के द्वारा पानी के साथ लिया जाता है और इसे प्रतिदिन भोजन के साथ या भोजन के बाद भी ले सकते हैं| अच्छे परिणामों के लिए एजीथ्रोमाइसिन को समान समय के अंतराल पर लेना चाहिए।
  • दवा को समान रूप से मिलाकर लेने के लिए लेने से पहले सिरप को अच्छी तरह से हिला लें| इस दवा को सही मात्रा में लेने के लिए नापने वाले चम्मच का प्रयोग करें।
  • एजीथ्रोमाइसिन आंखों की बूंदें: पहले 2 दिन प्रभावित आंख में एक बूंद डाली जाती है और उसके बाद प्रतिदिन एक बूंद अगले 5 दिनों के लिए|
  • चाहे सारे लक्षण पूरी तरह खत्म हो जाएँ लेकिन एजिथ्रोमाइसिन को लेना तब तक जारी रखें जब तक कि पूरी खुराक खत्म ना हो जाए|
  • आपको फार्मासिस्ट द्वारा प्रदान किये गये रोगी सूचना पत्रक को पढ़कर आगे के प्रश्नों को अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से पूछना चाहिए।
Read more: Azee 500 in hindi | Cefuroxime in hindi | Dexorange in hindi

4Azithromycin Common Dosage in Hindi – एजीथ्रोमाइसिन की सामान्य खुराक

इस दवा की खुराक और लेने का तरीका चिकित्सक द्वारा निम्न बातों को ध्यान में रखते हुए तय किया जाता है:

  • रोगी की आयु और उसके शरीर का वजन
  • रोगी के स्वास्थ्य की स्थिति और चिकित्सा की स्थिति
  • रोग की गंभीरता
  • पहली खुराक लेने पर प्रतिक्रिया
  • एलर्जी और दवा की प्रतिक्रियाओं का इतिहास

5Azithromycin Composition in Hindi – गोलियाँ और सस्पेंशन

वयस्कों के लिए: 3 दिन के लिए 500 मि.ग्रा. प्रतिदिन। चिकित्सक पहले दिन से 500 मि.ग्रा. एक खुराक के रूप में निर्धारित करता है और इसके बाद अगले 4 दिनों के लिए 250 मि.ग्रा. प्रतिदिन)

बच्चों के लिए खुराक: 5 मि.ग्रा. से 20 मि.ग्रा. प्रतिदिन और यह बच्चे के वजन के आधार पर 3 से 5 दिनों के लिए ली जाती है|

6Azithromycin Precautions in Hindi – सावधानियां – एजीथ्रोमाइसिन से कब बचें?

एजीथ्रोमाइसिन   500 वायरल संक्रमण (जैसे फ्लू, सामान्य सर्दी) में काम नहीं करता|

इस एंटीबायोटिक का अनावश्यक रूप से उपयोग ना करें क्योंकि इससे इसकी प्रभावकारिता में कमी आ जाती है|

7Azithromycin Side-Effects in Hindi – एजीथ्रोमाइसिन के दुष्प्रभाव?

  • दस्त
  • जी मिचलाना
  • ऊपरी पेट का दर्द
  • उल्टी
  • छाती के दर्द के साथ सिरदर्द
  • चक्कर आना
  • बेहोशी
  • तेज़ दिल की धड़कन
  • बुखार
  • गले में खरास
  • गहरे रंग का मूत्र
  • मिट्टी के रंग का मल
  • पीलिया
  • खुजली
  • चेहरे, गले, जीभ, होंठ, आंखें, हाथ, पैर, टखने, या निचले पैर की सूजन
  • बेहद थकावट
  • असामान्य मांसपेशियों की कमजोरी
  • मांसपेशियों के नियंत्रण में कठिनाई
  • गुलाबी और सूजी हुई आंखें
  • लंबे समय तक इसके उपयोग से यह स्यूडोमब्रब्रोनस कोलाइटिस का कारण बनता है|

8Azithromycin Effects on Organs in Hindi – अंगों पर प्रभाव?

जिगर पर होने वाले इसके कुछ मुख्य प्रभाव इस प्रकार हैं –

  • जांडिस (आंखों और त्वचा का पीलापन)
  • पेट में दर्द
  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • बुखार
  • गंभीर थकान
  • गहरे रंग का मूत्र
  • जिगर के एंजाइमों का बढ़ा हुआ स्तर

गुर्दे की जटिलताओं के लक्षण हैं –

  • धातु जैसा स्वाद
  • मतली, उल्टी
  • सूजन
  • थकान
  • मूत्र में परिवर्तन
  • त्वचा पर खुजली और चकत्ते
  • चक्कर आना, सांस लेने में तकलीफ
  • पैरों में दर्द

9Azithromycin Allergic Reactions in Hindi – एलर्जी प्रतिक्रियाओं की सूचना

इससे होने वाली संभावित एलर्जी प्रतिक्रियाएं हैं:

  • चकत्ते
  • सांस लेने या निगलने में कठिनाई
  • सूजन
  • स्वर बैठना
  • संश्लेषण

10Azithromycin Drug Interactions in Hindi – दवा इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

उन सभी दवाओं की सूची यहाँ नही दी जा सकती जिनके साथ इंटरैक्शन हो सकता है| इसलिए रोगी को अपने चिकित्सक को उन सभी दवाओं और उत्पादों के बारे में बता देना चाहिए जिनका आप उपयोग कर रहे हैं जैसे कि खून पतला करने वाली दवाएं- वॉरफारिन, कोऊमाडीन

यदि आप लंबे समय से, क्विनिन ले रहे हैं तो भी अपने डॉक्टर को बताएं|

मैग्नीशियम या एल्यूमीनियम वाले एंटासिड्स भी शरीर में एजीथ्रोमाइसिन के प्रभाव को कम कर देते हैं। इसलिए इसे एजीथ्रोमाइसिन लेने से 2 घंटे पहले या बाद में लेना चाहिए।

जब तक डॉक्टर आपको न बोले तब तक एजीथ्रोमाइसिन का उपयोग करते समय कोई टीका नहीं लगवाना चाहिए।

उन हर्बल उत्पादों के बारे में भी आपको अपने डॉक्टर को बताना चाहिए जिनका आप सेवन कर रहे हैं। बिना अपने डॉक्टर की मंजूरी के दवा के किसी भी नियम में संशोधन नहीं करना चाहिए|

Read more: Augmentin in hindi | Cefoperazone in hindi | Cetzine in hindi

11Azithromycin Effects/Results in Hindi – प्रभाव और परिणाम

जब आप एजीथ्रोमाइसिन लेना शुरू करते हैं तो पहले कुछ दिनों में ही प्रभाव दिखना शुरू हो जाता है| लेकिन फिर भी अपने डॉक्टर द्वारा बताई गयी पूरी खुराक लें ताकि आपके शरीर से संक्रमण पूरी तरह खत्म हो जाए|

12Azithromycin Tips for Taking in Hindi – एजीथ्रोमाइसिन लेते समय टिप्स –

अगर आपको एजीथ्रोमाइसिन, स्पष्टीथ्रोमाइसिन, डिरिथ्रोमाइसिन, एरिथ्रोमाइसिन या एजीथ्रोमाइसिन टैबलेट या सस्पेंशन  के किसी भी घटक से एलर्जी हो  तो हमेशा डॉक्टर को इसकी सूचना दें|

अगर आपको कभी भी जिथिस या कोई अन्य जिगर की समस्या हो तो एजीथ्रोमाइसिन लेने से पहले अपनी बीमारी का इतिहास अपने डॉक्टर को बताएं|

यदि आपको या आपके परिवार में किसी को भी अनियमित दिल की धड़कन, हार्ट फेल या अचानक मौत या फिर रक्त संक्रमण, सिस्टिक फाइब्रोसिस, मायास्थेनिया ग्रेविस, गुर्दे या जिगर की बीमारी का इतिहास हो तो अपने डॉक्टर को इस बात की सूचना दें|

यदि एजीथ्रोमाइसिन लेने के एक घंटे के भीतर ही उल्टी होने लगे  तो तुरंत अपने डॉक्टर के पास जाएँ|

सामान्य प्रश्न

क्या एजीथ्रोमाइसिन नशे की लत है?

नहीं

क्या शराब के साथ एजीथ्रोमाइसिन ले सकते हैं?

शराब अस्थायी रूप से जिगर को हानि पहुंचा सकती है जिससे एजीथ्रोमाइसिन   500 के साइड इफेक्ट्स में और भी बढ़ोतरी  हो सकती है| इसलिए शरीर पर अल्कोहल के कारण दुष्प्रभाव बढने की संभावना बढ़ जाती है

क्या किसी भी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

नहीं

क्या गर्भवती होने पर एजीथ्रोमाइसिन ले सकते हैं?

यदि आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने के बारे में सोच रही हैं तो अपने डॉक्टर को इसकी सूचना दें|

गर्भावस्था में एजीथ्रोमाइसिन के उपयोग पर बहुत कम शोध हुए हैं लेकिन इस शोध से गर्भावस्था में एजीथ्रोमाइसिन के किसी भी हानिकारक प्रभाव का संकेत नहीं है| फिर भी एजीथ्रोमाइसिन का गर्भावस्था के दौरान प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए|

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान एजीथ्रोमाइसिन ले सकते हैं?

यदि आप बच्चे को स्तनपान करा रहे हैं तो इसकी सूचना अपने डॉक्टर को अवश्य दें| हलांकि इस बात का कोई सबूत नहीं के है कि मानव स्तन दूध में एजीथ्रोमाइसिन उत्सर्जित हो सकता है

क्या एजीथ्रोमाइसिन लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

अध्ययनों से पता चलता है कि एजीथ्रोमाइसिन कुछ लोगों में विकलांग ड्राइविंग क्षमता का कारण बन सकती है, खासकर 60 साल से अधिक उम्र की महिलाएं जो 2 से 5 साल से अधिक समय से दवा पर रही हैं|

यदि एजीथ्रोमाइसिन अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?

एजीथ्रोमाइसिन अधिक मात्रा में लेने से अनियमित हृदय गति या जिगर के नुकसान का कारण बन सकती है| यदि आपने भी ज्यादा खुराक ले ली है तो सलाह तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें|

यदि एक्सपायरी हो चुकी एजीथ्रोमाइसिन खाएं तो क्या होगा?

यह एंटीबायोटिक काम नहीं करेगा इसलिए अपने चिकित्सक को इसके बारे में बताएं|

यदि एजीथ्रोमाइसिन की खुराक लेना याद न रहे तो क्या होता है?

यदि खुराक लेना याद ना रहे तो यह दवा अच्छी तरह से काम नहीं करेगी क्योंकि दवा के प्रभावी रूप से काम करने के लिए शरीर में दवा की निश्चित मात्रा रहनी चाहिए| जैसे ही भूली हुई दवा याद आये तुरंत इसकी खुराक ले लें| यदि दूसरी खुराक लेने का समय हो गया हो तो दुगुनी खुराक ना लें|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × five =