All About Castor Oil in Hindi कैस्टर ऑयल के बारे में: लाभ, उपयोग, खुराक और साइड इफेक्ट्स

0
283
All About Castor Oil in Hindi कैस्टर ऑयल के बारे में: लाभ, उपयोग, खुराक और साइड इफेक्ट्स

Table of Contents

What is Castor Oil in Hindi – कैस्टर ऑयल क्या है

अरंडी का तेल लगभग सभी बीमारियों के लिए एक सरल घरेलू उपाय के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। अरंडी का तेल एक लोकप्रिय वनस्पति तेल है जिसके कई उपयोग और लाभ हैं। अफ्रीका और भारत के मूल निवासी, यह बहुउद्देशीय तेल अरंडी के पौधे (रिकिनस कम्युनिस) के बीज को दबाकर तैयार किया जाता है। अरंडी का तेल विभिन्न सौंदर्य प्रसाधनों, टॉयलेटरीज़, कपड़े, तेलों के साथ-साथ दवाओं में एक महत्वपूर्ण जैव केंद्रित स्टार्टर में मुख्य तत्व है।

Castor Oil Properties in Hindi – अरंडी के तेल के गुण

  • हल्के पीले रंग से रंगहीन तरल तक
  • अद्वितीय स्वाद और गंध
  • बोइलिंग पॉइंट 313 डिग्री सें.ग्रे. है
  • डेंसिटी 961 कि.ग्रा. / एम 3 है
  • ट्राइग्लिसराइड राइसिनोलेट्स के प्रतिशत के साथ ओलियट और लिनोलेट अन्य महत्वपूर्ण तत्व हैं।
  • एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल
  • एंटी-इंफ्लेमेटरी और दर्द से आराम दिलाये
  • प्रसव को तेज़ करता है
  • प्रतिरक्षा और लसीका प्रणाली को उत्तेजित करता है
  • हाइड्रेट के रूप में काम करता है
  • लेक्सेटिव के रूप में काम करता है

Benefits of Castor Oil for Hair in Hindi – बालों के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे

बालों के लिए कैस्टर ऑयल के कई फायदे हैं। कैस्टर ऑयल बालों से संबंधित मुद्दों को हल करता है जैसे कि स्कैल्प के इन्फेक्शन, डैंड्रफ, बालों का गिरना आदि। अरंडी के तेल की उच्च प्रोटीन सामग्री बालों के पोषण को बनाए रखने के लिए इसे आदर्श बनाती है।

रूसी

अरंडी का तेल रूसी का इलाज करता है जिसका मुख्य कारण तैलीय सिर की त्वचा होती है। तेल की उच्च राइसिनोलिक की एसिड सामग्री रूसी के विकास के लिए एक प्रतिकूल वातावरण बनाने में सिर की त्वचा के पी.एच को संतुलित करता है।

स्प्लिट एंड्स

अरंडी का तेल बाल की शाफ्ट में केराटिन की मरम्मत करता है। यह बालों के विभाजित सिरों और टूटने के लिए अधिक लचीला बनाता है जिससे यह और अधिक फैलता है।

बालों का झड़ना

अरंडी का तेल बालों की शाफ्ट की परिधीय परत को भेदकर बालों के झड़ने को कम करने में मदद करता है जिससे बाल अधिक घने और मजबूत होते हैं।

बालों की बनावट मोटी, गहरी और चमकदार करे

कैस्टर ऑयल एक प्राकृतिक कंडीशनर के रूप में काम करता है। यह बालों को नमी के नुकसान से बचाता है और उन्हें चिकना करता है। इसके इलावा अरंडी के तेल का सुरक्षात्मक कोट बालों को अधिक चमकदार बनाता है।

हेयरफॉल और हेयर रीग्रोथ

आज की तेज रफ्तार जीवनशैली और पर्यावरण प्रदूषक कहर बालों की सेहत से खिलवाड़ करते हैं। अरंडी का तेल बालों के झड़ने को गिरफ्तार करने और बाल के दोबारा बढने का समर्थन करने के काम आता है। इस तेल में मौजूद रिसीनोलेइक एसिड सामग्री खून के बहाव में सुधार करती है। यह बालों के झड़ने को कम करने में रोमकूप और खोपड़ी के स्वास्थ्य की बहाली में सक्षम बनाता है। यह तैलीय सिर की त्वचा को पोषण देता है, रोगाणुओं के खिलाफ ढाल देता है और बालों की जड़ों को मजबूत करता है।

अरंडी के तेल में विटामिन-ई होता है जिसमें एंटी-ऑक्सिडेंट गुण होते हैं जो बालों के रोम को मरम्मत करने और बहाल करने में मदद करते हैं जिससे बाद में बाल बढ़ते हैं|

इस तेल में मौजूद उच्च प्रोटीन तत्व बालों में प्रवेश करता है और इसे पोषण देता है। यह बालों के स्वास्थ्य को दोबारा स्थापित करता है और बालों के बढने को प्रोत्साहित करता है।

Benefits of Castor Oil for Eyelashes in Hindi – पलकों के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे

अरंडी के तेल के सभी उपरोक्त लाभ बालों के झड़ने और साथ ही लंबी और आकर्षक पलकों के लिए भी है।

  • आप अरंडी के तेल का उपयोग करके रासायनिक काजल से छुटकारा पा सकते हैं|
  • कम लागत वाला अरंडी का तेल सौंदर्य उपचार के साथ लंबा, मोटा और स्वस्थ पलकें देता है|

आप अरंडी के तेल को ग्लिसरीन और अंडे की सफेदी, अरंडी का तेल और जैतून का तेल, अरंडी का तेल और मीठे बादाम का तेल मिलाकर पलकों के लिए सीरम बना सकते हैं।

Benefits of Castor Oil for Eyebrows in Hindi – आइब्रो के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे

यदि आपकी भौहें भी पतली हैं तो इनका मोटा और चमकदार होना एक फैशन है जो लंबे समय तक रहता है| अरंडी का तेल पतले भूरे रंग की भौहों को घना करने में मदद करता है।

  • कैस्टर ऑयल प्रोटीन और खनिज सामग्री से भरपूर होने के साथ-साथ इसमें प्रचुर मात्रा में राइसिनोइक्लिक एसिड होता है जो वॉल्यूम को बढ़ाता है।
  • इसमें मौजूद पोषक तत्व निष्क्रिय बालों के रोमकूपों को उत्तेजित करते हैं, उन्हें पोषण देते हैं और स्वस्थ बालों को फिर से बढ़ाते हैं।
  • पतले आइब्रो शेविंग,वैक्सिंग के कारण हो सकते हैं। यह अरंडी के तेल को भौंहों पर लगाने से उलटा हो सकता है।

पलकों के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है। अरंडी का तेल आंखों के लिए भी बहुत ही उपयोगी  है।

Benefits of Castor Oil for Beard Growth in Hindi – दाढ़ी बढाने के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे

यह एक सर्वविदित तथ्य है कि अरंडी का तेल बालों को बढ़ाता है, बालों को घना करता है और साथ ही बालों के रोमकूपों की गतिविधियों को बढ़ावा देता है। तो कोई यह तर्क देता है कि दाढ़ी को संवारने के लिए भी यही तर्क लागू किया जाता है।

ऑर्गेनिक कैस्टर ऑयल का उपयोग दाढ़ी पर लगाने के लिए किया जाता है। बढ़े हुए पोषण, कोमलता और तेज अवशोषण जैसे अतिरिक्त लाभों के लिए, अरंडी के तेल को जोजोबा तेल, जैतून का तेल और बादाम के तेल के साथ मिलाया जा सकता है।

Benefits of Castor Oil for Face in Hindi – चेहरे के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे

मुँहासे

अरंडी के तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। यह बैक्टीरिया के विकास को कम करने और बाद में इन्फेक्शन से लड़ने में मदद करता है जो मुँहासे का कारण बनता है। चेहरे पर कैस्टर ऑयल लगाने से मुंहासे का बढ़ना काफी हद तक कम होता है।

चेहरे की त्वचा की बनावट

कैस्टर ऑयल के फैटी एसिड त्वचा की बनावट के गुणों जैसे कि चिकनाई और कोमलता को बेहतर बनाने में मदद करते हैं|

रंग

स्वस्थ त्वचा के ऊतकों के बढने के लिए अरंडी के तेल में निहित फैटी एसिड से सुगम होती है। असमान और बेजान त्वचा की गुणवत्ता काफी हद तक बहाल है।

संवेदनशील त्वचा

ब्लैकहेड्स के बारे में चिंता करने की जरूरत के बिना चेहरे की संवेदनशील त्वचा पर अरंडी का तेल लगाया जाता है। अरंडी का तेल एक नगण्य कॉमेडोजेनिक स्कोर है जिससे यह त्वचा के छिद्रों में रूकावट डालने की संभावना नहीं है। अरंडी के तेल के चेहरे के लिए काफी लाभ हैं और यह आपको एक साफ़ रंगत हासिल करने में मदद करता है। यह चेहरे की त्वचा को भी जवां बनाता है।

Benefits of Castor Oil for Skin in Hindi – त्वचा के लिए कैस्टर ऑयल के फायदे

त्वचा का इलाज करें

अरंडी के तेल में मौजूद रिकिनोइलिक एसिड में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो त्वचा का इलाज करते हैं। इसके रोगाणुरोधी गुण त्वचा को हानिकारक रोगजनकों से बचाते हैं।

मॉइस्चराइज और हाइड्रेट करे

अरंडी के तेल में मौजूद ट्राइग्लिसराइड्स रूखी  त्वचा के खिलाफ नमी को बनाए रखने में मदद करते हैं। इसी तरह कैस्टर ऑयल के नमी खींचने के गुण त्वचा को हाइड्रेट रखते हैं।

सफाई

अरंडी के तेल में पाए जाने वाले ट्राइग्लिसराइड्स में क्लींजिंग के गुण होते हैं और यह रोज़ाना की गंदगी को हटाने में मदद करते हैं।

अरंडी के तेल को पूरी तरह से अवशोषित करने में त्वचा को थोड़ी देर लगती है। यदि अरंडी का तेल अन्य तेलों जैसे जैतून का तेल या मूंगफली के तेल से 50:50 मिलकर पतला करें|

Castor Oil Benefits for your Health in Hindi – अरंडी के तेल के स्वास्थ्य के लिए लाभ

त्वचा और बालों के लाभों के अलावा, अरंडी के तेल के विभिन्न औषधीय और चिकित्सीय लाभ हैं:

  • इम्यूनिटी बूस्टर है|
  • लसीका प्रणाली का समर्थन करता है|
  • मल्टीपल स्केलेरोसिस, पार्किंसंस रोग और सेरेब्रल पाल्सी जैसी बड़ी बीमारियों के इलाज में मददगार है|
  • वायरस, बैक्टीरिया, नए नए साँचे और खमीर के प्रसार को नियंत्रित करता है|
  • त्वचा की सूजन कम करता है|
  • दाद, केराटॉसेस, अबराशंस और फंगल छूत को खत्म करता है|
  • खून के बहाव को बढ़ावा देता है|
  • मोल्स और सिस्ट को भंग करने में मदद करता है|
  • माइग्रेन से आराम दिलाने में मदद करता है|
  • मासिक धर्म संबंधी विकारों में सहायक है|
  • नेत्र संक्रमण
  • इसमें लेक्सेटिव गुण होते हैं जो कब्ज से आराम दिलाने में मदद करते हैं|
  • जोड़ों के दर्द से आराम देता है और गठिया के लक्षणों का इलाज और कम करने में मदद करता है|

Uses of Castor Oil in Hindi – अरंडी के तेल के उपयोग

  • प्राकृतिक क्यूटिकल तेल
  • क्लीन्ज़र और मॉइस्चराइज़र
  • होंठों की प्राकृतिक बाम
  • खुजली से राहत
  • चिकनाई देने वाली धातु
  • मुंह के छाले

How to Use Castor Oil in Hindi – कैस्टर ऑयल का उपयोग कैसे करें

अरंडी के तेल की अजीब गंध और घनी संरचना इसे कई लोगों के लिए अनुपयुक्त बनाती है। इस मुद्दे को अन्य तेलों जैसे नारियल तेल, एलो वेरा तेल, पेपरमिंट तेल, बादाम तेल, एवोकैडो तेल आदि के साथ अरंडी के तेल का उपयोग किया जा सकता है।

चेहरे पर

अरंडी के तेल में सफाई और मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो चेहरे की त्वचा पर अद्भुत काम करते हैं|

कैसे लगायें:

  • अरंडी के तेल का एक बड़ा चम्मच मिलाएं और इसे जैतून के तेल के साथ मिलाएं|
  • इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं और कुछ मिनट के लिए मालिश करें ताकि त्वचा इसे अवशोषित करने में सक्षम हो|
  • एक कपड़े को गुनगुने पानी में भिगोएँ और इसे चेहरे पर लगाएं। एक मिनट के लिए चेहरे पर इस कपड़े को छोड़ दें और फिर से यह प्रक्रिया दोहराएं|
  • कपड़े से चेहरे को स्क्रब करें|
  • चेहरे को थोड़े ठंडे पानी से धोएं और एक अच्छा फेशियल टोनर लगाएं|
  • चेहरे की त्वचा की बनावट में किसी भी बदलाव को नोटिस करने के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में तीन बार लगाना चाहिए।

बालों पर

कैसे लगायें:

  • अपनी हथेली में लगभग 1 कप अरंडी का तेल लें और इसे अपने बालों की जड़ों से लेकर सिरों तक अच्छे से मालिश करें। अरंडी का तेल अन्य तेलों की तुलना में चिपचिपा होता है और इसलिए इसे धोना मुश्किल होता है। इसलिए बहुत अधिक तेल का उपयोग न करें|
  • आदर्श रूप से इसे रात भर छोड़ देना चाहिए, लेकिन तेल को अवशोषित करने के लिए न्यूनतम 15 से 20 मिनट छोड़ दें|
  • इसकी घनी स्थिरता के कारण यह अरंडी के तेल से बालों को धोने का काम होता है। आप अपने बालों को कंडीशन कर सकती हैं और फिर लगभग 30 मिनट बाद शॉवर ले सकती हैं। इससे तेल आसानी से उतर सकेगा
  • सूखे धुले बालों को तौलिए और बालों को धोने के बाद किसी भी हीट स्टाइलिंग गैजेट्स के इस्तेमाल से बचें|
  • यह उपचार नम बालों पर सबसे अच्छा काम करता है।

मुंह द्वारा सेवन करें

  • यदि इसे खाली पेट लिया जाए तो कैस्टर ऑयल अधिक प्रभावी होता है|
  • इसे मुंह द्वारा लिए जाने पर वयस्कों के लिए इसकी खुराक 15 मि.ली. है|
  • अरंडी का तेल स्वाद में अच्छा नहीं होता|
  • इसके स्वाद को ठीक करने के लिए कम से कम एक घंटे के लिए अरंडी के तेल को ठंडा करने की सलाह दी जाती है। फिर आप इसे एक गिलास फलों के रस में मिला सकते हैं।
  • फ्लेवर्ड कैस्टर ऑयल भी बाजार में मिलता है और इसी उद्देश्य को पूरा करता है।

Castor Oil Dosage in Hindi – अरंडी के तेल की खुराक: यह कितना सुरक्षित है?

कैस्टर ऑयल प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला एक तत्व है और आमतौर पर इसका सेवन करना सुरक्षित माना जाता है। लेकिन इसको अधिक मात्रा में लेने से खराबी हो सकती है।

Possible Side Effects of Castor Oil in Hindi – कैस्टर ऑयल के दुष्प्रभाव

कैस्टर ऑयल का आमतौर पर गंभीर दुष्प्रभाव नहीं होता। लेकिन पेट में ऐंठन, मतली या कमजोरी का अनुभव होता है। इन लक्षणों के बिगड़ने पर आपको तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

अरंडी का तेल लेने से किसी गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया का होना दुर्लभ है। लेकिन एलर्जी की प्रतिक्रिया के लक्षण जैसे कि दाने, सूजन, गंभीर चक्कर आना और सांस लेने में तकलीफ हो तो तुरंत डॉक्टर को सूचित करना चाहिए।

Precautions to Account Before Castor oil consumption in Hindi – अरंडी का तेल लेने से पहले सावधानियां

  • गर्भावस्था के दौरान कैस्टर ऑयल लेने की सलाह नहीं दी जाती|
  • यदि आपको कोई एलर्जी है या कैस्टर ऑयल से एलर्जी है तो डॉक्टर से सलाह लें|
  • कैस्टर ऑयल लेने से पहले एपेंडिसाइटिस के रोगियों को विशेष रूप से सावधान रहना चाहिए|
  • सर्जिकल प्रक्रिया से गुजरने से पहले डॉक्टर को उन सभी दवाओं और हर्बल उत्पादों के बारे में बताना उचित होगा जिनका आप उपयोग करते हैं|

Castor Oil: A Buyers Guide in Hindi – अरंडी का तेल: खरीदने के लिए गाइड

अरंडी के तेल के उत्पादों के प्रकार

जमैका ब्लैक कैस्टर ऑयल: मुँहासे में कमी और सिर की त्वचा की सफाई के लिए फायदेमंद|

हाइड्रोजनीकृत कैस्टर ऑयल: वैक्स, मोमबत्तियां और क्रेयॉन, पेपर कोटिंग्स और ग्रीस निर्माण की तैयारी के लिए उपयोगी|

केमिकल एक्सट्रैक्टेड कैस्टर ऑयल: यह एक कम गुणवत्ता वाला तेल है जिसमें सॉल्वेंट अशुद्धियाँ जैसे कि हेप्टेन और हेक्सेन शामिल हैं|

कोल्ड प्रेस्ड कैस्टर ऑयल: ऑर्गेनिक कैस्टर सीड्स को दबाकर बनाया गया सबसे फायदेमंद कैस्टर ऑयल है|

कहॉ से खरीदें?

आप अरंडी के तेल के उत्पादों को खरीदते समय पैसे बचाने के लिए फ्लिपकार्ट कूपन, पर्पल कूपन, अमेज़न इंडिया और स्नैपडील कूपन का उपयोग कर सकते हैं।

कास्टर ऑयल बेचने वाले बेस्ट ब्रांड्स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten − 3 =