तैलीय त्वचा के लिए 10 बेस्ट फेस-वाश ( Best Face Wash for Oily Skin in Hindi)

0
3091

Best Face Wash for Oily Skin in Hindi

तैलीय त्वचा वाले लोगों को फेस वाश का चुनाव बुद्धिमानी से करना पड़ता है क्योंकि ज्यादा रसायन त्वचा पर मुँहासे पैदा कर सकते हैं। रोम-छिद्रों को बंद करके ब्लैकहेड और व्हाइटहेड का कारण बन सकते हैं। यदि आपकी त्वचा तैलीय है और आप सही फेस-वाश की तलाश में हैं तो कैशकरो ने आपके लिए शोध किया है। यहाँ हमने ऐसे फेस-वाश की सूची बनाई है जो तैलीय त्वचा के लिए सबसे अच्छे परिणाम देते हैं| इन फेस-वाश की सामग्री, मूल्य और लोकप्रियता के आधार पर इनका मूल्यांकन किया जाता है।

1भारत में तैलीय त्वचा के लिए 10 सर्वश्रेष्ठ फेस वॉश की सूची

21. पतंजलि लेमन हनी फेस-वाश

इसमें मौजूद नींबू मुँहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर देता है और शहद त्वचा के पी.एच स्तर में संतुलन रखता है।

पक्ष में

  • हर्बल और साबुन रहित है
  • इसमें मौजूद नीम, तुलसी और एलो वेरा त्वचा को पोषण देकर उसकी गुणवत्ता सुधारते हैं
  • मुहांसे होने से रोकता है
  • इसकी महक बहुत अच्छी है
  • ट्यूब की पैकेजिंग में आता है

विपक्ष में

रूखी त्वचा के लिए यह सही नहीं है

 और पढो: बेस्ट मॉइस्चराइज़र पुरुषों के लिएबेस्ट साबुन पुरुषों के लिए

32. हिमालय आयल क्लियर लेमन फोमिंग फेस-वाश

इस फेस वाश में नींबू और शहद होता है जो एसट्रिजेंट के रूप में काम करता है| यह मुहांसों और मुहांसों  के निशान हटाकर त्वचा को मुलायम कर देता है। यह त्वचा को चिकनी और बेदाग़ बनाने के लिए तेल के उत्पादन को भी नियंत्रित रखता है।

पक्ष में

  • त्वचा से अतिरिक्त तेल हटाये
  • इसमें मौजूद माइक्रोग्रनुअल्स त्वचा को कोमल बनाएं
  • इसमें ताज़ा नींबू की खुशबू है
  • यह सस्ता है
  • दाग-धब्बों को हटाये

विपक्ष में

इसके प्रयोग से त्वचा सूख सकती हैं इसलिए धोने के बाद मॉइस्चराइज़र का प्रयोग करें

43. न्यूटोजेना प्योर माइल्ड फेशिअल क्लीनसर

यह खुशबू रहित, तेल रहित, फेस-वाश धीरे-धीरे त्वचा से अतिरिक्त तेल को निकाल देता है। इसमें मौजूद ग्लिसरीन त्वचा को नरम और चिकना बनाती है।

पक्ष में

  • गैर-कॉमेडोजेनिक है (रोम-छिद्र बंद नहीं करता)
  • हाइपोएलर्जिक है
  • त्वचा पर हलका है
  • संवेदनशील त्वचा के लिए सही है
  • पंप वाले डिस्पेंसर में मिलता है
  • त्वचा को सूखा या खिंचा हुआ नहीं बनाता

विपक्ष में

अच्छी झाग नही बनाता

54. डव ब्यूटी मोइस्चर फेस-वाश

यह फेसवाश साइट्रिक एसिड से भरपूर है जो रोम-छिद्रों से गंदगी साफ़ करते समय अतिरिक्त तेल भी निकाल देता है। इसमें मॉइस्चराइज करने के लिए बिना तेल का मॉइस्चराइजिंग दूध भी होता है|

पक्ष में

  • चेहरे को साफ-सुथरा करे
  • त्वचा को सुखाये नहीं
  • इसकी खुशबू अच्छी है
  • त्वचा को नरम और मुलायम रखे
  • अच्छी झाग बनाये

विपक्ष में

इसमें रसायन और पैरबिन मौजूद हैं

65. सेटाफिल डेली फेशिअल क्लेन्सेर

यह फेसवॉश गंध-रहित है एंटी-कॉमेडोजेनिक है जिसके कारण यह त्वचा को नरम और बेदाग़ करने के लिए जाना जाता है।

पक्ष में

  • त्वचा की अच्छी तरह से सफाई करे
  • त्वचा के पी.एच संतुलन को बनाए रखे
  • मुँहासे होने से रोके
  • त्वचा के लिए मुलायम

विपक्ष में

  • इसमें दवाइयों जैसी गंध है
  • अच्छी झाग नहीं बनाता
 और पढो: बेस्ट सनस्क्रीनबेस्ट बॉडी लोशन

76. लोटस हर्बल टी-ट्री फेस वॉश

टी-ट्री आयल एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-एक्ने और एंटी-ऑक्सीडेंट होता है जो त्वचा संक्रमण से लड़कर मुँहासे कम करता है। चाय के पेड़ के तेल के इलावा इसमें दालचीनी और ओक की छाल होते हैं जो एक एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में काम करते हैं|

पक्ष में

  • इसे सक्रिय तत्व त्वचा से अतिरिक्त तेल को निकालें|
  • त्वचा के प्राकृतिक तेलों को सुरक्षित रखते हुए इसकी रक्षा करे|
  • त्वचा को सुखाता नहीं|
  • हल्की सुगंध लिए हुए है|
  • यह जेल त्वचा के लिए कोमल है
  • साबुन-रहित है

विपक्ष में

ज्यादा शुष्क त्वचा के लिए सही नहीं है

87. वीएलसीसी एक्ने केयर आयल कण्ट्रोल फेस-वाश

इस फेस-वाश में लौंग और मेन्थॉल है जो त्वचा को ताज़ा करके के तेल उत्पादन को नियंत्रित करता है। इसमें मौजूद सैलिसिलिक एसिड मुहांसों को नियंत्रित करता है।

पक्ष में

  • चेहरे से सारी गंदगी हटाये
  • अच्छी झाग बनाए
  • लम्बे समय के लिए चेहरे का तेल रहित रखे
  • मुँहासे होने से रोके
  • त्वचा को सुखाये नहीं

विपक्ष में

  • इसमें लौंग की तेज़ गंध है
  • एस.एल.एस युक्त है
  • संवेदनशील त्वचा के लिए सही नहीं है

98. लक्मे स्ट्रॉबेरी क्रीम फेस-वाश

इस फेस-वाश में हरी चाय का अर्क होता है जो रोम- छिद्रों से गंदगी और अशुद्धियों को दूर रखता है|

पक्ष में

  • अतिरिक्त तेल हटाये
  • मुँहासे, ब्लैकहेड और व्हाइटहेड को रोककर रोम-छिद्र साफ़ करे
  • त्वचा को साफ़ और मैट फिनिश दे
  • हलके मेकअप को हटा दे
  • त्वचा नरम और हाइड्रेट रखे
  • त्वचा पर चिकनाई ना छोड़े
  • ट्यूब की पैकेजिंग में मिलता है

विपक्ष में

एस.एल.एस मौजूद हैं

109. क्लीन एंड क्लियर फोमिंग फेस वाश

इस फेस-वाश में ट्राइकलोसन है जो मुँहासे साफ़ करता है और इसमें मौजूद ग्लिसरीन त्वचा को मुलायम त्वचा करता है।

पक्ष में

  • त्वचा की अच्छी प्रकार सफाई करके गंदगी हटाये
  • संयुक्त और तैलीय दोनों प्रकार की त्वचा के लिए सही है
  • संवेदनशील त्वचा को भी परेशान नहीं करता
  • मुहांसों और मुहांसों के निशान हलके कर देता है

विपक्ष में

शुष्क त्वचा के लिए सही नहीं है

इसका प्रयोग करने के बाद मॉइस्चराइज़र लगाना जरूरी है

1110. अरोमा मैजिक नीम एंड टी-ट्री फेस-वाश

इस फेस-वाश में नीम है जो त्वचा को शुद्ध करती है और चाय के पेड़ का अर्क भी मौजूद है जो त्वचा को विषैले पदार्थों से मुक्त करता है जो तेल के उत्पादन को संतुलित करता है|

पक्ष में

  • मुँहासे और मुहांसों के फूटने को कम करे
  • मुहांसों के निशान हलके करे
  • त्वचा के तेल के उत्पादन को नियंत्रित करे
  • त्वचा की पूरी तरह से सफाई करे
  • हलके मेकअप को हटाये
  • इसकी खुशबू ताज़ा है

विपक्ष में

  • खुश्क और संवेदनशील त्वचा के लिए यह सही नहीं है
  • त्वचा को सुखा देता है इसलिए बाद में मॉइस्चराइज़र लगाना जरूरी है

12सामग्री

त्वचा पर कठोर हुए बिना तेल और गंदगी को हटाने वाली सामग्री का ही प्रयोग करें।

  • केओलिन क्ले – यह त्वचा पर मैट प्रभाव डालता है और त्वचा तेल मुक्त करता है|
  • डाईमेथीकॉन – यह तेल के नियंत्रण के लिए है|
  • ग्लाइकोलिक और हाइलूरोनिक एसिड – यह मुहांसों के फूटने को नियंत्रित करता है और बिना तेल के ही त्वचा को मॉइस्चराइज करता है|
  • रेटिनोल – विटामिन-ए से उत्पन्न हुए रेटिनोल पोयर के आकार को कम कर देता है ताकि त्वचा से कम तेल निकले|
  • सैलिसिलिक एसिड – यह अतिरिक्त तेल को सोखता है|
  • टी-ट्री ऑयल – बैक्टीरिया के कारण होने वाले मुँहासों को मारता है

इन घटकों को भी देखें जो तेल के बढने को ज्यादा कर सकते हैं और मुँहासा के फूटने का कारण हो सकते हैं

  • पेट्रोलियम, पेट्रोलियम जेली और खनिज तेल – ये रोम-छिद्र बंद करते हैं और त्वचा में तेल पैदा करके मुँहासे बढ़ने का कारण बन सकते हैं|
  • पैराबिन और मेथिलिसोथियाज़ोलिनोन (एम.आई) – ये प्रीसरवेटिव होते हैं जो त्वचा में जलन पैदा करते हैं और स्तन कैंसर की भी वजह बनते हैं|
  • सल्फेट्स (एसएलएस, एएलएस) – सल्फेट्स का उपयोग फेस वाश में करने से यह प्राकृतिक तेल हटाता हैं ताकि त्वचा अधिक सीबम पैदा करे और इसे तैलीय बना दे। इससे वे चकत्तों, त्वचा के रोग, गुर्दे और जिगर की क्षति का कारण बन जाते हैं|
  • अल्कोहल – अल्कोहल त्वचा को बहुत ज्यादा सुखा देती है। बदले में त्वचा और अधिक तेल पैदा करती है जो त्वचा को चिकना बना देती है

सुगंध – ये नकली खुशबुएँ त्वचा की जलन और चकत्ते होने का कारण बन सकती हैं और मुँहासे होने की प्रक्रिया को उत्तेजित कर सकती हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 3 =