आज के दौर में हम जिस दुनिया में रहते हैं वह प्रदूषण और धूल से भरी हुई है और हमारे बालों को बर्बाद कर देती है। हम में से कुछ में तो सिर्फ गलत जीन ही हमारे बालों की बर्बादी का कारण होते  हैं। सच्चाई तो यह है कि हम में से ज्यादातर लोग बालों की समस्याओं से पीड़ित हैं। सबसे ज्यादा खराब बालों की समस्या रूखे बाल और सिर की तैलीय त्वचा का होना है और ऐसा लगता है कि इसका इलाज लगभग असंभव है।

खैर जो असंभव दिखाई देता है हमने उसे संभव बनाने की कोशिश की है । तैलीय सिर की त्वचा और बालों के इलाज के बारे में और जानने के लिए पढ़ें।

तैलीय बालों के लिए एसेंशियल तेल

  • लैवेंडर एसेंशियल आयल
  • रोज़मेरी एसेंशियल आयल
  • लेमन एसेंशियल आयल
  • सीडरवुड एसेंशियल आयल
  • कैमोमाइल एसेंशियल आयल
  • युक्लिप्टस एसेंशियल आयल
 और पढो: पतंजलि एलो वेरा शैम्पू की समीक्षा

आपकी सिर की त्वचा को क्या तैलीय बनाता है?

हमारा शरीर स्वाभाविक रूप से तेल बनाता है। वैज्ञानिक इस तेल को सीबम कहते हैं| आपकी वसायुक्त ग्रंथियां इस तेल को त्वचा को मॉइस्चराइज रखने के लिए बनाती हैं। कभी-कभी ये ग्रंथियां अत्यधिक सक्रिय होती हैं। जिसकी वजह से अतिरिक्त तेल का उत्पादन होता है। यह अतिरिक्त तेल सिर की त्वचा पर जमा जाता है और जिसे हम ‘तैलीय स्केलप’ कहते हैं।

कुछ तेलों से अपने सिर पर मालिश करने से इस समस्या को हल किया जा सकता है।

क्या वास्तव में ज्यादा तेल लगायें?

हाँ! ज्यादा तेल लगाना बालों की जड़ों की समस्या का समाधान है। लेकिन कुछ तेल इस प्रकार के होते हैं जो बालों को चिकना दिखाए बिना सिर की तैलीय त्वचा का इलाज करेंगे।

एसेंशियल आयल अन्य तेलों से अलग होते हैं जिनका उपयोग आप खाना बनाने के लिए भी करते हैं। ये एसेंशियल आयल हल्के होते हैं इसलिए चिकने नहीं दिखते। इसके अलावा एसेंशियल आयल आपके बालों की जड़ों में गहरे तक प्रवेश करते हैं और आपके बालों को ज्यादा तैलीय दिखने से रोकता है।

तैलीय स्केलप का इलाज करने वाले एसेंशियल आयल के गुण

एसेंशियल आयल में कुछ ऐसे गुण होते हैं जो तैलीय जड़ों के इलाज के लिए बेहद प्रभावी है। जब आप तैलीय जड़ों के इलाज के लिए एक एसेंशियल आयल की तलाश में हैं तो आपको निम्न गुणों को देखना चाहिए।

  • खुजली वाली सिर की त्वचा को आराम दे
  • एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरिया
  • एंटी-सेप्टिक और एंटी-वायरल
  • एंटी-फंगल
 और पढो: सनसिल्क येलो शैम्पूबालों के लिए उपयुक्त सर्वश्रेष्ठ पतंजलि कंडीशनर

तैलीय स्कैल्प के लिए एसेंशियल आयल के लाभ-

  1. जब आप एसेंशियल आयल लगाते हैं तो आपके बालों की जड़ों द्वारा पैदा किये सीबम की मात्रा नियंत्रित होती है|
  2. इसके अलावा बैक्टीरिया और फंगल को दूर करके रूखे बालों को मॉइस्चराइज करते हैं जो बालों के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं|
  3. ये तेल आपके रोम-कूपों में गहरे तक पहुंचकर उन्हें पोषण देते हैं।
  4. आपके बालों को मजबूत और लंबा बनाते हैं|
  5. बालों को चमकदार बनाते हैं

बालों की तैलीय त्वचा पर एसेंशियल आयल का उपयोग कैसे करें

अपने सिर की तचा पर सीधे एसेंशियल आयल को नहीं लगाना चाहिए इससे सूजन और जलन पैदा हो सकती है| इन तेलों को लगाने का सबसे अच्छा तरीका है इन्हें हमेशा वाहक तेल (कैरियर आयल) में मिलकर पतला करके लगायें| फिर भी आप अपने सिर की मालिश करने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं। यहां कुछ वाहक तेल हैं जिनका आप इनके साथ उपयोग कर सकते हैं:

  • जोजोबा
  • मीठे बादाम का तेल
  • आर्गन आयल
  • मोम

सावधानी

इन तेलों को लगाने से पहले इनका पैच परीक्षण करना जरूरी है| कुछ लोगों को काफी तेलों से एलर्जी हो सकती है|

  • त्वचा के एक छोटे से हिस्से पर तेल की कुछ बूंदें डालें
  • 24 घंटे तक इंतज़ार करें
  • यदि कोई एलर्जी प्रतिक्रिया नहीं होती तो तेल को सुरक्षित रूप से उपयोग करें

Our team of experts goes through thousands of products to find the best ones for you. When you buy through our links, we might earn a commission. Learn more.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − 17 =