Bifilac in Hindi बिफिलैक: उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स, मूल्य, संरचना और 20 सामान्य प्रश्न

Bifilac in Hindi बिफिलैक: उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स, मूल्य, संरचना और 20 सामान्य प्रश्न

What is Bifilac in Hindi – बिफिलैक क्या है?

यह मुख्य रूप से डायरिया और अन्य गैसट्रोइंटेस्टिनल संबंधी विकारों जैसी स्थितियों को रोकने या इनका इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है। इसकी ज्यादा और बार बार खुराक लेने पर त्वचा पर लाल चकत्ते और पेट में दर्द जैसे प्रमुख दुष्प्रभाव होते हैं। जिगर की शिथिलता और एलर्जी के मामले में इससे पूरी तरह से बचना चाहिए।

बिफिलैक की संरचना – लैक्टोबैसिलस स्पोरजेंस 50 मिलियन स्पोर्स + बेसिलस मेसेन्टेरिकस 1 मिलियन स्पोर्स + क्लोस्ट्रीडियम ब्यूटायरियम 2 मिलियन स्पोर्स + स्ट्रेप्टोकोकस फैकलस 30 मिलियन स्पोर्स
निर्मित – टेबलेट्स इंडिया लि.
प्रिस्क्रिप्शन – जरूरी नहीं क्योंकि यह ओटीसी के रूप में बेचा जाता है|
प्रपत्र – कैप्सूल, सैशे, टेबलेट
मूल्य – 99.50 रुपये में 10 कैप्सूल
एक्सपायरी – निर्माण की तारीख से 24 महीने तक
दवा का प्रकार – प्रोबायोटिक

Also Read in English about Bifilac


Uses of Bifilac in Hindi – बिफिलैक के उपयोग

बिफिलैक निम्न स्थितियों की रोकथाम और उपचार के लिए किया जाता है:

  • डायरिया: इसे एंटी-बायोटिक से प्रेरित डायरिया, ट्रैवलर डायरिया और एंटीबायोटिक डायरिया के मामलों में उपयोग किया जाता है।
  • बदहजमी: बदहजमी जैसे मामलों में उपयोग किया जाता है।
  • इम्यूनिटी बिल्डिंग: कम प्रतिरक्षा के मामलों में बूस्टर के रूप में उपयोग किया जाता है।
  • इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम: जैसी स्थितियों का इलाज करता है।
  • इंफ्लेमेटरी बोवेल सिंड्रोम: ऐसी स्थितियों के इलाज़ के लिए उपयोग होता है|
  • जीआई विकार: गैसट्रोइंटेस्टिनल संबंधी विकार जैसे जठरांत्र, कोलाइटिस के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है
  • अन्य: अमीबिक पेचिश और योनि के इन्फेक्शन जैसी अन्य स्थितियों का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है।
Read More: सिप्कल 500 के फायदे

How does Bifilac work in Hindi – बिफिलैक कैसे काम करता है?

  • बिफिलैक में मूल रूप से लैक्टोबैसिलस स्पोरजेंस, बेसिलस मेसेन्टेरिकस, क्लोस्ट्रीडियम ब्यूटायरियम, स्ट्रेप्टोकोकस फैकलस मुख्य तत्व के रूप में मिलते हैं|
  • बिफिलैक अच्छे बैक्टीरिया और खमीर का मेल है, जो आँतों के माइक्रोबियल वनस्पतियों (आंतरिक वातावरण) को संतुलित करने के लिए जानबूझकर दिया जाता है।
  • एंटीबायोटिक्स और अन्य स्थितियों का उपयोग अच्छे और बुरे बैक्टीरिया के बीच असंतुलन पैदा करता है और पैथोलॉजी (रोग) पैदा कर सकता है
  • शरीर के अंदर अच्छे बैक्टीरिया का परिचय पोषक तत्वों के लिए अच्छे और बुरे बैक्टीरिया के बीच एक प्रतिस्पर्धा की ओर जाता है।
  • अंततः पोषक तत्वों की हानि के कारण खराब जीवाणु मर जाते हैं।
Read More: Betnovate C Uses in Hindi | Betnovate N Uses in Hindi

How to take Bifilac in Hindi – बिफिलैक कैसे लें?

  • बिफिलैक आमतौर पर कैप्सूल, सिरप और लोज़ेंग के रूप में मिलता है।
  • बिफिलैक कैप्सूल को भोजन के साथ या भोजन के बाद पानी के साथ मुंह द्वारा लिया जाता है क्योंकि खाली पेट इसे लेने पर दवा के कारण होने वाली किसी भी गैस्ट्रिक जलन को रोका जा सकता है।
  • बिफिलैक टैबलेट की एक दिन में एक से ज्यादा खुराक लेने पर दो खुराकों के बीच में समान समय अंतराल होना चाहिए|
  • बिफिलैक सिरप का सेवन करने से पहले बोतल को अच्छी तरह हिलाएं|
  • यदि काउंटर ड्रग के रूप में बिफिलैक का उपयोग किया जाता है तो दवा की उचित समझ के लिए लीफलेट को अच्छी तरह से पढ़ना चाहिए|

Bifilac Common Dosage in Hindi – बिफिलैक की सामान्य खुराक

  • चिकित्सक को रोगी की आयु, वजन, मानसिक स्थिति, एलर्जी के इतिहास और स्वास्थ्य की स्थिति के अनुसार हर व्यक्ति के लिए दवा की खुराक तय करता है।
  • वयस्कों के लिए बिफिलैक कैप्सूल की सामान्य खुराक दिन में एक या दो बार है| दो खुराक के बीच कम से कम 4 से 6 घंटे का अंतराल होना चाहिए।
  • रोगी द्वारा स्थिति या प्रतिक्रिया के आधार पर डॉक्टर द्वारा इसकी खुराक बदली जा सकती है।
  • बच्चों को इसकी खुराक देते समय बाल रोग विशेषज्ञ से सलाह लेनी चाहिए।
  • डॉक्टर की सलाह के बिना इसकी खुराक में बदलाव से बचना चाहिए।

यदि बिफिलैक ज्यादा मात्रा में लें तो क्या होगा?

इसकी ओवरडोज से पेट में जलन, मतली और उल्टी जैसे साइड इफेक्ट की संभावना बढ़ जाती है और ऐसे मामलों में डॉक्टर से तुरंत सलाह लेनी चाहिए|

यदि बिफिलैक की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होगा?

बिफिलैक को हमेशा तय समय के अनुसार ही लेना चाहिए और खुराक भूलने के मामले में हमेशा याद रखकर इसका सेवन करने की कोशिश करें। लेकिन यदि पहले से ही दूसरी खुराक लेने का समय हो तो भूली हुई खुराक लेने से बचें क्योंकि इससे दवा की विषाक्तता या ड्रग ओवरडोज हो सकती है।

यदि एक्स्पायरी हो चुकी बिफिलैक खाते हैं तो क्या होगा?

एक्स्पायरी हो चुकी बिफिलैक का कोई अवांछनीय प्रभाव दिखाई नहीं देता| लेकिन किसी को एक्सपायरी दवा का सेवन करने से बचना चाहिए।

बिफिलैक की शुरुआत का समय और बिफिलैक का प्रभाव कब तक रहता है?

  • इसे प्रभाव दिखाने के लिए लिया जाने वाला समय हर अलग-अलग रोगी में अलग होता है।
  • उपचार के पहले दिन या पहले कुछ ही दिनों में ठीक होना शुरू हो जाते हैं लेकिन यह उपचार की स्थिति की गंभीरता पर भी निर्भर करता है|

When to Avoid Bifilac in Hindi – बिफिलैक से कब बचें?

निम्न स्थितियों में बिफिलैक का उपयोग न करें:

  • एलर्जी: इसकी किसी भी सामग्री से एलर्जी के इतिहास के मामलों में
  • इन्फेक्शन: इंटेस्टिनल के इन्फेक्शन वाले रोगियों के मामलों में
  • गुर्दे की दुर्बलता: गुर्दे की हानि वाले रोगियों के मामलों में।
  • इंटॉलरेंस: दवा की असहिष्णुता के मामलों में इससे बचना चाहिए|
  • जिगर: जिगर के रोग या हानि वाले रोगियों के मामलों में भी इससे बचें|
Read more: Cheston

Precautions While Taking Bifilac in Hindi – बिफिलैक लेते समय सावधानियां

  • गर्भावस्था: यदि बहुत जरूरी हो तो ही बिफिलैक का उपयोग करना चाहिए।
  • लीवर या किडनी का इंफेक्शन: किडनी, हार्ट या लीवर की कमी वाले रोगियों में चिकित्सक द्वारा खुराक में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है।
  • स्तनपान कराने वाली मां: इसका उपयोग ऐसे मामलों में सावधानी से करना चाहिए।

बिफिलैक लेते समय चेतावनी

  • बिफिलैक को इम्यूनोसप्रेसेन्ट के साथ लेने से उपयोग से बचें।
  • किसी भी गैस्ट्रिक जलन को रोकने के लिए हमेशा भोजन के साथ या बाद में इस टैबलेट का सेवन करें।
Read more: Aceclofenac | Becosule

Side-Effects of Bifilac in Hindi – बिफिलैक के साइड-इफेक्ट्स

विभिन्न उपचारों के लिए उपयोग किए जाने वाले बिफिलैक से जुड़े दुष्प्रभाव निम्नलिखित हैं:

  • तीव्र विषाक्तता (कम सामान्य)
  • मतली (सामान्य)
  • चकत्ते (सामान्य)
  • सूजन (सामान्य)
  • पेट दर्द (कम सामान्य)

क्या बिफिलैक से किसी भी तरह की एलर्जी की प्रतिक्रिया है?

  • खुजली, सीने की जकड़न, सांस लेने में कठिनाई, चेहरे, होंठ और जीभ की सूजन जैसे किसी भी एलर्जी के लक्षण दिखाई देने पर तत्काल चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।
  • थायमिन और फोलिक एसिड से एलर्जी की सूचना मिली है।
  • ऐसे किसी भी लक्षण के मामले में तुरंत चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।

अंगों पर प्रभाव

बिफिलैक का उपयोग जिगर या गुर्दे की कमजोरी वाले रोगियों में सावधानी से किया जाना चाहिए|

Drug Interactions to be Careful About in Hindi – ड्रग इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

बिफिलैक का सेवन करते समय मरीज को कुछ दवाइयों से सावधान रहना चाहिए। ये कुछ खाद्य पदार्थों से लेकर अन्य दवाओं तक कुछ परीक्षणों में शामिल हो सकते हैं, जिन्हें बिफिलैक के सेवन के बाद नहीं लेना चाहिए। हम नीचे इन विवरणों का पता लगाते हैं।

  1. बिफिलैक के साथ खाद्य पदार्थ

शराब के अलावा किसी विशेष खाद्य पदार्थ से परहेज नहीं किया जाता क्योंकि इससे लीवर खराब हो सकता है

  1. बिफिलैक के साथ दवाएं

सभी इंटरेक्शन वाली दवाओं को यहाँ  सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता इसलिए हमेशा यह सलाह दी जाती है कि रोगी को अपने चिकित्सक को आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली सभी दवाओं या उत्पादों के बारे में सूचित करना चाहिए। उन हर्बल उत्पादों के बारे में भी जानकारी देनी चाहिए जिनका आप सेवन कर रहे हैं। अपने डॉक्टर की इजाज़त के बिना दवा के किसी भी नियम में कोई फेरबदल नहीं करना चाहिए।

निम्न दवाओं के साथ लेने पर पारस्परिक क्रिया देखी गई है:

  • अल्कोहल (हल्का)
  • एंटीबायोटिक्स (हल्का)
  • साइक्लोस्पोरिन (हल्का)
  • अज़िथोप्रिन (हल्का)
  1. लैब टेस्ट पर बिफिलैक का प्रभाव

बिफिलैक किसी भी लैब टेस्ट को प्रभावित नहीं करता।

  1. पहले से मौजूद बीमारियों के साथ बिफिलैक का इंटरैक्शन

कोई भी लिवर या किडनी की समस्या।

क्या शराब के साथ बिफिलैक ले सकते हैं?

नहीं, बिफिलैक के साथ शराब लेने से कुछ मामलों में उनींदापन हो सकता है। इसलिए बिफिलैक के साथ शराब का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए|

क्या किसी भी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

किसी विशेष खाद्य पदार्थ से बचने की जरूरत नहीं है।

गर्भवती होने पर क्या बिफिलैक ले सकते हैं?

नहीं, गर्भावस्था के दौरान बिफिलैक का उपयोग केवल जरूरी होने पर ही करना चाहिए क्योंकि यह गर्भवती महिलाओं में उपयोग के लिए सुरक्षित नहीं है। गर्भवती होने पर हमेशा अपने डॉक्टर को सूचित करें|

क्या शिशु को दूध पिलाते समय मुझे बिफिलैक ले सकते हैं?

हां, स्तनपान कराने वाली माताओं को भी इसका उपयोग केवल जरूरी होने पर ही करना चाहिए|लेकिन उन्हें इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए|

क्या बिफिलैक लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

बिफिलैक लेने से कुछ रोगियों में उनींदापन या अनिद्रा होने के कारण ड्राइविंग करते समय या इसे लेने से बचना चाहिए।


Buyer’s Guide – Bifilac Composition, Variant and Price in Hindi – बिफिलैक रचना, भिन्न और मूल्य – क्रेता गाइड

बिफिलैक वेरिएंट बिफिलैक कंपोजिशन बिफिलैक मूल्य
बिफिलैक 0.5 ग्रा. सैशे लैक्टोबैसिलस 50 मिलियन स्पोर्स 13.72 रूपए का 1 पैक
बिफिलैक एचपी कैप्सूल लैक्टोबैसिलस 100 मिलियन स्पोर्स 160 रूपए के 10 कैप्सूल
बिफिलैक ड्राई 50 मि.लि. सिरप बेसिलस मेसेन्टेरिकस 1 मिलियन सेल्स + क्लोस्ट्रीडियम ब्यूटिरियम 2 मिलियन सेल्स  + लैक्टोबैसिलस स्पोरोगेन्स 50 मिलियन सेल्स + स्ट्रेप्टोकोकस थर्मोफ़िलस 30 मिलियन सेल्स  / 5 मि.ली. 130.50 का 1 पैक
बिफिलैक लोज़ेंग बेसिलस मेसेन्टेरिकस 1 मिलियन स्पोर्स + क्लोस्ट्रीडियम ब्यूटिरियम 2 मिलियन स्पोर्स  + लैक्टोबैसिलस स्पोरोगेंस 50 मिलियन स्पोर्स  + स्ट्रेप्टोकोकस थर्मोफिलस 30 मिलियन स्पोर्स 141.60 रूपए की 10 लोज़ेंगस
बिफिलैक लोज़ेंग 15 एस टेबलेट बेसिलस मेसेन्टेरिकस 1 मिलियन स्पोर्स + क्लोस्ट्रीडियम ब्यूटिरियम 2 मिलियन स्पोर्स + लैक्टोबैसिलस स्पोरोगेंस 50 मिलियन स्पोर्स + स्ट्रेप्टोकोकस थर्मोफिलस 30 मिलियन स्पोर्स 141.60 रूपए की 10 टेबलेट्स
इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: मेडलाइफ | प्रैक्टो

Substitutes of Bifilac in Hindi – बिफिलैक की जगह पर

बिफिलैक के लिए वैकल्पिक दवाएं निम्न हैं:

वाइबैक्ट कैप्सूल:

  • यूएसवी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा निर्मित
  • मूल्य- 99.5 रूपए

वाइबैक्ट टिप

  • यूएसवी प्राइवेट लिमिटेड
  • मूल्य- 12.66 रूपए

विजिलाक कैप्सूल:

  • टोरेंट फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड द्वारा निर्मित
  • मूल्य- 45 रूपए

बेसलाक पीबी कैप्सूल:

  • डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज लिमिटेड द्वारा निर्मित
  • मूल्य- 112 रूपए

भंडारण

  • बिफिलैक को ठंडी, नमी रहित जगह पर कमरे के तापमान पर रखना चाहिए।
  • दवा को बच्चों की पहुँच से दूर रखा जाना चाहिए।

FAQs – 10 Important Questions Answered about Bifilac in HIndi – सामान्य प्रश्न – बिफिलैक के बारे में 10 महत्वपूर्ण प्रश्न

बिफिलैक क्या है?

बिफिलैक एक प्रोबायोटिक है जिसमें फायदेमंद बैक्टीरिया होते हैं जो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं को सुधारने में मदद करते हैं।

बिफिलैक के क्या प्रयोग हैं?

बिफिलैक का उपयोग मुख्य रूप से दस्त और अन्य गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकारों जैसी स्थितियों को रोकने या इलाज के लिए किया जाता है|

बिफिलैक के क्या दुष्प्रभाव हैं?

विषाक्तता, मतली, चकत्ते, सूजन, पेट दर्द बिफिलैक के सबसे सामान्य दुष्प्रभाव हैं|

बिफिलैक कितना प्रभावी है?

बिफिलैक का प्रभाव दवा लेने के पहले सप्ताह के भीतर ही देखा जा सकता है।

क्या बिफिलैक को खाली पेट लेना चाहिए?

किसी भी पेट की खराबी से बचने के लिए बिफिलैक को खाली पेट नहीं लिया जाता|

क्या बिफिलैक उनींदा बनाता है?

नहीं, लेकिन बिफिलैक कुछ मामलों में उनींदेपन का कारण हो सकता है लेकिन यह हर व्यक्ति में बदलता रहता है।

बिफिलैक की गोलियों के सेवन के बीच समय का अंतर क्या होना चाहिए?

बिफिलैक विषाक्तता या ओवरडोज से बचने के लिए दो खुराक के बीच कम से कम 4 से 6 घंटे के समय अंतराल होना चाहिए।

क्या चिकित्सा का पूरा चक्र ठीक करना चाहिए, भले ही लक्षण ठीक हो जाए?

बिफिलैक एक प्रोबायोटिक दवा है और इसे डॉक्टर द्वारा तय किये गये लक्षणों की गंभीरता के मामले में लेना चाहिए| डॉक्टर को यह तय करना चाहिए कि बिफिलैक के चक्र को कब और कैसे रोकना है।

क्या बिफिलैक मासिक धर्म चक्र को प्रभावित करता है?

नहीं, बिफिलैक मासिक धर्म चक्र को प्रभावित नहीं करता लेकिन किसी को भी दवा का सेवन करने से पहले हमेशा पहले से मौजूद मासिक धर्म की समस्याओं के मामले में डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

क्या बच्चों के लिए बिफिलैक सुरक्षित है?

बिफिलैक बच्चों के लिए सुरक्षित है लेकिन इसे देने से पहले बाल रोग विशेषज्ञ की सलाह लेनी चाहिए।

बिफिलैक को लेने से पहले कोई लक्षण या बीमारियाँ हैं जिन पर विचार करना चाहिए?

किसी भी प्रकार की एलर्जी प्रतिक्रिया या लिवर के विकार की स्थिति में बिफिलैक लेने से पहले ध्यान रखना चाहिए|

क्या भारत में बिफिलैक की कानूनी मान्यता है?

हां, यह भारत में कानूनी है।


डिस्क्लेमर – ऊपर दी गई जानकारी हमारे शोध और ज्ञान के सर्वश्रेष्ठ है। हालांकि, आपको दवा का सेवन करने से पहले एक चिकित्सक से परामर्श करने की सलाह दी जाती है।

लेखक –

Reviewed and Edited by Dr. Pradeep - Clinical Research Coordinator

Dr. Pradeep Choudhary
CashKaro Blog
Logo