Cranberry in Hindi क्रैनबेरी और क्रैनबेरी रस के 10 आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ

0
270
Cranberry in Hindi क्रैनबेरी और क्रैनबेरी रस के 10 आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ

क्रैनबेरी(Cranberry) एक उत्तम  फल है। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि यह एक जादुई औषधि है जो दिल, मस्तिष्क और कोलन के स्वास्थ्य में सुधार करती है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर क्रैनबेरी में भिन्न बीमारियों से लड़ने की ताकत होती है। इस फल में विटामिन-सी और फाइबर भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। यह पतझड़ और सर्दियों का फल है जो पूरे साल फ्रोजन रूप में मिलता है। यह स्वाद में थोड़ा कड़वा होता है, यह फल परंपरागत रूप से अपने तीखेपन को कम करने और इसे खाने योग्य बनाने के लिए मीठा होता है। यह एक कम कैलोरी वाला फल है जिससे आम तौर पर ज़ैम, जूस, सॉस और कैंडीज़ बनाई जाती है|

अपने कड़वे स्वाद के बावजूद क्रैनबेरी के रस में अपने उच्च पौष्टिक मूल्य के कारण असंख्य स्वास्थ्य और सौंदर्य लाभ देता है। यह शरीर को कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और खनिज जैसे कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन, सोडियम, मैग्नीशियम और पोटेशियम का पोषण देता है। यू.एस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार पके हुए और रसदार क्रैनबेरी में एंटी-ऑक्सीडेंट का स्तर ऊंचा होता हैं।

Buy & Save from: Grofers | Nature’s Basket Offers

Cranberry Useful Information in Hindi – क्रैनबेरी और क्रैनबेरी रस के बारे में जानकारी

  • क्रैनबेरी उत्तरी अमेरिका के मूल में पैदा होता है और आम तौर पर अक्टूबर के दिसंबर के महीनों में इसकी कटाई की जाती है|
  • यह बौनी और सदाबहार झाड़ी है जो 2 मीटर तक की ऊंचाई तक बढ़ती है|
  • यह गहरे लाल रंग के जामुन मीठा टार्ट रस बनाने के लिए प्रयोग होते हैं।
  • क्रैनबेरी आवश्यक पोषक तत्वों जैसे विटामिन ई, के, बी-6, सोडियम, मैग्नीशियम, जिंक और अन्य खनिजों से पैक होता है।

Cranberry Benefits and Uses in Hindi – क्रैनबेरी और क्रैनबेरी रस के लाभ और उपयोग

  1. मूत्र पथ के संक्रमण से बचाए

क्लिनिक्स जर्नल अमेरिकी राष्ट्रीय पुस्तकालय नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ में प्रकाशित “क्रैनबेरी और लोअर मूत्र पथ संक्रमण रोकथाम” नामक एक अध्ययन के अनुसार क्रैनबेरी के रस में प्रोंथोसाइनिन होते हैं। प्रोंथोसाइनिन बैक्टीरिया के विकास को रोकते हैं और बैक्टीरिया को मूत्राशय की कोशिकाओं में रूकावट डालने से रोकते हैं।

  1. कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य सुधारे

क्रैनबेरी में मौजूद फ्लैवोनोइड्स और एंटी-ऑक्सीडेंट दिल से संबंधित समस्याओं के विकास के खतरे को कम करने में मदद करते हैं। इसके अलावा क्रैनबेरी का रस रोजाना लेने से आपके शरीर में खून में प्लेटलेटस की मात्रा बढ़ जाती है। 2002 के डॉ. जेस रीड द्वारा ‘क्रिटिकल रिव्यू इन फूड साइंस एंड न्यूट्रिशन’ में प्रकाशित किये गये एक अध्ययन के अनुसार क्रैनबेरी का रस एथेरोस्क्लेरोसिस को कम करता है जो एक ऐसी स्थिति है जहां फैट के इकठ्ठा होने के कारण धमनियों को तंग कर देता है।

  1. दांतों के गिरने को रोके

क्रैनबेरी के रस में मौजूद प्रोंथोकाइनिन बैक्टीरिया के विकास को रोकता है जो प्लाक और दांतों के गिरने का कारण बनता है। कनाडाई डेंटल एसोसिएशन द्वारा प्रकाशित 2010 के एक अध्ययन के अनुसार यह स्पष्ट है कि क्रैनबेरी के रस को लेने से रोग पैदा होने करने वाले तंत्र को परेशान करती है और दांतों के अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है।

  1. वायरल संक्रमण से लड़े

यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ जर्नल में प्रकाशित 2013 के एक अध्ययन के अनुसार क्रैनबेरी और क्रैनबेरी के रस में पॉलीफेनॉल होते हैं जो ठंड, इन्फ्लूएंजा और वायरल बुखार से जुड़े लक्षणों को रोकते हैं। क्रैनबेरी के रस को रोअना लेने से हेमोफिलस इन्फ्लुएंजा को कम करने में मदद मिलती है जो बच्चों में सांस और कान के संक्रमण को रोकती है।

  1. मोटापे को नियंत्रित करे

क्रैनबेरी के रस में फाइबर की मात्र ज्यादा और चीनी की सामग्री कम होती है जो वजन को नियंत्रित रखने में मदद करती है। यह शरीर में फैट के जमाव को भी हटाता है। इसे लेने के लिए आप क्रैनबेरी सॉस या जूस भी बना सकते हैं और इसके कड़वे स्वाद को कम करने के लिए इसमें पानी मिलाकर पतला भी कर सकते हैं।

  1. प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाए

क्रैनबेरी एंटी-ऑक्सीडेटिव गुणों से भरपूर होता है जो सूजन से लडती हैं और शरीर में मुक्त कणों के बनने को कम कर देता है| इसमें फाइटोकेमिकल्स होते हैं जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करते हैं। डॉ. केविन पी. हाई (वेक वन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन, उत्तरी कैरोलिना) के 2001 के एक अध्ययन अनुसार क्लिनिकल इन्फेक्शियस डिजीज के खंड 33 में प्रकाशित क्रैनबेरी रस शरीर में मुक्त कणों के ऑक्सीकरण को नियंत्रित करता है।

  1. गुर्दे की पथरी बनने से रोके

क्रैनबेरी के रस में क्विनिक एसिड की उपस्थिति गुर्दे की पथरी के बनने को रोकती है। गुर्दे की पथरी के बनने को कम करने या रोकने के लिए क्रैनबेरी का रस लें। यदि इसका स्वाद कड़वा लगे तो इसमें पानी मिला सकते हैं।

  1. एंटी-एजिंग एजेंट के रूप में काम करे

इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स, विटामिन-सी और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों की उच्च मात्रा के साथ, क्रैनबेरी का रस उम्र बढ़ने से रोकने का काम करता है। यह कोशिकाओं के ऑक्सीकरण, त्वचा पर झुर्रियां, लाली और लाइनों के बनने को रोकता है। यह त्वचा में कोशिकाओं के पुनर्जन्म को बढ़ाता है और त्वचा को नुक्सान से बचाता है।

  1. मुँहासों का इलाज करे

क्रैनबेरी के रस में एंटी-फंगल और एंटी-सेप्टिक गुण होते हैं जो त्वचा पर मुँहासे होने और फोड़े का इलाज करने में मदद करते हैं। नारंगी के छिलके, शहद में क्रैनबेरी की 3 से 4 बूँदें मिलाकर  क्रैनबेरी मास्क बना सकते हैं। इसे चेहरे पर लगाकर 20 मिनट तक छोड़ दें। फिर गर्म पानी के साथ अपने चेहरे को अच्छी तरह से धो लें|

  1. बालों के विकास को बढ़ावा दे

बालों के स्वस्थ विकास को बढ़ावा देने के लिए इसमें विटामिन-ए और विटामिन-सी जिम्मेदार हैं। क्रैनबेरी के रस में यह विटामिन अधिक मात्रा में होते हैं इसलिए बाल गिरने से रोकता है और डैंड्रफ़ कम हो जाता है। यह सिर में माइक्रोबियल के बढने को कम करने में भी मदद करता है।

Cranberry Nutritional Value in Hindi – क्रैनबेरी और क्रैनबेरी रस का पौष्टिक मूल्य

अब जब आप जानते हैं कि क्रैनबेरी फल कितना फायदेमंद हो सकता है तो इसके पौष्टिक मूल्यों पर एक नज़र डालें। यह पोषण डेटा 55 ग्राम क्रैनबेरी के लिए सूचीबद्ध है:

Cranberry Quantity in Hindi – पोषक तत्वों की मात्रा

  • टोटल कार्बोहाइड्रेट – 6 ग्रा.
  • फाइबर – 2 ग्रा.
  • टोटल फैट – 07 ग्रा.
  • विटामिन-ए – 35 आई.यू (इंटरनेशनल यूनिट)
  • विटामिन-सी – 7 मि.ग्रा.
  • कैल्शियम 5 मि.ग्रा.
  • मैग्नीशियम 5 मि.ग्रा.
  • फॉस्फोरस 6 मि.ग्रा.
  • पोटेशियम 44 मि.ग्रा.
  • फोलेट – 5 मि.ग्रा.

क्रैनबेरी में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-सेप्टिक और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो कई बीमारियों को ठीक करने और स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद करते हैं।

इसमें कम कैलोरी और उच्च मात्रा में फाइबर होता है जो वजन घटाने और मोटापे को नियंत्रित करने में सहायता करता है। अमेरिकी जर्नल ऑफ पब्लिक हेल्थ क्रैनबेरी में प्रकाशित डॉ. कार्ल आर. फेल्लर्स द्वारा ‘क्रैनबेरी के न्यूट्रिटिव वैल्यूज़’ क्रैनबेरी नामक एक अध्ययन के मुताबिक क्रैनबेरी के रस में प्रति 100 ग्रा. में 87.13 ग्रा. पानी होता है। इसके अलावा यह शरीर को कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, सोडियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, जिंक और विटामिन जैसे नियासिन, रिबोफ्लाविन, विटामिन-बी6, ई और के जैसे कई विटामिन और खनिजों से पोषण में मदद करता है।

Cranberry Risks and Precautions in Hindi – क्रैनबेरी और क्रैनबेरी रस का उपयोग करते समय खतरे और सावधानियां

क्रैनबेरी 100% प्राकृतिक है और यह शरीर को कोई खतरा या नुकसान नहीं पहुंचाता| लेकिन नियमित रूप से क्रैनबेरी या क्रैनबेरी के रस का उपयोग शुरू करते समय आपको निम्न चीजों को ध्यान में रखना चाहिए:

  • जो लोग इंटरस्टिशियल सिस्टिटिस से पीड़ित हैं उन्हें क्रैनबेरी के रस या क्रैनबेरी लेने से पूरी तरह से बचना चाहिए। इंटरस्टिशियल सिस्टिटिस एक दर्दनाक मूत्राशय रोग है जो तब होता है जब मूत्राशय के अस्तर को नुक्सान पहुंचता है। क्रैनबेरी के रस को लेने से यह स्थिति और खराब हो जाती है| इसलिए आपको क्रैनबेरी या क्रैनबेरी का रस नहीं लेना चाहिए।
  • इस रस को अधिक मात्रा में लेने से आपके पाचन, खून में शुगर के स्तर में रूकावट डाल सकता है और इससे दस्त भी हो सकते हैं| यह फल चिकित्सक द्वारा तय की गयी मात्रा में लेना चाहिए।
  • यदि आप दिल के मरीज़ हैं तो आपको क्रैनबेरी या क्रैनबेरी के रस को नियमित रूप से लेना शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए क्योंकि यह दिल की दवा में हस्तक्षेप करता है और अंदरूनी खून के बहाव का कारण बनता है।

How to Use Cranberry in Hindi – क्रैनबेरी या क्रैनबेरी के रस का उपयोग कैसे करें?

यह लाल रंग का क्रैनबेरी फल है जो पका होता है जो कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ देने के लिए जाना जाता है। ये आमतौर पर चमकदार, मोटा और सख्त होते हैं। रेफ्रिजरेटर में ताजा क्रैनबेरी कसे हुए सीलबंद प्लास्टिक बैग में 2 महीने तक चल सकता है। यदि आप इसके लाभों के लिए अपने आहार में क्रैनबेरी लेनाचाहते हैं तो आप इसे निम्न तरीकों से इसे उपयोग कर सकते हैं:

  • आप एप्पल पाई में 3 से 4 क्रैनबेरी मिला सकते हैं।
  • 3 से 4 क्रैनबेरी लें और अपने सुबह के नाश्ते में अपने दलिए या ठन्डे अनाज में मिलाएं|
  • फलों के सलाद में क्रैनबेरी मिलाएं तो इससे बड़ी संख्या में स्वास्थ्य के लाभ होते हैं और यह प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार भी कर सकता है। एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली सर्दी, खांसी, फ्लू, बुखार और बहुत सारी बीमारियों की शुरुआत को रोकती है।

Cranberry Fun Facts in Hindi – क्रैनबेरी या क्रैनबेरी रस के बारे में कुछ मजेदार तथ्य

  • क्रैनबेरी पानी में नहीं बढ़ते लेकिन फिर भी इनमें लगभग 90% पानी होता है।
  • इनमे छोटे पॉकेट होते हैं जहां उनमें हवा घूमती रहती है और इन जामुनों को तैरने की अनुमति देती है।
  • क्रैनबेरी का इस्तेमाल कपड़े को रंगने के लिए भी किया जा सकता है।
  • क्रैनबेरी को केवल 5% ही ताजा बेचा जाता है और क्रैनबेरी के रस या सॉस में बदल दिया जाता है।

ऊपर बताये गये लाभों से यह स्पष्ट है कि क्रैनबेरी वह आश्चर्यजनक फल है जो विटामिन, खनिजों, एंटीऑक्सिडेंट्स के साथ-साथ अन्य पोषक तत्वों से भी भरा हुआ है जिसके स्वास्थ्य लाभ असंख्य हैं। कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और प्रतिरक्षा को बढावा देने के लिए मुँहासे और फोड़े जैसे त्वचा के मुद्दों के इलाज से क्रैनबेरी एक बेहद फायदेमंद फल है जिससे आपको स्वस्थ जीवन जीने के लिए अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty + 11 =