क्रेस्टर (Crestor in hindi): उपयोग, खुराक, मूल्य, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां

0
617
Crestor fayde nuksan in hindi

क्रेस्टर क्या है?

क्रेस्टर “स्टेटिन” दवाओं के समूह से संबंधित है जिसका उच्च रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। क्रेस्टर टैबलेट में सक्रिय घटक के रूप में “रोसुवासटेटिन” होता है|

निम्न स्थितियों की रोकथाम और उपचार के लिए क्रेस्टर का सबसे अधिक उपयोग किया जाता है:

  • उच्च कोलेस्ट्रॉल
  • मायोकार्डियल इंफार्क्शन की रोकथाम
  • स्टोक की रोकथाम
  • हृदय रोग
  • डिसलिपिडेमिया
  • उच्च ट्राइग्लिसराइड्स

ऊपर बताये गए उद्देश्यों के इलावा भी क्रेस्टर का भी उपयोग किया जा सकता है।

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: मेडलाइफ

क्रेस्टर कैसे काम करता है?

  • क्रेस्टर एच.एम.जी-सीओ.ए. रेडक्टेज अवरोधक है जो एच.एम.जी-सीओ.ए. एंजाइम को अवरुद्ध करके जिगर में कोलेस्ट्रॉल के संश्लेषण को सीमित करता है जो कि एंजाइम की सीमित दर है।
  • उचित आहार नियंत्रण के साथ क्रेस्टर्स लेने से कम खराब कोलेस्ट्रॉल (वीएलडीएल, एलडीएल) और वसा (ट्राइग्लिसराइड्स) को कम करने में मदद मिलती है और यह रक्त में अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) को बढ़ा सकता है।
  • खराब कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने से हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा कम हो जाता है।
  • उचित आहार का पालन करके इस दवा के प्रभावों में और वृद्धि हुई है, जिससे जीवन शैली में धूम्रपान छोड़ने, वजन कम करने और व्यायाम करने में बदलाव आते हैं।
और पढो: डूलेराएन्ब्रेलडीलानटिन

क्रेस्टर कैसे लें?

  • क्रेस्टर को टैबलेट के रूप (5 एम.जी., 10 एम.जी., 20 एम.जी. और 40 मि.ग्रा.) में रोजाना दिन में एक बार लिया जाता है।
  • यदि मुंह द्वारा इसे लेना हो तो इस दवा को भोजन के साथ या भोजन के तुरंत बाद एक निश्चित समय पर लें|
  • टैबलेट के रूप में लेना हो तो इस टैबलेट को तरल पदार्थ के साथ पूरी तरह से निगलें। इसे ना तो  चबाएं, ना ही तोड़ें ना ही कुचले|
  • डॉक्टर की सलाह के बिना किसी की भी सिफारिश से इसे लंबे समय तक उपयोग न करें।
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल वाले मरीजों में आमतौर पर कोई लक्षण नहीं होता इसलिए जब तक आपका डॉक्टर आपको इसे बंद करने को ना कहे या जब तक आप अच्छा होना महसूस ना करें तब तक क्रेस्टर टैबलेट का उपयोग जारी रखें।

सामान्य खुराक और क्रेस्टर कब लें?

  • क्रेस्टर की खुराक और इसे लेने का समय रोगी की उम्र और डिस्प्लिडेमिया की डिग्री पर निर्भर करता है।
  • वयस्कों के लिए इसकी प्रारंभिक खुराक रोजाना 10 से 20 मि.ग्रा. की टैबलेट है।
  • रोगी की स्थिति के आधार पर इसकी खुराक 10 से 40 मि.ग्रा. कि टैबलेट से अलग अलग हो सकती है।
  • इस दवा को शुरू करने के बाद इसकी खुराक को बढ़ाने या घटाने के लिए लिपिड स्तरों की लगातार 2 से 4 सप्ताह तक निगरानी की जानी चाहिए।
  • बच्चों के मामले में इसकी खुराक रोजाना 5 से 10 मि.ग्रा. है और अधिकतम खुराक प्रति दिन 20 मि.ग्रा. तक है।

क्रेस्टर से कब बचें?

क्रेस्टर का उपयोग निम्न में नहीं किया जाना चाहिए जब:

  • इसके किसी भी घटक से एलर्जी हो
  • जिगर या गुर्दे की समस्या वाले लोग
  • गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलायें

क्रेस्टर के साइड इफेक्ट्स

क्रेस्टर से कुछ दुष्प्रभाव पैदा हो सकते हैं, वे भी सभी मरीजों में नहीं देखे जाते| इससे होने वाले कुछ सामान्य साइड इफेक्ट्स निम्न हैं:

  • मांसपेशियों का दर्द
  • दुर्बलता
  • दस्त
  • रक्त ग्लूकोज के स्तर में बढ़ावा
  • पेट-दर्द
  • जिगर के काम (भूख की कमी, गहरे रंग के मूत्र, त्वचा और आंखों का पीला)
  • जोड़ों का दर्द
  • भरा हुआ नाक

इसके अलावा कुछ अन्य दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं।

अंगों पर प्रभाव

  • जिगर और गुर्दे की बीमारी वाले मरीजों को क्रेस्टर का सावधानी से और डॉक्टर की सलाह से ही लिया जाना चाहिए। यदि जिगर का काम सामान्य नहीं है तो इस दवा को बंद करें।
  • सक्रिय मांसपेशियों के विकार वाले मरीजों को क्रेस्टर लेने से पहले ध्यान से निगरानी की जानी चाहिए। यदि मांसपेशियों में दर्द या मांसपेशियों की कमजोरी जैसे लक्षण दिखाई दें तो तुरंत सूचित किया जाना चाहिए।
  • मधुमेह के रोगियों को भी क्रेस्टर का सावधानी से उपयोग किया जाना चाहिए क्योंकि यह रक्त में ग्लूकोज के स्तर में वृद्धि का कारण बनता है। ऐसे मरीजों के लिए रक्त में ग्लूकोज की नियमित जांच होनी चाहिए|
और पढो: एनॉक्सैरिन | एंट्रेस्टोएपीपेन

एलर्जी प्रतिक्रियाएं

यदि इसके किसी भी तत्व से एलर्जी है तो क्रेस्टर लेने के दौरान एलर्जी के निम्न लक्षण दिखाई दे सकते हैं:

  • लाल चकत्ते
  • सीने में जकड़न
  • खुजली
  • सांस लेने में कठिनाई
  • चेहरे, होंठ, जीभ या गले की सूजन।

दवा इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

बड़ी संख्या में दवाओं को एक-दूसरे पर प्रभाव डालते देखा गया है। इसलिए रोगी को अपने चिकित्सक को सभी दवाइयों या काउंटर उत्पादों या विटामिन की खुराक के इस्तेमाल के बारे में बताना चाहिए।

क्रेस्टर के साथ अन्य दवाओं लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें। सभी इंटरैक्शन करने वाली दवाओं यहां सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता जिसमे से कुछ महत्वपूर्ण निम्न हैं:

  • शराब
  • केटाकोनाजोल
  • इटराकोनाजोल
  • इरीथ्रोमाइसीन
  • रिफैम्पिसिन
  • वारफरिन
  • नियासिन
  • गर्भनिरोधक गोली
  • कोल्चिसिनस
  • साइक्लोस्पोरिन
  • अन्य कोलेस्ट्रॉल वाली दवाओं को कम करना

प्रभाव या परिणाम

क्रेस्टर को मुंह द्वारा लिए जाने के 2 से 3 सप्ताह बाद कोलेस्ट्रॉल के स्तर में बदलाव देखा जाता है। यहां तक ​​कि यदि लक्षण गायब भी हो जाएँ  तब तक इसे लेते रहना चाहिए।

सामान्य प्रश्न

क्या क्रेस्टर नशे की लत है?

ऐसी कोई सूचना नहीं मिली है।

क्या शराब के साथ क्रेस्टर ले सकते हैं?

क्रेस्टर के साथ शराब लेने से जिगर खराब होने की संभावनाएँ बढ़ जाती हैं इस प्रकार शराब के साथ क्रेस्टर लेने से बचना चाहिए।

क्या किसी भी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

क्रेस्टर के साथ अंगूर का रस लेने से शरीर में इसके प्रतिकूल प्रभावों में बढ़ावा हो सकता है। इसलिए क्रेस्टर के साथ बड़ी मात्रा में अंगूर का रस पीने से बचें।

क्या गर्भवती होने पर क्रेस्टर ले सकते हैं?

गर्भवती महिलाओं में क्रेस्टर को भ्रूण पर प्रतिकूल प्रभाव डालते देखा गया है। इसलिए गर्भवती होने पर इसे लेने से बचें।

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान क्रेस्टर ले सकते हैं?

महिलाओं को स्तनपान कराने के दौरान क्रेस्टर का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि यह दवा स्तन के दूध में से गुजर सकती है और बच्चे पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकती है।

क्या क्रेस्टर लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

क्रेस्टर ड्राइव करने की आपकी क्षमता को प्रभावित नहीं करता|

यदि क्रेस्टर अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?

इसे तय की गयी मात्रा से अधिक नहीं लेना चाहिए। अधिक दवा लेने से या बढ़ी हुई मात्रा में लेने से रक्त में कोलेस्ट्रॉल कम नहीं होगा बल्कि गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

यदि एक्सपायरी हो चुकी क्रेस्टर लें तो क्या होगा?

ऐसी दवा काम नहीं कर सकती, इसके बारे में अपने चिकित्सक को सूचना दें। सुरक्षित रहने के लिए हमेशा एक्सपायरी दवा की जांच करें और कभी भी इसका उपयोग न करें।

यदि क्रेस्टर की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होता है?

जैसे ही आपको याद आये तुरंत अपनी छोड़ी गई खुराक लें| लेकिन यदि दूसरी खुराक का पहले से ही समय हो गया हो तो दोगुनी खुराक ना लें|

भंडारण

  • इसे कमरे के तापमान पर सीधी गर्मी और प्रकाश से बचाकर रखें|
  • बच्चों और पालतू जानवरों को इस दवा से दूर रखें।

क्रेस्टर लेते समय टिप्स:

पहले से मौजूद मांसपेशियों की कमजोरी, मांसपेशियों की बीमारी, मधुमेह और जिगर की बीमारी वाले मरीजों को क्रेस्टर का सावधानीपूर्वक से प्रयोग करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × four =