Crocin in Hindi क्रोसिन: उपयोग, फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां

0
271172

crocin fayde nuksan in hindi

1Crocin and Its Uses in Hindi – क्रोसिन क्या है और इसके उपयोग?

  • क्रोसिन में मुख्य घटक के रूप में पेरासिटामोल होता है।
  • यह बुखार, दांत के दर्द, स्त्री रोग के दर्द, ऑस्टियो-आर्थराइटिस और सिर के दर्द वाले मरीजों के लिए है।
  • इसे विशेष रूप से बच्चों में बुखार के लिए सबसे अच्छी दवा माना जाता है|
  • पेट की जलन के लिए यह एस्पिरिन से कहीं ज्यादा सुरक्षित दवाई है| यह खून बहने का समय को भी नहीं बढाती|
  • इससे होने वाली एलर्जी प्रतिक्रियाएं दुर्लभ हैं और इनका उपयोग सभी आयु वर्ग के लोगों बुजुर्गों, शिशुओं, गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं में भी किया जा सकता है जिन्हें की एस्प्रिन की मनाही होती है|

इसको महत्वपूर्ण दवाओं के साथ लेने पर कोई प्रभाव नहीं है। इसलिए इसे मामूली स्थितियों में भी एस्पिरिन के ऊपर प्राथमिकता दी जाती है।

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: नेटमेड्स|पिनहेल्थ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + ten =