दार्जिलिंग में जाने के लिए 10 स्थान

0
3109
darjeeling-west-bengal-best-places-in-hindi

darjeeling-west-bengal-best-places-in-hindi

दार्जिलिंग के बारे में

हिमालय की तलहटी पर स्थित पश्चिम बंगाल राज्य का एक शहर दार्जिलिंग  6,700 फीट की ऊंचाई पर स्थित भारत के पूर्वी हिस्सों में सबसे सुंदर पहाड़ी स्थान है। यहाँ के शानदार चाय बागानों, सूर्योदय पॉइंट, मनोरंजक तिब्बती व्यंजनों और पर्वत की ढलानों को देखने के लिए अपने जीवनकाल में एक बार जरूर जाना चाहिए।

सामन्य ज्ञान: इसे ‘हिमालय की रानी’ कहा जाता है।

क्यों जाएं: सांस्कृतिक विरासत, प्रकृति में घूमने,  आर्किटेक्चर

आदर्श: परिवार, मित्र, एकल यात्रा, ट्रेकिंग – प्रेमी

लाने के लिए चीजें: तिब्बती मास्क, भूटिया पेंटिंग्स, खिलौना ट्रेन मॉडल, ठनका, पश्मीना शॉल, खुकरी, दार्जिलिंग चाय

दार्जिलिंग में जाने के लिए स्थान

10.पद्मजा नायडू हिमालयी जूलॉजिकल पार्क

इस प्राणी उद्यान की स्थापना 1958 में हुई थी और इसका अपना नाम पश्चिम बंगाल के पूर्व गवर्नर पद्मजा नायडू के नाम पर मिला| यहाँ विभिन्न प्रकार के जंगली जानवर हैं और उनकी गंभीर रूप से लुप्तप्राय प्रजातियां हैं जैसे कि हिमालय वुल्फ और रेड पांडा। जूलॉजिकल पार्क को ‘दार्जिलिंग चिड़ियाघर’ भी कहा जाता है क्योंकि इसमें हिम तेंदुए, साइबेरियाई टाइगर, यक्स और कई अन्य लुप्तप्राय प्रजातियां शामिल हैं। इसके अलावा, आप अपने मित्रों और परिवार के साथ चिड़ियाघर में हिमालयी वनस्पति का आनंद भी ले सकते हैं।

शहर से दूरी: 3 कि.मी दूर

अपेक्षित समय: 1-2 घंटे

यात्रा का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष दौर

9. दार्जिलिंग हिमालय रेलवे

1879 से 1881 के बीच बनने वाली, नई जलपाईगुड़ी से दार्जिलिंग के बीच चलने वाली यह दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे की 2 फीट की तंग लाइन वाली टॉय ट्रेन है जिसकी लम्बाई 88 किलोमीटर है| दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे को 2 दिसंबर, 1991 में यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत स्थल घोषित किया गया| इस खिलौना ट्रेन से यात्रा करते हुए आप कई खूबसूरत पहाड़ियों, परिदृश्य और स्थानीय दुकानों की जगहों का आनंद ले सकते हैं। ट्रेन की गति इतनी धीमी है कि आप चलती हुई ट्रेन से चढ़ और उतर सकते हैं|

शहर से दूरी: 20 कि.मी

अपेक्षित समय: 1-2 घंटे

यात्रा का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

8. टाइगर हिल

समुद्र तल से 2590 मीटर की औसत ऊंचाई पर स्थित टाइगर हिल्स सबसे शानदार सूर्योदय के दृश्यों के लिए प्रसिद्ध है जहां से आप कंचनजंगा की प्रबुद्ध चोटियां भी देख सकते हैं। कपास की तरह उड़ते हुए बादलों को, बर्फ से ढके पहाड़ों को देखने का अनुभव ही कुछ अलग होता है| इस अद्भुत सौंदर्य की झलक पाने के लिए हजारों पर्यटक यहाँ घूमते रहते हैं।

शहर से दूरी: 22 कि.मी

अपेक्षित समय: 2-3 घंटे

यात्रा पर जाने का सबसे अच्छा समय: गर्मियों में

7. बटासिया लूप

बटासिया लूप दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे का सबसे सुंदर ट्रेन मार्ग है। शुरू में तो इसे पहाड़ की ढलान की ढाल को कम करने के लिए बनाया गया था| यह एक बार आजीवन अनुभव में है इस जगह पर इको गार्डन और वॉर मेमोरियल (गोरखा सैनिक) जैसे स्थानीय आकर्षण भी शामिल हैं। इस टॉय ट्रेन के माध्यम से पहाड़ों और ढलानों का एक आकर्षक दृश्य लिया जा सकता है|

शहर से दूरी: 3 कि.मी

अपेक्षित समय: 2-3 घंटे

यात्रा का सर्वोत्तम समय: नवंबर-मार्च

6. सैंडकफू ट्रेक

दार्जिलिंग ट्रेक दुनिया की पांच सबसे ऊंची चोटियों में से चार का सुंदर दृश्य पेश करता है। आप चार चोटियों कंचनजंगा, एवरेस्ट, मकालू और लोत्से का एक अद्भुत अनुभव ले सकते हैं|

पश्चिम बंगाल की सबसे ऊंची चोटी सैंडकफू पीक समुद्र तल से 11, 9 41 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह ट्रेक 51 कि.मी लंबा है और साहसिक साधकों के लिए सबसे उपयुक्त है क्योंकि यह रास्ता विभिन्न इलाकों, चुनौतीपूर्ण घाटियों और हरे-भरे हरे बगीचों के बीच से गुज़रता है। इन उद्यानों में जंगली फूल होते हैं जो प्रकृति रूप से तो जहरीले होते हैं लेकिन देखने में रंगीन और आकर्षक लगते हैं| इसे ‘जहरीले पौधों का पहाड़’ भी कहा जाता है।

शहर से दूरी: 27 कि.मी

अपेक्षित समय: 2-3 घंटे

यात्रा का सर्वोत्तम समय: नवंबर-मार्च

5. हिमालयन माउंटेन इंजीनियरिंग संस्थान

हिमालयन माउंटेन इंजीनियरिंग संस्थान दुनिया का सर्वश्रेष्ठ पर्वतारोहण संस्थान है। इसकी स्थापना 4 नवंबर, 1954 में पर्वतारोहण में शामिल होने वाले लोगों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से स्थापित की गयी थी| इस शानदार संस्थान के इलावा यह एक पर्यटक स्थल बन गया है क्योंकि यहाँ दुनिया की सबसे ऊंची चोटी, कंचनजंगा का सुरम्य दृश्य दिखाई देता है।

शहर से दूरी: 3 कि.मी

अपेक्षित समय: 2-3 घंटे

यात्रा का सर्वोत्तम समय: नवंबर-मार्च

4. सिंगलिला नेशनल पार्क

समुद्र तल से 7000 फीट से अधिक की ऊंचाई पर स्थित यह पश्चिम बंगाल का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है| यह ट्रैक-प्रेमी और साहसी लोगों के लिए एक स्वर्ग है क्योंकि यह ट्रेकिंग का  एक मार्ग प्रदान करता है। इस राष्ट्रीय उद्यान में पक्षियों की 120 विभिन्न प्रजातियों के इलावा  वनस्पतियों और जीवों की भी अन्य प्रजातियां शामिल हैं|

शहर से दूरी: 20 कि.मी

अपेक्षित समय: 1-2 घंटे

यात्रा का सर्वोत्तम समय: नवंबर-मार्च और जून-अगस्त

3. मठ

यदि आपको दार्जिलिंग के सार का अनुभव करना हो तो आपको इन मठों पर जाना चाहिए:

  • घूम मोनस्ट्री (मैत्रेय बुद्ध की मूर्ति)
  • अलौबारी गोम्पा (सबसे पुराना मठ)
  • भूटिया बस्टी गोम्पा (पर्वत शिखर के सुंदर दृश्य)

शहर से दूरी: 2 कि.मी दूर

अपेक्षित समय: 1-2 घंटे

यात्रा का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

2. हैप्पी वैली टी एस्टेट

6800 फीट की ऊंचाई पर स्थित हैप्पी वैली टी एस्टेट 437 एकड़ में फैला हुआ है| यह चाय बागान और चाय के उत्पादन के इतिहास की शहर में दूसरी सबसे पुरानी चाय संपत्ति है। यहाँ आने वाली चाय की सुगंध और हर-भरा वातावरण किसी को भी भीतर तक ताज़ा कर देता है| आपको एक गाइड के साथ कारखाने में घूमने की अनुमति है जो चाय के उत्पादन और निर्माण की प्रक्रिया को समझाता है। आप दुकानों पर उपलब्ध हैप्पी वैली चाय भी खरीद सकते हैं।

शहर से दूरी: 2 कि.मी दूर

अपेक्षित समय: 1-2 घंटे

यात्रा का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

1. बंगाल नेचुरल हिस्ट्री म्यूजियम

यह संग्रहालय जूलॉजिकल पार्क में स्थित है और इसमें विभिन्न पक्षियों, सरीसृप, कीड़े, मछलियों के संरक्षित अवशेष हैं। संग्रहालय, बेसमेंट और जमीन के तल के दो खंड हैं। संग्रहालय में एक छोटी पुस्तकालय भी शामिल है जहां पर वनस्पतियों और जीवों के बारे में कुछ रोचक किताबें भी हैं।

शहर से दूरी: 3 किमी दूर

अपेक्षित समय: 1-2 घंटे

यात्रा का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

दार्जिलिंग के अन्य आकर्षण

  • जापानी पीस पगोडा
  • रॉक गार्डन
  • नाइटिंगेल पार्क
  • ऑब्जर्वेटरी हिल

दार्जिलिंग तक कैसे पहुंचे

उड़ान, ट्रेन, सड़क

निकटतम हवाई अड्डा:

बागडोगरा हवाई अड्डा (9 5 कि.मी दूर)

उड़ान टिकटों पर बचत का लाभ उठायें: गोआईबीबो घरेलू उड़ानें, घूमो, मुसाफिर उड़ानें

निकटतम रेलवे स्टेशन:

न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन

सड़क:

नियमित बस सेवाएं कोलकाता, दिल्ली, कोच्चि, बेंगलुरू जैसे प्रमुख शहरों से संचालित होती हैं। बसों द्वारा दार्जिलिंग जोकि एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है, की यात्रा की जा सकती है|

अपनी बस टिकट बुक करें: मायबसटिकट,  ईट्रेवलस्मार्ट, बोबे

 

दार्जिलिंग में कहाँ रहें

होटल सोनार बांग्ला दार्जिलिंग, केंद्रीय हेरिटेज रिज़ॉर्ट और स्पा, समिट ग्रेस होटल

अपना होटल बुक करके लाभ उठा सकते हैं: ट्रिवागो कूपन, गोआईबीबो होटल कूपन, मेकमाय ट्रिप होटल कूपन कोड

आसपास के देखने के लिए स्थान (सप्ताहांत गेटवे)

  • गंगटोक (48 किलोमीटर)
  • कालीम्पोंग (21 किलोमीटर)
  • पश्चिम सिक्किम (32 किलोमीटर)
  • कुर्सिओंग (17 किलोमीटर)
  • मिरिक (18 किलोमीटर)
  • दक्षिण सिक्किम (18 किलोमीटर)
  • उत्तर सिक्किम (58 किलोमीटर)
  • जलपाईगुड़ी (74 किलोमीटर)

छिपे हुए रत्न

  • नेहरू रोड पर स्ट्रीट मार्केट में छोटे स्मृति चिन्ह, क्यूरो, पारंपरिक जूते, खुकरी, जंपर्स, स्कार्फ और हस्तशिल्प वस्तुओं खरीद सकते हैं|
  • गुडरिक चाय एस्टेट अपनी सुगंध के साथ विभिन्न प्रकार की चाय प्रदान करता है|
  • ‘दार्जिलिंग मोमोस’ से स्वादिष्ट मोमोस खाना न भूलें|
  • तेली होटल में स्थानीय बियर ‘टोंगाबा’ की कुछ बोतलें भी जरूर खरीदें|

कैशकारो की सलाह

  • थुपका प्रसिद्ध व्यंजन है जिसमें मसालेदार सब्जी और सूप होता है। थुपका नूडल सूप से सूपी नूडल का कटोरा लें।
  • तेली होटल में ‘सेल रोटी और’ दम आलू खाना ना भूलें|
  • चौक बाजार से पोशाक सामग्री, कपड़े और घरेलू शिल्प खरीद सकते हैं।
  • तिरुपति हैंडलूम एम्पोरियम में विभिन्न प्रकार के शॉल, स्वेटर और जैकेट होते हैं

यात्रा करने का सबसे मजेदार तरीका

दार्जिलिंग आसपास के शहरों से सड़क से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। आप अपनी कार द्वारा रास्ते में पहाड़ी की चोटी के सुंदर दृश्यों का आनंद लेते हुए यात्रा कर सकते हैं। आप यात्रा के दौरान पारंपरिक तिब्बती व्यंजनो का आनंद लेने के लिए भी रुक सकते हैं।

यदि आप अपनी कार से नहीं जाना चाहते तो आप कार किराए पर भी ले सकते हैं:

ज़ूमकार, बलाबला कार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten + six =