धर्मशाला में 17 दर्शनीय स्थलों की यात्रा (Best Places to visit in Dharamshala in Hindi)

dharamshala-himachal-pradesh-best-places-in-hindi

Table of Contents

धर्मशाला में 17 दर्शनीय स्थलों की यात्रा (Best Places to visit in Dharamshala in Hindi)

के रूप में जाना जाता है, धर्मशाला दलाई लामा और केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के मुख्यालय का घर है जिसका पहले नाम भगतू था|फिर 2017 में  शिमला के बाद धर्मशाला को हिमाचल प्रदेश की दूसरी राजधानी घोषित कर दिया गया था। यह छोटा सा शहर ऊपरी कंगड़ा घाटी में स्थित है और धौलाधर पर्वत श्रृंखला से घिरा हुआ है। यह शंकुधारी जंगलों, बर्फ से ढकी हुई पहाड़ियों और आश्चर्यजनक मठों का शहर है।

क्यों जाएं: प्राकृतिक सौंदर्य,  जलवायु, संस्कृति

आदर्श: आराम के लिए यात्राएं,  प्रकृति में घूमना, एकल यात्रा, ट्रेकिंग, डेरा डालना

सामन्य ज्ञान: धर्मशाला का नाम का अर्थ “आध्यात्मिक निवास” है|

लाने के लिए चीजें: लूम से बुने हुए शॉल और स्कार्फ, हस्तशिल्प, कलाकृतियां, तिब्बती प्रार्थना झंडे, गहने और अन्य सामान


Places to visit in Dharamshala in Hindi – धर्मशाला में जाने के लिए जगहें

17. धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम (HPCA Stadium)

र्मशाला क्रिकेट स्टेडियम, HPCA Stadium one of the touritst places in dharamshalaसमुद्र तल से 1,457 मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह क्रिकेट स्टेडियम दुनिया का सबसे ज्यादा ऊंचाई पर स्थित एकलौता स्टेडियम है जिसकी पृष्ठभूमि में सुंदर बर्फ से ढकी हुई चोटियां  स्टेडियम के रंगों में वलीन होती जान पड़ती हैं| इस स्टेडियम पर आने का कार्यक्रम प्रत्येक पर्यटक के यात्रा कार्यक्रम में जरूर होना चाहिए|

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 34 कि.मी

अपेक्षित समय: एक घंटे से भी कम

आदर्श: मित्र,  परिवार, प्रकृति प्रेमी, क्रिकेट प्रशंसक

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

16. सेंट जॉन वाइल्डनेस चर्च (St. John in the Wilderness)

सेंट जॉन वाइल्डनेस चर्च, St. John in the Wilderness is one of the tourist places in dharamshala

1852 में बनाया गया यह नियो-गॉथिक चर्च में बेल्जियम की खिड़कियों, भूरे रंग के पत्थरों और सुंदर देवदार के पेड़ों से घिरा हुआ है| 1905 में आये एक बड़े भूकंप ने जब पूरे शहर को हिलाकर रख दिया था, लेकिन यह चर्च फिर भी बच गया था|

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 5.2 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी,  भक्त

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

15. वॉर मेमोरियल (Dharamshala War Memorial)

वॉर मेमोरियल, Dharamshala War Memorial is one of the tourist places in dharamshalaयह स्मारक 1962 के भारत-चीन युद्ध, सन 1947, 1965, 1971 के भारत-पाक युद्ध और संयुक्त राष्ट्र ‘शांति अभियान में लड़ने वाले शहीदों की याद में बनाया गया था| इन सैनिकों के नाम यहाँ काले संगमरमर के पैनलों नक़्क़ाशी किये हुए हैं और यह पूरा क्षेत्र मोटे देवदार के पेड़ों से ढका हुआ है।

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 2.6 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र,  परिवार,  प्रकृति प्रेमी, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

14. नाम आर्ट गैलरी (Name Art Gallery)

नाम आर्ट गैलरी, Name Art Gallery is one of the tourist places in dharamshalaइस छोटी सी कला गैलरी में दो प्रसिद्ध यूरोपीय कलाकारों (एल्सेबेथ बुशमान और अल्फ्रेड डब्ल्यू हैलेट) द्वारा बनाए गये पानी के रंगों, एक्रिलिक और आयल कलर से बने चित्रों का प्रदर्शन है। यदि आप कला के प्रशंसक हैं, तो आपको इस गैलरी में कुछ समय जरूर बिताना चाहिए|

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 6.6 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, कला प्रशंसक

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

13. ग्यूतो मठ (Gyuto Tantric Monastery Temple)

ग्यूतो मठ, Gyuto Tantric Monastery Temple is one of the tourist places in Dharamshala1474 में तिब्बत में वास्तविक ग्यूतो मठ की स्थापना की गई थी। अंतिम बौद्ध वंशावली से महान संत और विद्वान, त्सोंगखपा जो जेलं6 वंशावली से थे, जिन्होंने विभिन्न मठों में तांत्रिक शिक्षा विकसित की थी| धर्मशाला का यह मठ उसी विद्वान द्वारा तांत्रिक साधना, अनुष्ठान और बौद्ध दर्शन के लिए शुरू किया गया|

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 7.8 कि,मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, इतिहास के दीवाने, सांस्कृतिक अंतर्दृष्टि

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

12. भागसुनाथ मंदिर और भागसु फाल्स (Bhagsunath Temple & Bhagsunath Falls)

भागसुनाथ मंदिर और भागसु फाल्स, Bhagsunath Temple & Bhagsunath Falls is one of the tourist places in Dharamshalaमैकलोडगंज में भगवान शिव को समर्पित एक छोटा प्राचीन भागसुनाथ मंदिर मुख्य बाजार से थोरी ही दूरी पर स्थित है। इस मंदिर के आस पास एक छोटा सा बाजार, होटल लॉज और एक सार्वजनिक स्विमिंग है। वहीँ से दस मिनट की पैदल दूरी पर भगासु फॉल है| आप पहाड़ी की छोटी पर चढते हुए रास्ते में प्रसिद्ध कैफे पर रुक सकते हैं।

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 6.3 कि.मी

अपेक्षित समय: 2 – 3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, भक्त

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

 और पढो: मनाली |मैकलोडगंज|कसोल |कसौली

11. चाय गार्डन (Tea Garden Dharamshala)

चाय गार्डन, Tea Garden Dharamshala is one of the tourist places धर्मशाला के हरे-हरे चाय के बागान पर्यटकों के आकर्षण का मुख्य केंद्र हैं। आप यहाँ तस्वीरों के लिए रुककर कुछ समय के लिए आराम भी कर सकते हैं और घर ले जाने के लिए चाय भी खरीद सकते हैं।

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 2.1 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, चाय प्रेमी

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

10. नंदी व्यू प्वाइंट (Naddi View Point)

 नंदी व्यू प्वाइंट, Naddi View Point one of the tourist places in dharamshalaनड्डी एक छोटा और सुंदर गांव है जो मैकलोडगंज से सिर्फ 3 कि.मी दूर है। इस पॉइंट पर आप दूरबीन के द्वारा इस जगह की सुंदरता का आनन्द ले सकते हैं। कम शुल्क पर पर मिलने वाली मार्गदर्शिका आपको विभिन्न दूरदराज के शिविरों, चोटियों और अन्य स्थानों के बारे में निर्देशित करती है| एक छोटा योग केंद्र को देखने के लिए थोडा और आगे चलना पड़ेगा|

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 8.6 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

9. ज्वालामुखी मंदिर (Jwalamukhi Temple)

ज्वालामुखी मंदिर, Jwalamukhi Temple is one of the tourist places in dharamshaalaकांगड़ा के राजा भूमिचंद कटोच ने इस पवित्र स्थान को सपने में देखा था और फिर यहां एक मंदिर का निर्माण करवाया| यह मंदिर देवी के ज्वलंत चेहरे को समर्पित है – जिसे ज्वालामुखी कहते हैं और यहां माँ की मूर्ति की बजाय लौ की पूजा की जाती है।

यह मंदिर शांत पहाड़ियों से घिरा हुआ एक शक्ति-पीठ है क्योंकि यहाँ पर देवी सती की जीभ गिरी थी|

दूरी: शहर के केंद्र से 38 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, भक्त

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

8. नामग्याल मठ (Namgyal Monastery)

नामग्याल मठ , Namgyal Monastery one of the tourist places in dharamshalaदूसरे दलाई लामा लांसा में गेंडुन ग्यातोसो ने 1565 के आसपास इस मठ की स्थापना की थी। 1959 के तिब्बत विद्रोह के बाद यह मत धर्मशाला में स्थानांतरित हो गया और तब से यह वहीँ है। मठ में 200 से भी ज्यादा भिक्षु हैं जो चार तिब्बती मठवासी वंशों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 4.5 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, भक्त, सांस्कृतिक अंतर्दृष्टि, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

7. दलाई लामा मंदिर (त्सुगलगखांग) कॉम्प्लेक्स एंड तिब्बत संग्रहालय (Dalai Lama Temple Complex)

दलाई लामा मंदिर (त्सुगलगखांग) कॉम्प्लेक्स एंड तिब्बत संग्रहालय, Dalai Lama Temple Complexल्हासा में जोखांग मंदिर की तरह ही  त्सुगलगखांग मंदिर में भी सकामुनी बुद्ध, अवलोक्तेश्वर और पद्मसंभव की सुनहरी मूर्तियाँ है। परिसर के अंदर पुस्तकालय और संग्रहालय भी है| यहाँ का वातावरण और परिवेश एकदम शांत हैं।

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 4.5 कि.मी

अपेक्षित समय: 1-2 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, भक्त, सांस्कृतिक अंतर्दृष्टि, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

6. कंगड़ा फोर्ट (Kangra Fort)

कटोच राजवंश के शाही राजपूत परिवार द्वारा बनवाया गया यह किला भारत में सबसे पुराने किलों में से एक और हिमालय का सबसे बड़ा किला है। किले के आस-पास के अन्य आकर्षण अहानी और अमीरी दरवाजे,  दरसानी दरवाजा, लक्ष्मी-नारायण और अंबिका देवी मंदिर हैं।

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 24.6 कि.मी

अपेक्षित समय: 2 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, भक्त, सांस्कृतिक अंतर्दृष्टि, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

5. कंगड़ा आर्ट म्यूजियम (Kangra Art Museum)

इस संग्रहालय में आपको बौद्ध और तिब्बती कलाकृतियों का अद्भुत प्रदर्शन मिलता है। अनमोल संग्रहणीय चीज़ें गहने, सिक्के, पेंटिंग्स, मूर्तियां इत्यादि आपको पुराने समय में वापस ले जाती हैं|

दूरी: कोवातली बाजार के पास शहर के केंद्र से 0 कि.मी

अपेक्षित समय: 2 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

4. अघंजर महादेव मंदिर (Aghanjar Mahadev)

अघंजर महादेव मंदिर, Aghanjar Mahadev one of the tourist places in dharamshalaजंगलों और पहाड़ों से घिरा हुआ यह मंदिर खन्यारा गांव के पास स्थित है। इसके पास ही एक छोटी सी धारा बहती है। कहा जाता है कि जब अर्जुन कैलाश पर्वत के रास्ते जा रहा था तो भगवान शिव उनके सामने यहीं उपस्थित हुए और उसे कौरवों पर विजय का आशीर्वाद दिया।

दूरी: 7. शहर के केंद्र से 5 कि.मी

अपेक्षित समय: 2 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, भक्त

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

3. मसरूर रॉक कट मंदिर (Masrur Temples)

हिंदू धर्म के देवताओं शिव, विष्णु, देवी और सौर परंपराओं को समर्पित 8वीं शताब्दी का यह रॉक कट मंदिर नागारा शैली वास्तुकला से बना है जिसमें एक पवित्र सरोवर भी शामिल है। यह एक बुद्धिमान डिजाइन का प्रदर्शन है

दूरी: शहर के केंद्र से 45 कि.मी

अपेक्षित समय: 2 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, भक्त, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

2. नॉरबुलिंगका संस्थान (Norbulingka Institute)

नॉरबुलिंगका संस्थान, Norbulingka Institute is one of the tourist places in dharamshalaसाहित्यिक और कलात्मक तिब्बती संस्कृति को संरक्षित करने के लिए 1988 में की इस संस्थान की स्थापना की गई थी। यह ल्हासा में दलाई लामा का पारंपरिक ग्रीष्मकालीन निवास है। यह संस्थान तिब्बतियों को प्रशिक्षण, शिक्षा और रोजगार के अवसर प्रदान करता है। तिब्बत की कला और शिल्प के बारे में और जानने के लिए यहाँ जरूर आना चाहिए|

दूरी: कोटवाली बाजार से 7.6 कि.मी

अपेक्षित समय: 2 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी, भक्त, इतिहास के दीवाने

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

1. त्रिउंड (Triund)

त्रिउंड , Triund is one of the tourist places in dharamshalaएक छोटी पहाड़ी और एक लोकप्रिय ट्रेकिंग स्पॉट त्रिउंड 2,828 मीटर की ऊंचाई पर है जहाँ से  इस चोटी के बर्फ से ढके पहाड़ों का सुंदर दृश्य दिखाई देता है। रास्ते जंगल से होकर निकलता है और हरे घास के मैदान सर्दियों में बर्फ से धक जाते हैं|

दूरी: धर्मशाला बस स्टैंड से 6.4 कि.मी

अपेक्षित समय: 1 घंटा

आदर्श: मित्र, परिवार, प्रकृति प्रेमी,  भक्त

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष

स्थान: नेविगेट करें

देखने के लिए अन्य आस-पास के स्थान:

  • मनाली 97 कि.मी
  • कुल्लू 93 कि.मी
  • मंडी 89 कि.मी

धर्मशाला कैसे पहुंचे

Airports in Dharamshala – निकटतम हवाई अड्डा:

काँगड़ा हवाई अड्डा, गग्गल

अपनी उड़ानें बुक करके पैसा बचाएं: गोआईबीबो फ्लाइट कूपन, मेकमायट्रिप  उड़ान कूपन, पेटीएम उड़ान कूपन

Railway Stations in Dharamshalaनिकटतम रेलवे स्टेशन:

पठानकोट

Bus Stands in Pune – निकटतम बस स्टॉप:

पठानकोट, इंटर-स्टेट बस टर्मिनल, धर्मशाला

इन कूपन का उपयोग कर एच.आर.टी.सी बसें या अन्य निजी बसों को बुक करें: रेडबस कूपन, ट्रेवलयारी कूपन

सड़क यात्रा करें!

हमाई आपको यही सलाह है कि यदि आपको धर्मशाला जाना है तो जीवन में एक बार सड़क यात्रा का अनुभव जरूर करना चाहिए| यदि आप अपनी कार से नहीं जाना चाहते तो आप कार  किराए पर भी ले सकते हैं। कार किराए पर लेकर पैसे बचाने के लिए इन प्रोमो कोड का उपयोग करें: एविस प्रोमो कोड, ज़ूमकार प्रोमो कोड


Hotels in Dharamshala – धर्मशाला में कहां रहें

  • उदेची हट्स (Hotel Udechee Huts)
  • द सोजौर्ण (Shyama Sojourn)
  • विला पैराडिसो पिंक हाउस (The Horizon Villa)
  • द क्वार्ट्ज (The Quartz)

बुक करें: बुकिंग.कॉम कूपन, हिल्टन कूपन, होटल्स.कॉम कूपन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + fourteen =