डिफ्लुकन (Diflucan in hindi): उपयोग, खुराक, मूल्य, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां

0
747
diflucan fayde nuksan in hindi

डिफ्लुकन क्या है?

डिफ्लुकन एक एंटी-फंगल दवा है जिसका प्रयोग विभिन्न प्रकार के फंगल संक्रमणों के इलाज के लिए किया जाता है।

डिफ्लुकन का उपयोग

इसका उपयोग फंगल संक्रमण के उपचार, नियंत्रण, रोकथाम और सुधार के लिए किया जाता है-

  • मुंह या गला
  • घेघा
  • जननांग-पथ
  • पैरों के नाखून
  • हाथों के नाखून
  • त्वचा संक्रमण जैसे एथलीट फुट, रिंगवर्म संक्रमण और कुछ प्रकार के डैंड्रफ़।
इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: 1 एमजीमाइरा मेडिसिन

डिफ्लुकन कैसे काम करता है?

  • डिफ्लुकन एंटीफंगल दवाओं के अज़ोल समूह से संबंधित है।
  • यह भिन्न प्रकार के कवक के विकास को रोकने का काम करता है।
  • यह फंगल कोशिकाओं के चारों ओर झिल्ली के उत्पादन को रोकता है।

डिफ्लुकन कैसे लें?

  • डिफ्लुकन गोलियों और सिरप के रूप में मिलता है।
  • इस दवा की खुराक और लेने का तरीका आपके डॉक्टर द्वारा ही तय होना चाहिए|
  • डिफ्लुकन की गोलियाँ- इसे टैबलेट को चबाये बिना पूरी तरह से निगलें|
  • पेट की परेशानी से बचने के लिए डिफ्लुकन की गोलियां पूरी तरह भोजन के साथ लेनी चाहिए।
  • एंटासिड लेने के 2 घंटे पहले या 1 घंटे के बाद ही डिफ्लुकन लेनी चाहिए क्योंकि एंटासिड डिफ्लुकन के अवशोषण में बाधा डाल सकती है।
  • यदि आप ऐसी दवाएं ले रहे हैं जो पेट में अम्लता को कम कर सकती हैं (जैसे कि रेनिटाइडिन, फैगोपीडाज़ोल, ओमेपेराज़ोल, रैबेपेराज़ोल), यह सलाह दी जाती है कि दवा को कार्बोनेटेड कोला पेय या क्रैनबेरी के रस के साथ अवशोषण में सुधार करने के लिए सलाह दी जाए।
  • जब तक डॉक्टर द्वारा अनुशंसित किया जाता है तब तक डिफ्लुकन का उपयोग जारी रखा जाना चाहिए।
और पढो: डोक्साज़ोसिन के नुकसानडॉक्सोर्यूबिसिन के नुकसानक्लोरफेनेरमाइन मालेनेट के नुकसान

भारत में डिफ्लुकन का मूल्य

12.45 रुपये में 10 गोलियों की स्ट्रिप

डिफ्लुकन की सामान्य खुराक

इस दवा चिकित्सक द्वारा खुराक का निर्णय इस पर आधारित है:

  • रोगी के स्वास्थ्य की स्थिति या चिकित्सा की स्थिति
  • लक्षणों की गंभीरता
  • पहली खुराक लेने पर प्रतिक्रिया
  • एलर्जी या दवा प्रतिक्रियाओं का इतिहास
  • 12 साल से कम आयु के बच्चों को देने से पहले डॉक्टर से परामर्श करें|
  • डॉक्टर की सहमति के बिना या कभी की भी सिफारिश से इसे लंबे या अधिक समय तक उपयोग न करें।

डिफ्लुकन से कब बचें?

यदि आपको निम्न लक्षण हैं तो डिफ्लुकन लेने से बचें: –

  • डिफ्लुकन या किसी भी अन्य एंटी-फंगल दवा से एलर्जी।
  • जिगर की बीमारी
  • गुर्दे की बीमारी
  • हृदय रोग (दिल की विफलता, कोरोनरी धमनी रोग, हृदय वाल्व रोग)
  • फेफड़ों की बीमारी (पुरानी अवरोधक फुफ्फुसीय बीमारी)
  • पेट में एसिड ना होना
  • रक्त में पोटेशियम या मैग्नीशियम का निम्न स्तर।
  • यदि टेस्टोस्टेरोन, कोर्टिसोल का स्तर कम हुआ हो या एडिसन की बीमारी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर को सूचित करें।

डिफ्लुकन के दुष्प्रभाव

सभी दवाओं के कुछ दुष्प्रभाव होते ही हैं। लेकिन यह दुष्प्रभाव हमेशा नहीं होते लेकिन आपको लगता है कि आपको निम्न में से कुछ भी है तो अपने डॉक्टर से सलाह लें-

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • दस्त
  • पेट में गैस
  • बुखार
  • लाल चकत्ते
  • थकान, मांसपेशियों का दर्द, जोड़ों का दर्द
  • सूजन
  • चक्कर आना
  • घबराहट, भ्रम, अवसाद
  • दृष्टि में परिवर्तन
  • यौन में कम रुचि।
  • एड्रेनल ग्रंथि की समस्या
  • टेस्टोस्टेरोन के स्तर में कमी
  • मासिक धर्म की अवधि में परिवर्तन
  • पुरुषों के बढ़े हुए स्तन
  • जिगर के एंजाइमों का बढना।
  • शायद कभी हेपेटाइटिस हुआ हो।
  • सफेद रक्त कोशिकाओं और प्लेटलेट्स कम होना|
और पढो: डैनज़ोल के नुकसानडैप्सोन के नुकसानडिलाउडिड के नुकसान

एलर्जी प्रतिक्रियाएं

यदि आपको इसके किसी भी सक्रिय घटक से एलर्जी हो तो डिफ्लुकन लेने की सलाह नहीं दी जाती| इससे होने वाली एलर्जी प्रतिक्रियाएं हैं-

  • त्वचा पर गंभीर चकत्ते
  • सांस लेने में मुश्किल
  • चेहरे, होंठ, जीभ या गले की सूजन

अंगों पर प्रभाव

यह आपके जिगर को प्रभावित कर सकता है इसलिए इन लक्षणों में से कोई भी दिखाई दे तो अपने डॉक्टर से सलाह लें: –

  • असामान्य थकान
  • आंखों और त्वचा का पीलापन,
  • गहरे रंग का मूत्र, बुखार,
  • मतली या उल्टी,
  • पीले रंग का मल,
  • पेट दर्द

ड्रग इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

आपको अपने डॉक्टर को अपने द्वारा प्रयोग की जाने वाली सभी दवाओं, विटामिन या हर्बल सप्लीमेंट्स के बारे में बताना चाहिए| सभी इंटरैक्शन वाली दवाओं को यहां सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता लेकिन  डिफ्लुकन के साथ प्रभाव डालने वाली कुछ सामान्य दवाओं में निम्न हो सकते हैं:

  • एंटासिडस
  • एच 2 ब्लॉकर्स जैसे कि सिमेटिडाइन
  • एस्टेमीजोल
  • एसिटामिनोफेन
  • सिसाप्राइड
  • डीक्यक्लोमिन
  • डोफेटिलिड
  • डॉमपेरीडॉन
  • एलट्रिपटेन
  • डाइहाइड्रोर्गोटामाइन जैसे एल्गोलोइड एर्गोलोइड
  • इसोनियाज़िड
  • लेवोमेथाडील
  • लोवास्टेटिन
  • ओरल मिडाज़ोलम
  • नेविरेपीन
  • निसोलडीपिन
  • पिमोज़िड
  • रिफ़ामायसिन
  • क़ुइनिडीन
  • टरफेनाडीन
  • सिमवासटाटिन
  • एटोरवास्टैटिन जैसी स्टेटिन दवाएं
  • ट्रियाजोलम

प्रभाव या परिणाम

यह इसके इलाज की स्थिति पर निर्भर करते हैं|

सामान्य प्रश्न

क्या यह नशे की लत है?

इस दवा के आदत बनने की कोई सूचना नहीं है।

क्या शराब के साथ डिफ्लुकन ले सकते हैं?

इस दवा से आपको चक्कर आ सकते हैं इसलिए इस दवा के साथ शराब लेने से आपको और ज्यादा चक्कर आ सकते हैं। शराब के साथ इसे लेने से जिगर की समस्याओं का खतरा बढ़ सकता है।

क्या किसी विशेष खाद्य पदार्थ के साथ इसे लेने से बचना चाहिए?

नहीं।

क्या गर्भवती होने पर डिफ्लुकन ले सकते हैं?

नहीं। गर्भवती होने पर डिफ्लुकन लेने की सलाह नहीं दी जाती|

क्या बच्चे को स्तनपान कराने पर डिफ्लुकन ले सकते हैं?

स्तनपान कराने वाली महिला को डिफ्लुकन लेनेकी सिफारिश नहीं की जाती है क्योंकि यह स्तन के दूध में गुजरने के लिए जाना जाता है।

क्या डिफ्लुकन लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

इस दवा से आपको चक्कर आना और कमजोरी हो सकती है। दृष्टि में परिवर्तन इसका एक अन्य दुष्प्रभाव भी है। यदि आपको भी ऐसे ही किसी तो कृपया ड्राइविंग से बचें।

यदि डिफ्लुकन अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?

इस दवा की तय की गयी खुराक से अधिक लेना हानिकारक हो सकता है और इससे कई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं| इसलिए अधिक दवा लेने के मामले में तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें।

यदि एक्सपायरी हो चुकी डिफ्लुकन लें तो क्या होता है?

आपके इलाज के लिए एक्सपायरी दवा उतनी शक्तिशाली नहीं होती है। इसलिए एक्सपायरी दवा के उपयोग से बचें|

यदि डिफ्लुकन की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होता है?

जैसे ही आपको भूली हुई दवा याद आये तुरंत इसका उपयोग करें| लेकिन यदि उसके बाद दूसरी खुराक का समय हो गया हो तो दुगुनी खुराक न लें।

भंडारण

  • इन गोलियों को कमरे में 15 से 25 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर रखें और इसे तेज़ रौशनी और तापमान में रखना चाहिए|
  • मुंह द्वारा लेने वाले घोल को 25 डिग्री से नीचे के तापमान पर रखें लेकिन जमायें नहीं।

डिफ्लुकन लेते समय टिप्स

  • अपने चिकित्सक की सलाह के बिना डिफ्लुकन की खुराक लेना ना बंद करें|

यदि आपको जिगर की बीमारी का कोई संकेत दिखाई दे तो तुरंत अपने डॉक्टर को इसकी सूचना दें|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 5 =