डोक्साज़ोसिन (Doxazosin in Hindi): उपयोग, खुराक, मूल्य, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां

0
1434
doxazosin fayde nuksan in hindi

डोक्साज़ोसिन क्या है?

डोक्साज़ोसिन “अल्फा ब्लॉकर्स” दवाओं के समूह से संबंधित है।

डोक्साज़ोसिन का उपयोग

डोक्सज़ोसिन का उपयोग पुरुषों में प्रोस्टेट के बढ़ने के इलाज़ और उच्च रक्तचाप के लक्षणों के इलाज के लिए किया जाता है।

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: नेटमेड्समाइरा मेडिसिन

डोक्साज़ोसिन कैसे काम करता है?

डोक्साज़ोसिन अल्फा-ब्लॉकर है जो नसों और धमनियों को विश्राम देने का काम करता है, जिससे उनके माध्यम से खून के प्रवाह में वृद्धि होती है। यह प्रोस्टेट, मूत्राशय और गर्दन की मांसपेशियों में आराम दिलाने का काम करता है और यह मूत्र को पार करने को आसान बना देता है।

डोक्साज़ोसिन कैसे लें

  • डोक्साज़ोसिन की खुराक और इसे लेने का तरीका आपकी उम्र, शारीरिक स्वास्थ्य, स्थिति की गंभीरता और चिकित्सा की प्रारंभिक प्रतिक्रिया पर आधारित है।
  • डोक्साज़ोसिन के अवशोषण पर भोजन का कोई असर नहीं होता इसलिए इसे भोजन के साथ या बिना भी ले सकते हैं|
  • अच्छे परिणाम पाने के लिए इसे एक निश्चित समय पर ही लेना चाहिए।
  • इस टैबलेट को चबाये या तोड़े बिना बहुत सारे तरल पदार्थ के बिना पूरी तरह से निगलकर लेना चाहिए|
  • यदि आप इसे काउंटर उत्पाद के रूप में ले रहे हैं तो उपयोग से पहले लेबल पर दिए गए निर्देशों को जांचें|

भारत में डोक्सज़ोसिन का मूल्य

12.50 रुपये में 10 गोलियों की स्ट्रिप

और पढो: डॉक्सोर्यूबिसिनक्लोरफेनेरमाइनडैनज़ोल

डोक्साज़ोसिन की सामान्य खुराक

डोक्साज़ोसिन को डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही लिया जाना चाहिए। इसे तय की गयी खुराक से ज्यादा या लम्बे समय तक ना लें।

वयस्कों की खुराक प्रति दिन 1 मि.ग्रा होती है। उसके बाद खुराक को धीरे-धीरे बढ़कर 2 मि.ग्रा या 4 मि.ग्रा. तक बढ़ाया किया सकता है।

डोक्साज़ोसिन से कब बचें?

डोक्साज़ोसिन से बचना चाहिए या सावधानी से इसका प्रयोग करना चाहिए:

  • इसके किसी भी घटक से एलर्जी वाले मरीज
  • ऑर्थोस्टैटिक हाइपोटेंशन का इतिहास
  • कम रक्तचाप वाले मरीज़
  • हृदय रोग के इतिहास वाले मरीज
  • आंख की समस्याएं- मोतियाबिंद, ग्लूकोमा
  • गुर्दे की समस्याओं वाले मरीज- मूत्र पार होने में कठिनाई
  • पाचन तंत्र में अवरोध (पेट या आंत)
  • गंभीर कब्ज
  • जिगर की बीमारी

डोक्साज़ोसिन के दुष्प्रभाव

इससे कुछ अवांछनीय दुष्प्रभाव भी पैदा हो सकते हैं। सबसे अधिक देखे गए साइड इफेक्ट्स में निम्न हो सकते हैं:

  • बेचैनी
  • थकान
  • आलस्य
  • पैर की सूजन
  • छाती में सर्दी, खांसी
  • नाक बंद होना
  • पेट-दर्द
  • सर-दर्द
  • चक्कर आना
  • जी मिचलाना
  • रक्तचाप में बदलाव
  • धड़कन तेज़ होना
  • दिल का दौरा
  • सांस लेने मे तकलीफ
  • दिल की धड़कन में कमी या बढना
  • छाती में दर्द
  • त्वचा या आंखों का पीलापन – पीलिया
  • रक्त कोशिकाओं की गिनती में कमी

अंगों पर प्रभाव

गंभीर हेपेटिक (जिगर का रोग) और गुर्दे (गुर्दे की बीमारी) वाले मरीजों को सावधानी से और डॉक्टर की देखरेख में डोक्साज़ोसिन का उपयोग करना चाहिए।

और पढो: डैप्सोनडिफ्लुकनडिलाउडिड

एलर्जी प्रतिक्रियाएं

यदि आपको इसकी किसी भी सामग्री से एलर्जी है तो अपने डॉक्टर से बात करें। एलर्जी प्रतिक्रिया के लक्षणों में निम्न हो सकते हैं:

  • त्वचा पर चकत्ते या खुजली
  • साँसों की कमी
  • चेहरे, होंठ, जीभ, या गले की सूजन
  • बेहोशी

ड्रग इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

डोक्साज़ोसिन अन्य दवाओं, विटामिन की खुराक, हर्बल उत्पादों के साथ प्रभाव डाल सकता है जो हानिकारक हो सकता है। इसलिए आपको चिकित्सक को डॉक्सोजोसिन का उपयोग करने से पहले अपने द्वारा उपयोग किये जाने वाले काउंटर उत्पादों या विटामिन की खुराक के बारे में सूचित करना चाहिए| सभी इंटरैक्शन करने वाली दवाओं को यहां सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता लेकिन इंटरैक्शन करने वाली कुछ महत्वपूर्ण दवाएं निम्न हैं:

  • अन्य अल्फा-ब्लॉकर ड्रग्स (जैसे प्रेजोसिन, अल्फुज़ोसिन, टैम्सुलोसिन)
  • सिल्डेनाफिल, टाडालाफिल या अन्य लिन के टेढ़ेपन के दोष की दवाएं
  • एज़ोल एंटी-फंगल – केटोकोनाज़ोल, इट्राकोनाज़ोल
  • मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक्स – क्लारीथ्रोमाइसिन
  • एचआईवी प्रोटीज़ अवरोधक दवाएं – रिटोनावीर

डोक्सज़ोसिन के साथ इन दवाओं का उपयोग करने से इन दवाओं का चिकित्सीय प्रभाव प्रभावित होता  है और साइड इफेक्ट्स की संभावनाओं को भी बढ़ा देता है। इसलिए इन दवाओं के साथ डोक्साज़ोसिन लेने पर उसकी खुराक के प्रतिस्थापन की जरूरत होती है।

सामान्य प्रश्न

क्या डोक्साज़ोसिन नशे की लत है?

डोक्साज़ोसिन नशे की लत नहीं है लेकिन  इन दवाइयों पर निर्भरता से बचना चाहिए।

क्या शराब के साथ डोक्साज़ोसिन ले सकते हैं?

डॉक्सोजोसिन लेने के साथ शराब लेने की सलाह नहीं दी जाती क्योंकि इसे लेने के बाद चक्कर आना, सेडेशन  जैसे प्रतिकूल प्रभावों का खतरा बढ़ सकता है और स्वास्थ्य को खतरा हो सकता है।

क्या किसी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

किसी भी खाद्य उत्पाद के साथ इसे लेने पर कोई बदलाव नहीं देखा गया।

क्या गर्भवती होने पर डोक्सज़ोसिन ले सकते हैं?

डोक्साज़ोसिन गर्भावस्था के दौरान केवल तभी लेना चाहिए यदि इससे जोखिम अधिक हों क्योंकि गर्भवती महिलाओं में इसके प्रभाव के बारे में कोई स्पष्ट अध्ययन नहीं है। यदि आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने की योजना बना रही हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह लें।

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान डोक्सज़ोसिन ले सकते हैं?

डोक्सज़ोसिन मानव स्तन के दूध में उत्सर्जित होता है इसलिए स्तनपान कराने के दौरान इसे उपयोग करने की साह नहीं दी जाती|

क्या डोक्सज़ोसिन लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

डोक्साज़ोसिन के सेवन से चक्कर आना, सेडेशन, रक्तचाप में कमी जैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं| इसलिए इस दवा को लेकर वाहन और भारी मशीनरी चलाने से परहेज करना चाहिए|

यदि डोक्सज़ोसिन अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?  

डोक्साज़ोसिन अधिक मात्रा में लेने से होने वाले लक्षणों में उनींदापन, चक्कर आना आदि हो सकते हैं| लेकिन यदि अधिक खुराक लेने का संदेह हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें|

यदि एक्सपायरी हो चुकी डोक्साज़ोसिन लें तो क्या होगा?

एक्सपायरी हो चुकी डोक्साज़ोसिन की एक खुराक से कोई बड़ा प्रतिकूल प्रभाव नहीं होता लेकिन समय के साथ दवा की शक्ति कम हो जाती है। यदि ऐसी दवा का आपने लम्बे समय तक उपयोग किया है तो डॉक्टर से सलाह लें|

यदि डोक्साज़ोसिन की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होगा?

जैसे ही आपको भूली हुई खुराक याद आये तुरंत उसका सेवन करें| लेकिन दूसरी खुराक का समय हो जाने पर दुगुनी खुराक ना लें|

भंडारण

  • इस दवा को सीधी गर्मी और नमी से दूर एक ठंडी और सूखी जगह पर रखें|
  • दवा को फ्रीज न करें।
  • बच्चों और पालतू जानवरों को इन दवाओं से दूर रखें।

डोक्साज़ोसिन लेते समय टिप्स

  • जब आप पहली बार डोक्सज़ोसिन लेना शुरू करते हैं तो रक्तचाप में तेजी से गिरावट हो सकती है|

यदि आप डोक्साज़ोसिन ले रहे हैं और आपकी मोतियाबिंद की सर्जरी हो रही हो तो आपको अपने डॉक्टर को सूचित करना चाहिए|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 3 =