Elocon in Hindi एलोकॉन: उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स, मूल्य, संयोजन, सावधानियां

0
316

Elocon in Hindi एलोकॉन: उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स, मूल्य, संयोजन, सावधानियां

1What is Elocon in Hindi – एल्कॉन क्या है?

एल्कॉन एक सामयिक स्टेरॉयड दवा है जिसमें इसके मुख्य घटक के रूप में 0.1% मोमेटासोन होता है।

निर्माता – फुलफोर्ड इंडिया लि.

अन्य संस्करण और रचनाएं

संस्करण संरचना
एल्कॉन क्रीम/मरहम/लोशन मोमेटासोन(1 मि.ग्रा.)

 


2Uses of Elocon in Hindi – एल्कॉन के उपयोग

इसका उपयोग एक्जिमा, सोरायसिस और डर्माटाईटिस जैसी एलर्जी प्रतिक्रियाओं और इंफ्लेमेटरी त्वचा की स्थिति के गंभीर रूपों से जुड़ी लाली और खुजली से आराम देने के लिए किया जाता है।


3How does Elocon work in Hindi – एल्कॉन कैसे काम करता है?

एल्कॉन में मोमेटासोन होता है जो त्वचा की कोशिकाओं के अंदर काम करता है और शरीर में उन रसायनों को कम करता है जो सूजन पैदा करते हैं| शरीर में प्रतिरक्षा की प्रतिक्रिया को भी कम करता है।


4Elocon Price in India in Hindi – भारत में एल्कॉन  का मूल्य

फुलफोर्ड एल्कॉन 10 ग्रा. क्रीम 196 रुपये
फुलफोर्ड एल्कॉन 30 ग्रा. 392 रुपये

 


5How to Take Elocon in Hindi – एल्कॉन कैसे लें?

  • उपयोगकर्ता को फार्मासिस्ट द्वारा दिए गये रोगी सूचना पत्रक को पढ़कर आगे के प्रश्नों को आपके डॉक्टर या फार्मासिस्ट से पूछना  चाहिए|
  • एल्कॉन को एक पतली परत के रूप में और समान रूप से त्वचा पर लगाना चाहिए जैसा कि चिकित्सक ने आपको बताया हो| इसकी शुरूआती खुराक आमतौर पर दिन में एक या दो बार होती है|
  • जिस पर एल्कॉन का उपयोग किया जाना हो, उस क्षेत्र को साफ और सूखा रखें| एल्कॉन लगाने से पहले और बाद में हाथों को अच्छी तरह से धोना चाहिए। एल्कॉन लगाने वाली जगह को लगाने के तुरंत बाद ना धोएं|
  • एल्कॉन का उपयोग तब तक जारी रखें जब तक कि डॉक्टर इसे बंद करने को ना बोले|
  • 5 दिनों से ज्यादा समय तक अपने चेहरे पर क्रीम या मलहम का उपयोग न करें|
  • 5 दिनों से अधिक अपने बच्चों के शरीर के किसी भी भाग पर क्रीम या मलहम न लगाएँ|
  • अपने बच्चे की नैपी के नीचे एल्कॉन न लगायें, क्योंकि इससे कुछ अवांछित प्रभाव हो सकते हैं|
  • अपनी आंखों के आसपास इसका उपयोग न करें|

6Common Dosage For Elocon in Hindi – एल्कॉन की सामान्य खुराक

इस दवा की खुराक और लेने का तरीका डॉक्टर  के द्वारा निम्न के आधार पर तय किया जाता है:

  • रोगी की आयु और उसके शरीर का वजन
  • रोगी के स्वास्थ्य की स्थिति या चिकित्सा की स्थिति
  • रोग की गंभीरता
  • पहली खुराक लेने पर प्रतिक्रिया
  • एलर्जी या दवा प्रतिक्रियाओं का इतिहास

एल्कॉन को आमतौर पर प्रभावित जगह पर दैनिक रूप से 1 से 2 बार लगायें| 4 सप्ताह से ज्यादा समय तक इसे नहीं लगाना चाहिए|


7When to Avoid Elocon in Hindi – एल्कॉन से कब बचें?

  • अगर आपको मोमेटासोन या एल्कॉन में मौजूद किसी भी अन्य सामग्री से एलर्जी है तो एल्कॉन के उपयोग से बचना चाहिए
  • जब तक संक्रमण का इलाज नहीं किया जा रहा है तब तक एल्कॉन के उपयोग को घायल या इन्फेक्टेड जगहों पर लगाने  से बचना चाहिए
  • जब तक चिकित्सक ना बताये तब तक अपने चेहरे पर एल्कॉन नहीं लगाना चाहिए|
  • यदि आपका स्टेरॉयड दवा लेने के बाद एलर्जी का इतिहास हो|
  • 1 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को एल्कॉन के उपयोग से बचना चाहिए|
  • वायरल स्किन इन्फेक्शन जैसे कि दाद सिंप्लेक्स इन्फेक्शन, चिकनपॉक्स में एल्कॉन के इस्तेमाल से बचना चाहिए|
  • एल्कॉन के उपयोग से त्वचा के फंगल इन्फेक्शन से बचना चाहिए जैसे थ्रश, एथलीट फुट आदि
  • मुंहासों पर एल्कॉन के इस्तेमाल से बचना चाहिए|
  • सोरायसिस में एल्कॉन के उपयोग से बचना चाहिए|
  • नैपी रैशेज में एल्कॉन का उपयोग करने से बचें|
  • वार्ट्स के मामले में एल्कॉन के उपयोग से बचें|
  • बिना सूजन के खुजली वाली त्वचा में एल्कॉन के इस्तेमाल से बचें|
  • एल्कॉन के उपयोग से मुंह के चारों ओर चकत्ते से बचना चाहिए|
  • जननांग की खुजली में एल्कॉन के इस्तेमाल से बचें|

8Drug Interactions To Be Careful About in Hindi – दवा इंटरेक्शन के बारे में सावधानी

  • आपस में प्रभाव डालने वाली सभी दवाओं को यहाँ सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता| इसलिए आपको हमेशा अपने द्वारा उपयोग की जाने वाली सभी दवाओं या उत्पादों के बारे में अपने चिकित्सक को सूचित करना चाहिए।
  • आपको उन हर्बल उत्पादों के बारे में भी अपने डॉक्टर को बताना चाहिए जिनका आप प्रयोग कर रहे हैं| अपने डॉक्टर से पूछे बिना दवा की किसी खुराक में संशोधन ना करें|

दवाएं जो एल्कॉन के साथ प्रभाव डाल सकती  हैं –

  • विगबाट्रन (मिर्गी के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाती है)
  • रिटोनोविर (एचआईवी-विरोधी दवा)
  • इट्राकोनाजोल (एंटी-फंगल दवा)
  • अज़िथ्रोमायसिन
  • यदि त्वचा की एक ही जगह पर अन्य दवाओं का उपयोग करने की जरूरत हो तो हर बार लगाने के बीच कुछ मिनटों का अंतर रखना चाहिए ताकि दो दवाओं के मेल से बचा जा सके|
  • यदि मॉइस्चराइज़र का उपयोग करने की जरूरत हो तो एल्कॉन लगाने से 30 मिनट पहले लगायें ताकि त्वचा की सतह को नरम किया जा सके और एल्कॉन के अवशोषण को बढ़ाया जा सके।
  • एल्कॉन लगाने से ठीक पहले या बाद में मॉइस्चराइज़र लगाने से यह दवा पतली हो सकती है और इसका प्रभाव कम हो सकता है|

9Side-effects of Elocon in Hindi – एल्कॉन के साइड इफेक्ट्स

यदि एल्कॉन का उपयोग त्वचा, घायल त्वचा, चेहरे, कांख या त्वचा की सिलवटों (घिसने वाली जगहों) या एयरटाइट ड्रेसिंग के के लिए या बहुत लंबे समय के लिए किया जाता है तो इससे साइड इफेक्ट एखे जाते हैं| इससे होने वाले दुष्प्रभाव निम्न हैं –

  • लाल चकत्ते, त्वचा पर लाल खुजली वाले दाने या लगाने पर जलन
  • इन्फेक्शन का बढ़ना
  • त्वचा का पतला होना
  • त्वचा की रंगत खराब होना
  • स्ट्रेच मार्क्स
  • छोटी खून की नलियों के त्वचा पर धागे जैसी लाल रेखाएं या पैटर्न जैसे दिखना (टेलंगीक्टेसिया)।
  • बाल ज्यादा बढ़ना

दुर्लभ अवसरों में, एल्कॉन ज्यादा मात्रा में अवशोषित हो सकता है और शरीर के अन्य भागों पर दुष्प्रभाव पैदा कर सकता है


10Reported Allergic Reactions in Hindi – एलर्जी प्रतिक्रियाएं

इससे होने वाली एलर्जी प्रतिक्रियाओं में चकत्ते, खुजली, होंठ, चेहरे और गले के आसपास सूजन और त्वचा पर लाल, खुजली वाले धब्बे होते हैं।


11Effects/Results After Consuming Elocon in Hindi – प्रभाव या परिणाम

एल्कॉन को अपना प्रभाव दिखाने के लिए लिया गया समय उपचार की स्थिति पर निर्भर करता है। इसे मुंह द्वारा लेने के बाद उसी दिन या 3 दिनों के अंदर इसके प्रभाव देखे जा सकते हैं|

12Storage Requirements for Elocon in Hindi – भंडारण

  • जब तक इसका इस्तेमाल ना करना हो तब तक इसे टयूब में ही रखें|
  • एल्कॉन को 30 ° से. से नीचे ठंडे और सूखे स्थान पर रखें|
  • एल्कॉन को सीधी धूप से बचाकर रखें|
  • बाथरूम में या किसी सिंक के पास एल्कॉन न रखें|
  • इसे खिड़की के सहारे या कार में न छोड़ें|
  • पहली बार खोलने के 3 महीने बाद तक इस दवा को खत्म कर देना चाहिए|
  • यदि बिगड़े हुए लक्षण दिखाई दें जैसे कि रंग में ध्यान देने योग्य बदलाव आदि तो इस क्रीम का उपयोग न करें|

13Pro Tips When Taking Elocon in Hindi – टिप्स

  • जब तक आपका डॉक्टर ना कहे तब तक इस दवा की खुराक को बंद, शुरू या न बदलें|
  • इस दवा के आंखों, मुंह या नाक के संपर्क में लाने से बचें। यदि आ भी जाए तो ठंडे पानी से धो लें|
  • एल्कॉन लगाने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह से धोएं|
  • जब तक डॉक्टर ना कहे, तब तक पट्टी या किसी अन्य एयरटाइट ड्रेसिंग से उपचार की जाने वाली जगह को कवर न करें|
  • गैस या बिजली की आग जैसी ज्वलनशील वस्तुओं के पास एल्कॉन ना लगायें|
  • इसे लगाते समय धूम्रपान न करें|
  • यदि लंबे समय तक इसे लगाया जाए तो एल्कॉन त्वचा के पतले होने का कारण बन सकती है|

14FAQs in Hindi – सामान्य प्रश्न

क्या एल्कॉन नशे की लत है?

नहीं

क्या शराब के साथ एल्कॉन  ले सकते हैं?

शराब का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें।

क्या किसी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

एल्कॉन लगाते समय धूम्रपान न करें|

क्या गर्भवती होने पर एल्कॉन ले सकते हैं?

यदि आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने की योजना बना रही हैं तो अपने डॉक्टर को बताएं|

क्या बच्चे को स्तनपान कराते समय एल्कॉन ले  सकते हैं?

अपने बच्चे को स्तनपान कराते समय अपने डॉक्टर की सलाह लें|

क्या एल्कॉन लेने के बाद गाड़ी चला सकते हैं?

एल्कॉन आमतौर पर ड्राइव करने की क्षमता को प्रभावित नहीं करता|

यदि एल्कॉन ज्यादा मात्रा में लगायें तो क्या होगा?

यदि इसे ज्यादा मात्रा में लगाया जाए और किसी असामान्य लक्षण का अनुभव हो तो अपने डॉक्टर से बात करें|

यदि एक्सपायरी हो चुकी एल्कॉन लें तो क्या होगा?

  • किसी भी प्रतिकूल घटना के लिए एक्सपायरी हो चुकी एल्कॉन की एक खुराक काफी नहीं है। लेकिन एक्सपायरी हो चुकी दवा को लगाने के बाद ठंडे पानी से धोएं और अपने चिकित्सक से संपर्क करें|
  • एक्सपायरी दवा की एक खुराक आपकी स्थिति के इलाज के लिए शक्तिशाली नहीं हो सकती। इसलिए एक्सपायरी दवा का इस्तेमाल करने से बचें|

यदि एल्कॉन की खुराक लगानी याद ना रहे तो क्या होगा?

यदि एल्कॉन लगानी भूल जाते हैं तो उस खुराक को छोड़ दें और सामान्य खुराक लगायें| भूली हुई खुराक की जगह दोगुनी खुराक न लगायें|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen + twenty =