Ghee in Hindi घी: लाभ, उपयोग, और साइड इफेक्ट्स

ghee ke fayde aur nuksan in hindi

वसा चीजों को स्वाद से भर देती है।” – जूलिया चाइल्ड

स्वस्थ वसा आजकल अत्यधिक लोकप्रिय होती जा रही है| घी (Ghee) सबका पसंदीदा है खासकर भारतीयों का| घी एक ऐसी वसा है जिसे मक्खन को गर्म करके बनाया जाता है। घी घुलनशील विटामिन और स्वस्थ फैटी एसिड से बना होता है। घी भारतीय परिवारों में सदियों से प्रमुख रूप से इस्तेमाल किया जाता रहा है और इसे एक शक्तिशाली उपचार रुपी भोजन के रूप में जाना जाता है।

घी कुछ हद तक शोधित मक्खन के समान होता है। घी मक्खन को गर्म करके बनाया जाता है जिसमें से ठोस दूध और पानी हटा दिया जाता है| घी स्वादिष्ट तो होता ही है और इसके जलने का बिंदु भी बहुत उच्च होता है।

घी में पोषक तत्वों की भरपूर मात्रा होने की वजह से इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं|

Benefits of Ghee in Hindi- घी के गुण

  • जलने का उच्च बिंदु
  • विटामिन ए., विटामिन ई. और विटामिन के. की प्रचुर मात्रा
  • लैक्टोज और केसीन फ्री

संयुग्मित लिनोलेइक एसिड (सीएलए) और ब्यूटरीक एसिड की उच्च मात्रा

 और पढो: इलायचीइलायची पाउडरगोक्षुरादि गुग्गुल

Benefits of Ghee for Hair in Hindi- बालों के लिए घी के लाभ

हाइड्रेट के रूप में काम करे

घी में मौजूद फैटी एसिड खोपड़ी और बालों के रोमकूपों को पोषण देकर बालों को हाइड्रेट और स्वस्थ रखता है|

बाल की चमक बढाये  

बालों में चिकनापन और चमक लाने के लिए घी को सीधे ही बालों पर लगायें| एक चम्मच घी को पिघलाकर इससे  खोपड़ी और बालों की मालिश करें। कुछ घंटे ऐसे ही रहने दें और उसके बाद शैम्पू से धो लें|

बाल कंडीशन करे

तेल की तरह घी को भी बालों पर लगाकर रात भर के लिए छोड़ दें| गहरे कंडीशनिंग के प्रभाव को पाने के लिए शावर कैप लगाकर नमी को बचाएं|

बालों को बढने में मदद करे

घी के साथ मालिश करने से बालों का विकास तो होता ही है साथ ही यह खून के बहाव को तेज़ करके बालों को घना और लम्बा बनाता है|

Benefits of Ghee for Skin in Hind- त्वचा के लिए घी के लाभ

आँखों के काले घेरों का इलाज

हर रात सोने से पहले पलकों और आंखों के नीचे नियमित रूप से घी लगाने से आँखों के काले घेरों से छुटकारा मिलता है।

फटे और सूखे हुए होंठों का इलाज

फटे हुए होंठों पर घी की बूंदों की मालिश करके रात भर छोड़ देने से होंठ गुलाबी और मुलायम बन जाते हैं|

सूखी त्वचा का इलाज

शरीर में नमी बनाए रखने के लिए और सूखी त्वचा से छुटकारा पाने के लिए नहाने से पहले शरीर पर पिघला हुआ घी अच्छी प्रकार लगायें| चेहरे के लिए, घी में थोडा सा पानी मिलाकर धीरे-धीरे चेहरे पर मालिश करें और 15 मिनट बाद चेहरे को धो लें| चेहरे की त्वचा चिकनी और मुलायम हो जाएगी|

Health Benefits of Ghee in Hindi- घी के स्वास्थ्य लाभ

लीकी-गट-सिंड्रोम का इलाज

घी विटामिन ए, ई और के जैसे वसा-घुलनशील विटामिन में प्रचुर मात्रा में है। ये विटामिन पुरानी स्थितियों जैसे लीकी गट सिंड्रोम, आईबीएस या क्रॉन के इलाज में महत्वपूर्ण हैं।

 और पढो: गोक्षुर | हमदर्द रूह अफ्ज़ा

स्वस्थ दृष्टि बनाए

घी एक ऐसा पौष्टिक भोजन है जो विटामिन ए से भरपूर होता है जो नजर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है।

लैक्टोज और कैसिन से मुक्त

कुछ व्यक्तियों को कैसिन से एलर्जी होती है जिसकी वजह से उनको होंठ, मुंह, जीभ, और यहां तक ​​कि जकडन भी  हो जाती है। घी दूध से बना उप-उत्पाद है और यह कैसिन से मुक्त है, इसलिए से दूध से एलर्जी वाले लोगों इसे  सुरक्षित रूप से ले सकते हैं|

इसी तरह लैक्टोज से एलर्जी वाले लोग भी घी का प्रयोग सुरक्षित रूप से कर सकते हैं क्योंकि घी की स्क्रेनिंग के दौरान घी बनाने की प्रक्रिया के दौरान लैक्टोज को हटा दिया जाता है।

संयुग्मित लिनोलिक एसिड (सीएलए) की वजह से स्वास्थ्य लाभ

घी में संयुग्मित लिनोलिक एसिड भरपूर मात्रा में होने की कारण स्वास्थ्य लाभों के असंख्य कारणों के लिए  जिम्मेदार होते हैं| अध्ययनों से पता चला है कि यह सी.एल.ए. कैंसर कोशिका के गठन को भी रोकता है, सूजन को कम करता है और रक्तचाप को भी कम कर देता है।

ब्यूटरीट की उच्च मात्रा के कारण स्वास्थ्य लाभ

ब्यूटरेट एक प्रकार का फैटी एसिड है जो आंतों के स्वास्थ्य को बनाए रखता है। ब्यूटरेट कोलन कोशिकाओं के लिए ऊर्जा का एक प्रमुख स्रोत होने के कारण स्वस्थ आंतों का मिक्रोबियम बनाए रखता है। यह इंसुलिन के स्तर को भी बनाए रखता है, सूजन संबंधी मुद्दों और क्रॉन की बीमारी के साथ-साथ अल्सरेटिव कोलाइटिस का भी इलाज करता है।

हड्डियों की मजबूती

घी में मौजूद विटामिन के. रक्त के थक्के, मस्तिष्क के कामकाज और हृदय स्वास्थ्य के लिए काफी महत्वपूर्ण है। विटामिन के. हड्डियों के चयापचय के लिए ज़िम्मेदार होता है और प्रोटीन की मात्रा को बढ़ाता है जो हड्डी में  कैल्शियम को बनाए रखता है। इसलिए घी लेने की वजह से हड्डियां स्वस्थ और मजबूत होती हैं| अमेरिकी जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक विटामिन के का कम सेवन करने से महिलाओं में हड्डी द्रका व्यमान घनत्व कम हो जाता है|

वजन घटाने में सहायक 

घी में मध्यम श्रेणी का फैटी एसिड होता है जो वसा को जलाकर वजन घटाने का कारण बनता है। 2015 में की गयी एक समीक्षा के अनुसार जिसमें 13 परीक्षण किये गये थे जिसमे यह पाया गया कि लंबी श्रृंखला के ट्राइग्लिसराइड्स की तुलना में मध्यम श्रृंखला के ट्राइग्लिसराइड्स से शरीर के वजन में कमी, कमर को  कम  अनुपात, और पेट की वसा की मात्रा में कमी आई है।

पाचन में सहायक

ब्यूटरीट जो एक फैटी एसिड है जो कोलन कोशिकाओं की ऊर्जा में बाधा उत्पन्न करने का समर्थन करता है और सूजन को भी कम कर देता है। ब्यूटिरेट कब्ज से राहत दिलाता है और मल गुजरने के दौरान होने वाले दर्द को कम करता है| यह पाचन तंत्र के माध्यम से भोजन को स्थानांतरित करके पेरिस्टालिस को बढ़ाता है।

सूजन का इलाज़

लंबी अवधि तक सूजन रहना पुरानी बीमारी का कारण बन सकता है। कुछ अध्ययनों के अनुसार ब्यूटरिक एसिड सूजन को रोककर गठिया, अल्जाइमर, मधुमेह और कैंसर जैसी स्थितियों को भी रोक सकता है।

बुखार में घी का प्रयोग

ताकत और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए बुखार के बाद घी का इस्तेमाल किया जा सकता है|

राइनाइटिस जैसी एलर्जी का इलाज

धूल से होने वाली एलर्जी से लड़ने के लिए नाक की भीतरी दीवार पर पतली परत घी की लगायें|

स्वस्थ गर्भावस्था को बढ़ावा

मां के साथ-साथ भ्रूण के विकास के लिए सभी आवश्यक विटामिन और खनिज घी में मौजूद होते हैं| पौष्टिक होने के कारण घी कशेरुक, हड्डी विकार या कुपोषण जैसी जन्म से होने वाली समस्याओं को भी रोकता है।

सर्जरी के बाद रिकवरी में सहायक

सर्जरी के बाद गाय के घी को प्रभावित जगह पर लगाने से घाव जल्दी भर जाते हैं|

घी का उपयोग

घी एक बहुमुखी घटक होने के कारण बहुत अधिक उपयोगी है जैसे:

यह पाक कला का एक माध्यम है|

यह मक्खन, वनस्पति तेल या नारियल के तेल का भी विकल्प है|

यह कोलेस्ट्रॉल का अच्छा स्रोत माना जाता है|

भोजन में स्वाद बढ़ाने का काम करता है|

किसी भी को व्यंजन बनाने के लिए मक्खन का एक विकल्प है|

How to Consume Ghee in Hindi- घी को कैसे लें

घी को विभिन्न तरीकों से प्रयोग किया जा सकता है:

पाक कला के माध्यम के रूप में

  • आप घी को रोटी और पराठा जैसी भारतीय रोटी पर लगाकर खा सकते हैं|
  • सूप के स्वाद को बढ़ाने के लिए उसमे थोडा सा घी मिलाएं|
  • उबली हुई सब्जियों को समुद्री नमक और घी के साथ पकाने से इनका स्वाद बढ़ जाता है| ।
  • सब्जियों को भूनने से पहले पिघला हुआ घी इन पर छिडकें|

घी सूखेपन से छुटकारा दिलाये

  • घी को दूध में मिलकर लेने से त्वचा, आवाज और पूरे शरीर के सूखेपन से छुटकारा मिलता है|

फेस पैक के रूप में घी

  • कच्चे दूध और बेसन के साथ घी मिलाकर पेस्ट बना लें और इसे चेहरे और गर्दन पर लगाकर 20 मिनट के बाद चेहरा अच्छी प्रकार धो लें|

Dosage of Ghee in Hindi- घी की खुराक

शुद्ध घी का लाभ उठाने के लिए दिन में एक-एक चम्मच तीन बार लिया जा सकता है|

Side Effects of Ghee- घी के दुष्प्रभाव

  • अपचन और दस्त
  • मोटे लोग घी से बचें
  • दिल के रोगियों के लिए घी का उपयोग वर्जित है|
  • पीलिया से पीड़ित लोग भी घी से बचें|

कहॉ से खरीदें

आप शुद्ध घी खरीदने के लिए और पैसे बचाने के लिए ग्रोफर कूपन और अमेज़ॅन इंडिया कूपन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

घी बेचने वाले प्रमुख ब्रांड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 − 7 =