इचगार्ड (Itchguard In Hindi): उपयोग,फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां, मूल्य

0
4554
itchguard fayde nuksan in hindi

इचगार्ड क्रीम क्या है?

विभिन्न फंगल संक्रमणों जैसे खुजली और चकत्ते के उपचार के लिएइचगार्ड क्रीम  का प्रयोग किया जाता है|

इचगार्ड क्रीम के सक्रिय तत्व

  • क्लोट्रीमाज़ोल सामयिक
  • बोरिक अम्ल
  • इचीटायोलम्मोनियम सामयिक
इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: 1 एमजी 

इचगार्ड का उपयोग

इचगार्ड क्रीम का उपयोग निम्न बीमारियों की रोकथाम, नियंत्रण और उपचार के लिए किया जा सकता है:

  • फंगल संक्रमण
  • खुजली
  • कैंडिडिआसिस
  • जननांगों के फंगल संक्रमण
  • योनि का खमीर संक्रमण
  • चकत्ते
  • एथलीट फुट
  • मुँह के छाले
  • डायपर पहनने से होने वाले दाने
  • रिंगवर्म संक्रमण
और पढो: टेलमा 40टेनेबाइटइब्यूवन

इचगार्ड क्रीम कैसे काम करता है

इचगार्ड क्रीम एक एंटी-फंगल क्रीम है जिसमें क्लोट्रिमाज़ोल सक्रिय घटक के रूप में पाया जाता है।

क्लोट्रीमाज़ोल सेल की दीवार की पारगम्यता को बदलकर कवक को खत्म कर देता है।

कवक के विकास को रोकने के इलावा इचगार्ड में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और इस संक्रमण से जुड़ी सूजन (लाली, सूजन) में राहत देते हैं।

भारत में इचगार्ड मूल्य

78 रुपये में 20 ग्रा. क्रीम

इचगार्ड क्रीम का उपयोग

  • इचगार्ड क्रीम केवल बाहरी रूप से लगाने के लिए है। इसे निगलने और सांस द्वारा लेने से दूर रहें। इसे कान, आंखों और मुंह द्वारा लेने से बचें।
  • इचगार्ड क्रीम को लगाने की अवधि खुजली की हालत की गंभीरता और इलाज की प्रतिक्रिया या डॉक्टर की सलाह द्वारा तय की जाती है|
  • इसे लगाने से पहले लगाने वाली जगह को साफ और सूखा कर लें। क्रीम लगाने के बाद और पहले तुरंत अपने हाथ धोएं।
  • इचगार्ड क्रीम लगाने के तुरंत बाद दवा लगाई हुई जगह को न धोएं। क्रीम को अपने डॉक्टर द्वारा बताये गये समय के लिए लगा रहने दें।
  • दाने होने से बचने के लिए ज्यादा मात्रा में क्रीम लगाने से बचें, केवल एक पतली परत का प्रयोग करें।

इचगार्ड क्रीम की सामान्य खुराक?

  • इसकी खुराक और लगाने की अवधि त्वचा की हालत के आधार पर त्वचा विशेषज्ञ के द्वारा तय की जाती है।
  • पूरी तरह से साफ़ करने के बाद ही उस जगह पर दवा को एक पतली परत के रूप में दिन में एक या दो बार लगाया जाता है।
  • जब तक लक्षण गायब ना हो जाएँ तब तक इस दवा का उपयोग जारी रखें। यदि दवा को बीच में रोका गया तो फंगल संक्रमण फिर से होने की संभावना हो जाती है।
  • यदि स्थिति 7 दिनों के बाद भी वैसी ही बनी रहती है या और खराब हो जाती है तो दवा बंद करके इसकी सूचना अपने डॉक्टर को दें|

इचगार्ड क्रीम से कब बचें?

इचगार्ड क्रीम से निम्न अवस्थाओं में बचना या सावधानी से उपयोग करना चाहिए:

  • इसके किसी भी घटक से एलर्जी वाले मरीज
  • गर्भावस्था की अवस्था में

इचगार्ड क्रीम के दुष्प्रभाव

इचगार्ड क्रीम के सबसे अधिक देखे जाने वाले साइड इफेक्ट्स निम्न हैं:

  • त्वचा के लाल चकत्ते
  • त्वचा की जलन
  • त्वचा की खुजली
  • त्वचा का छिलना
  • त्वचा की लाली
  • योनि से बहाव
  • बुखार
  • लगाने वाली जगह पर सूजन

इसके अलावा भी कुछ अन्य एलर्जी या अवांछित प्रभाव पैदा हो सकते हैं| इन मामलों में तुरंत चिकित्सक के पास जाएँ|

अंगों पर प्रभाव?

किसी भी अंग पर इसका कोई प्रभाव नहीं देखा गया है।

एलर्जी प्रतिक्रियाएं

यदि इसकी किसी भी सामग्री से एलर्जी है तो अपने डॉक्टर से रिपोर्ट करें।

एलर्जी प्रतिक्रिया के लक्षणों में शामिल हैं:

  • त्वचा पर चकत्ते या खुजली
  • साँसों की कमी
  • चेहरे, होंठ, जीभ, या गले की सूजन
  • बेहोशी

दवा इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

  • इचगार्ड क्रीम को त्वचा पर उसी जगह पर जहाँ एक और दवा का उपयोग करने की जरूरत हो तो इस दवा के संपर्क से बचने के लिए कुछ मिनटों का अंतर रखें।
  • यदि आप हर्बल या विटामिन की खुराक ले रहे हैं तो इसकी सूचना अपने डॉक्टरों को दें|
  • जो दवाएं इचगार्ड क्रीम के साथ प्रभाव डाल सकती हैं उन सभी को यहां सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता है। कुछ इस प्रकार हैं:
  • न्यस्टेटिन
  • फ्लूस्यटोसिन
  • एम्फोटेरिसिन-बी

इचगार्ड के साथ कुछ दवाओं का उपयोग करने पर इसके चिकित्सीय प्रभाव भी प्रभावित हो सकते हैं।

और पढो: केनाकोर्टमोक्स 500मोंटेक एल.सी.

प्रभाव और परिणाम

इचगार्ड क्रीम के प्रयोग से होने वाला प्रभाव इसके लगाने के बाद 1 से 7 दिन के भीतर दिखाई देते हैं।

सामान्य प्रश्न

क्या इचगार्ड क्रीम नशे की लत है?

नहीं, लेकिन इसे आदत ना बनाएं|

क्या शराब के साथ इचगार्ड क्रीम का प्रयोग कर सकते हैं?

इचगार्ड क्रीम के साथ शराब लेने के बारे में कोई जानकारी नहीं है। शराब लेने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर इसकी सलाह लें।

क्या किसी भी विशेष खाद्य पदार्थ लेने से बचना चाहिए?

किसी भी खाद्य उत्पाद के साथ इसका प्रयोग करने के दौरान कोई बदलाव नहीं देखा गया।

क्या गर्भवती होने पर क्या इचगार्ड क्रीम प्रयोग कर सकते हैं?

गर्भावस्था के दौरान इचगार्ड क्रीम लगाने की सिफारिश नहीं की जाती| यदि आप गर्भवती हैं या निकट भविष्य में गर्भवती होने की योजना बना रही हैं तो अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

क्या बच्चे को स्तनपान करने के दौरान इचगार्ड क्रीम लगा सकते हैं?

स्तनपान कराने की अवस्था में इचगार्ड क्रीम का उपयोग सुरक्षित है। लेकिन पहले हमेशा यह सुनिश्चित करें कि बच्चा क्रीम के सीधे संपर्क में ना आये|

क्या इचगार्ड क्रीम लेने के दौरान ड्राइव कर सकते हैं?

इचगार्ड क्रीम भारी मशीनरी चलाने और वाहन चलाने की क्षमता को प्रभावित नहीं करती|

यदि इचगार्ड क्रीम अधिक मात्रा में लगा ली जाए तो क्या होता है?

इचगार्ड क्रीम को तय की गयी खुराक से ज्यादा या लंबे समय तक नहीं लगाना चाहिए क्योंकि इससे त्वचा पर जलन जैसे गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

यदि एक्सपायरी हो चुकी इचगार्ड क्रीम लगायें तो क्या होता है?

एक्सपायरी हो चुकी इचगार्ड क्रीम लगाने से कोई भी बड़ा प्रतिकूल प्रभाव नहीं हो सकता लेकिन क्रीम की शक्ति कम हो सकती है। हमेशा एक्सपायरी उत्पादों का उपयोग करने से बचना चाहिए|

यदि इचगार्ड क्रीम की खुराक लगाना याद ना रहे तो क्या होता है?

यदि इसे लगाना याद ना रहे तो यह दवा अच्छी तरह से काम नहीं करेगी क्योंकि दवा को प्रभावी रूप से काम करने के लिए इसे नियमित अंतराल पर और एक निश्चित राशि में लगाना  चाहिए।

इचगार्ड क्रीम का भंडारण

  • इसे सीधे प्रकाश और नमी से दूर ठंडी और सूखी जगह पर रखें|
  • दवा को फ्रिज में न रखें|
  • बच्चों और पालतू जानवरों से इस दवा को दूर रखें।

इचगार्ड क्रीम लगाते समय टिप्स

इचगार्ड क्रीम केवल त्वचा के फंगल संक्रमण के लिए प्रभावी है। बैक्टीरिया और अन्य सूक्ष्म जीवों के कारण होने वाले त्वचा संक्रमण में इसका उपयोग न करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 − three =