जयपुर में जाने के लिए बढ़िया स्थान (Jaipur Best Places in Hindi)

0
1704
jaipur-rajasthan-best-places-in-hindi

जयपुर के बारे में

शानदार सौंदर्य, अद्भुत वास्तुकला और जीवंत इतिहास का शहर है जयपुर, जो लुभावने महलों, रोमांचक सवारियों, शानदार जातीय भोजन के साथ साथ और भी बहुत कुछ प्रदान करता है।

क्यों जाएँ: वास्तुकला, इतिहास

आदर्श: आराम करने के लिए, प्रकृति में घूमने

सामान्य ज्ञान: जयपुर को ‘गुलाबी शहर’ के रूप में जाना जाता है।

लाने के लिए चीजें: कढ़ाई किये कपड़े, लाख की चूड़ियां, जूतियाँ, हस्तनिर्मित कागज की डायरी और नीली मिट्टी के बरतन

जयपुर में जाने के लिए सबसे अच्छे स्थान

15. बापू बाजार

बापू बाजार को कम कीमत की चीज़ों और अद्भुत उत्पादों के लिए जाना जाता है। यहाँ आपको कपड़ा, हस्तशिल्प, कीमती पत्थर और पीतल के काम का एक बड़ा संग्रह मिलता है।

जयपुर से दूरी: 6 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

14. जल महल

‘वाटर पल्स’ कहा जाने वाला जल महल सागर झील के बीच में स्थित है| यह महाराजाओं का एक शूटिंग लॉज था। इस महल में प्रवेश करने की इजाजत किसी को नहीं है। लेकिन शाम के समय आप इसकी बाहरी सुंदरता देखकर हैरान हो जाएंगे।

जयपुर से दूरी: 10 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, इतिहासकार, आर्किटेक्ट्स

जाने का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर (विशेष रूप से शाम)

स्थान: नेविगेट करें

13. आमेर किला

अरावली पहाड़ियों के शीर्ष पर स्थित आमेर का किला एक वास्तुशिल्प कृति है। माओथा झील में इसका प्रतिबिंब बहुत सुंदर दिखता है| यह किला गुलाबी और पीले बलुआ पत्थर से बना हुआ  है और शाम को पहाड़ी से नीचे देखने पर यह लुभावना लगता है।

जयपुर से दूरी: 11 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, इतिहासकार, आर्किटेक्ट्स

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

12. सिटी पैलेस

इस महल की वास्तुकला देखते ही बनती है| इसको बगीचों, आंगन और इमारतों में बांटा गया है। चंद्र महल और मुबारक महल इस महल के प्रमुख आकर्षण हैं।

जयपुर से दूरी: 3 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार,  इतिहासकार, आर्किटेक्ट्स

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

11. नाहरगढ़ फोर्ट

1734 में महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने नहरगढ़ का किला बनवाया था। इसकी नाजुक नक्काशी और पत्थर का काम महल के शाही इतिहास की शान दिखाता है|

जयपुर से दूरी: 4 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, इतिहासकार,  आर्किटेक्ट्स

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

और पढो:उदयपुर|जोधपुर|जैसलमे

10. जयगढ़ फोर्ट

‘चेल का तेला’ पहाड़ी पर स्थित जयगढ़ किला एक विशाल किला है जिसे उस समय के प्रतिभाशाली वास्तुकार ‘विद्याधर’ ने डिजाइन किया था।

जयपुर से दूरी: 10 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार,  इतिहासकार, आर्किटेक्ट्स

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

9. अल्बर्ट हॉल-म्यूजियम

जयपुर के सबसे पुराने संग्रहालयों में से एक अल्बर्ट हॉल संग्रहालय है। जिसमें पेंटिंग्स, हाथीदांत, धातु की मूर्तियां, रंगीन संरचनाएं आदि का महान संग्रह है|

जयपुर से दूरी: 3 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र,  परिवार,  इतिहासकार, पुरातत्वविद

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

8. जंतर-मंतर

यह एक खगोलीय वैधशाला है जिसमें दुनिया का सबसे बड़ा सनडायल है जोकि पत्थर और पीतल से बना हुआ है। इंजीनियर इस यंत्र द्वारा स्वर्गीय निकायों की स्थिति को देखने की अनुमति देते हैं।

जयपुर से दूरी: 4 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, इतिहासकार, इंजीनियर्स

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

7. गोविंद जी मंदिर

इस सुंदर मंदिर के प्रमुख देवता भगवान कृष्ण हैं| कहा जाता है कि इस मंदिर में कृष्ण जी की मूर्ती बिलकुल वैसी ही दिखती है जैसे कि वे पृथ्वी पर अपने अवतार के दौरान दिखते थे| यदि आपने वास्तव में यहाँ आनंद लेने के लिए आना है तो जन्माष्टमी के समय आना चाहिए।

जयपुर से दूरी: 4 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, धार्मिक लोग

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

6. गलताजी-मंदिर

अरावली पहाड़ियों में स्थित और हरे चरागाहों से घिरा हुआ गलताजी-मंदिर एक राजसी मंदिर है, जो गुलाबी बलुआ पत्थर से बनाया गया था। इसमें विभिन्न मंदिर हैं जो रंगीन पेंटिंग्स, गोल छत और खम्बों से सजाए गए हैं।

जयपुर से दूरी: 7 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, धार्मिक लोग

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

5. बिड़ला मंदिर

मोती डुंगरी पहाड़ी के शीर्ष पर स्थित बिड़ला मंदिर को ‘लक्ष्मी नारायण मंदिर’ भी कहा जाता है। मंदिर के प्रमुख देवता भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी हैं। यह मंदिर पूरी तरह से सफेद संगमरमर से बना है और मंदिर की दीवारों पर नक्काशी का काम है।

जयपुर से दूरी: 4 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, धार्मिक लोग

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

4. स्वामीनारायण मंदिर

भगवान विष्णु को समर्पित स्वामीनाथन मंदिर अपनी भव्य नक्काशी और मूर्तियों के लिए यहाँ का मुख्य आकर्षण है। यहाँ का सुंदर और हरा-भरा वातावरण मन को शांत रखता है।

जयपुर से दूरी: 5 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, धार्मिक लोग

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

3. मोती डुंगरी मंदिर

भगवान गणेश को समर्पित मोती डुंगरी मंदिर शहर की रक्षा के लिए बनाया गया था जोकि मोती डुंगरी पैलेस से घिरा हुआ है।

जयपुर से दूरी: 4 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, धार्मिक लोग

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

2. चोखी धानी

शहर के बाहरी इलाके में स्थित चोखी धानी राजस्थानी ग्रामीण संस्कृति और जीवनशैली का वास्तविक चित्रण करती है। लोक नृत्य, ऊंट की सवारी, कठपुतली शो जैसे मनोरंज कार्यक्रमों के साथ-साथ आप यहाँ राजस्थानी कलाकृतियां, हस्तशिल्प और चित्रकला जैसी बहुत सी चीज़ें पा सकते हैं।

जयपुर से दूरी: 17 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र,  परिवार

यात्रा का सबसे अच्छा समय: वर्ष भर

स्थान: नेविगेट करें

1. हवा महल

महाराजा सवाई प्रताप सिंह द्वारा बनवाया गया हवा महल गुलाबी और लाल बलुआ पत्थर से बना एक विशाल स्मारक है। इसमें एक पिरामिड जैसी सरंचना है जो ताज के आकार जैसी दिखती है| इसमें पांच मंजिलें हैं और महल की सबसे उपरी मंजिल से शहर का दृश्य बहुत ही सुंदर दिखाई देता है।

जयपुर से दूरी: 4 कि.मी

समय: 2-3 घंटे

आदर्श: मित्र, परिवार, इतिहासकार, आर्किटेक्ट्स

जाने का सबसे अच्छा समय: सुबह और शाम (वर्ष भर)

स्थान: नेविगेट करें

एक्सप्लोर करने के लिए अन्य स्थान:

जयपुर कैसे पहुंचें

ट्रेन, उड़ान, सड़क द्वारा

निकटतम हवाई अड्डा:

जयपुर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा (11 कि.मी)

उड़ान बुक करके इन से पैसे बचाएं: स्पाइसजेट कूपन, घूमो कूपन, मुसाफिर फ्लाइट कूपन

निकटतम रेलवे स्टेशन:

जयपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन

निकटतम बस स्टॉप:

जयपुर में सेंट्रल बस स्टैंड

अपनी बस बुक करके इनसे पैसे बचाएं: रेडबस प्रोमो कोड, मोबिक्विक बस प्रोमो कोड

कहाँ रहें

यहां रहने के लिए कुछ लोकप्रिय होटल हैं:

ओबेरॉय राज विलास,  आई.टी.सी राजपूताना, ट्राइडेंट होटल जयपुर

होटल बुक करें: फैब होटल्स, ओयो रूम्स, मेक माय ट्रिप  होटल

यात्रा के लिए आसपास के स्थान

  • आगरा (265 कि.मी)
  • पुष्कर (161 कि.मी)
  • अलवर (138 कि.मी)
  • अजमेर (153 कि.मी)
  • उदयपुर (420 कि.मी)
  • नई दिल्ली (293 कि.मी)
  • मथुरा (243 कि.मी)
  • ग्वालियर (302 कि.मी)

छिपे हुए रत्न

  • चावला और नंद के भव्य ‘गोलगप्पा’ भंडार
  • रावत मिष्ठान भंडार में स्वादिष्ट ‘पयाज कचोरी’
  • चांद पोल
  • राम निवास गार्डन
  • आभानेरी गांव और आभानेरी स्टेपवेल

कैशकारो की सलाह

  • राजस्थान के टोंक टाउन में आपको राजस्थानी वास्तुशिल्प की चीज़ें मिल जाएँगी|
  • रोमांच के लिए सरिस्का जाएं|
  • एल्फैनटेसटिक जाकर अद्भुत हाथी की सवारी करें|

जयपुर यात्रा करने के लिए सबसे मजेदार तरीका

जयपुर पहुंचने के कई तरीके हैं लेकिन ड्राइविंग एक अद्भुत अनुभव हो सकता है। यदि आप अपनी कार से नहीं जाना चाहते तो आपको कर किराए पर लेनी चाहिए।

पैसे बचाने के लिए देखें: एविस ऑफर, माइल्स ऑफर, ज़ूमकार ऑफर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 − eight =