Medicines for Cough in Hindi खांसी के लिए 20 सर्वश्रेष्ठ दवाओं की सूची – संरचना, खुराक, लोकप्रियता (2019)

0
370
Medicines for Cough in Hindi खांसी के लिए 20 सर्वश्रेष्ठ दवाओं की सूची - संरचना, खुराक, लोकप्रियता (2019)

Table of Contents

जब आपके गले या वायुमार्ग में जलन होती है तो आपके शरीर का जवाब देने का तरीका खांसी है। यह  चिड़चिड़ाती नसों को उत्तेजित करती है जो मस्तिष्क को संदेश भेजती है। मस्तिष्क फिर सीने और पेट की मांसपेशियों को फेफड़ों से हवा को बाहर निकालने के लिए कहता है ताकि जलन पैदा न हो।

आम खांसी सामान्य और स्वस्थ होती है। जो खांसी कई हफ्तों तक बनी रहती है या जो फीकी पड़ जाती है या खूनी बलगम बन जाती है, ऐसी स्थिति का लक्ष्ण होती है जिसमें चिकित्सा की जरूरत होती है।

खांसी को “तीव्र” तब माना जाता है यदि यह तीन सप्ताह से कम समय तक रहती है। इसे “क्रोनिक” तब माना जाता है यदि यह आठ सप्ताह (बच्चों में चार सप्ताह) से अधिक समय तक रहती है।

तीव्र खांसी के सामान्य कारण:

  • सामान्य जुखाम
  • इन्फ्लुएंजा (फ्लू)
  • चिड़चिड़ाहट में साँस लेना
  • निमोनिया
  • काली खांसी

पुरानी खांसी के आम कारण:

  • एलर्जी
  • अस्थमा (बच्चों में सबसे आम)
  • ब्रोंकाइटिस
  • गैसट्रोसोफेगल रीफ्ल्क्स रोग
  • पोस्टनेसल ड्रिप

खांसी की दवाओं का उपयोग आमतौर पर केवल तब किया जाता है जब खांसी का कारण अज्ञात होता है और खांसी असुविधा का कारण बनती है। यदि आप खांसी की दवा का उपयोग करते हैं तो इसकी खुराक निर्देशों का पालन भी करें।

अपने बच्चे के डॉक्टर से पहली जाँच किए बिना 4 साल से कम उम्र के बच्चों को खांसी की दवा न दें।


Medicines for Cough in Hindi-खांसी के लिए 20 प्रमुख दवाओं की सूची

  1. ब्रोमहेक्सिन
  2. ऍमबरोक्सोल
  3. ऐसटाईलसिकटिन
  4. कार्बोसिकटिन
  5. कौडीन
  6. एथिलमोरफिन
  7. फोल्कोडिन
  8. नोसकापिन
  9. डेक्सट्रोमथोफन
  10. क्लोरफेडिनॉल
  11. प्रेनॉक्सडिजिन
  12. बेनजोएट
  13. एस्कॉरिल-सी
  14. ब्रो-ज़ेडेक्स
  15. चेरिकोफ़
  16. क्लिस्टिन वेट
  17. क्लिस्टिन ड्राई
  18. कोरेक्स
  19. कोस्कोपिन
  20. ग्रीलिंकटस

Medicines for Cough in Hindi-भारत में खांसी के लिए 20 दवाएं (गोलियां, सिरप)

1. ब्रोमहेक्सिन: ब्रोंकी में बलगम मौजूद होने पर खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – ब्रोमहेक्सिन 8mg
  • रचना – ब्रोमहेक्सिन
  • लोकप्रियता – 4
  • ब्रोमहेक्सिन एक शक्तिशाली म्यूकोलाईटिक और म्यूकोकिनेटिक है जो ब्रोन्कियल के स्राव को पतला करने में सक्षम है। यह एल्कालॉईड वासिन (वासाका) अधतोडा वसीका पौधे से संश्लेषित होता है।
  • खुराक – दिन में तीन बार 8 मि.ग्रा.
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 45 रूपए है।

2. अम्ब्रोक्सोल: ब्रोंकी में बलगम मौजूद होने पर खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – एम्ब्रिल, एम्ब्रोलाइट, एम्ब्रोडिल, म्यूकोलाइट
  • रचना – एम्ब्रोक्सोल
  • लोकप्रियता – 4
  • एम्ब्रोक्सोल ब्रोमहेक्सिन का मेटाबोलाइट है जिसमें म्यूकोलाइटिक क्रिया होती है।
  • खुराक – 15 से 30 मि.ग्रा. दिन में तीन बार है|

3. एसिटाइलसिस्टीन: खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – म्यूकोमिक्स
  • रचना – एसिटाइलसिस्टीन
  • लोकप्रियता – 7
  • एसिटाइलसिस्टीन बलगम में मौजूद म्यूकोप्रोटीन में डाइसल्फ़ाइड को खोलता है और इसे कम चिपचिपा बनाता है। इस दवा को सीधे सांस की नली में पहुंचाना होता है।
  • खुराक – 200 मि.ग्रा. प्रति मि.लि. इंजेक्टेबल सस्पेंशन का 1 या 2 मि.ली. सलूशन ट्रेकिओस्टोमी ट्यूब के माध्यम से टपकाना होता है।
  • मूल्य – एम्ब्रोडिल सिरप की एक 100 मि.ली. की बोतल की कीमत 55 रूपए है।

4. कार्बोसिस्टीन: पुरानी खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – मुकोडिन 250 मि.ग्रा.
  • रचना – चेक
  • लोकप्रियता – 6
  • कार्बोसिस्टीन लिक्टीस को एसिटाइलसिस्टीन की तरह ही थूक को पतला करता है| इसे सामान्य रूप से लिया जाता है।
  • खुराक – 250 से 750 मि.ग्रा. दिन में तीन बार
  • मूल्य – 10 कैप्सूल के एक पैकेट की कीमत 45 रूपए है।

5. कोडीन: खांसी को दबाता है

  • ब्रांड – कोडीन 15 मि.ग्रा.
  • रचना – कोडीन
  • लोकप्रियता – 7
  • यह एक अफीम क्षारसूत्र है जो लगभग 6 घंटे तक खांसी को दबाता है। यह मस्तिष्क में ओपियोइड रिसेप्टर्स पर अभिनय करके एंटीट्यूसिव प्रभाव डालती है।
  • खुराक – हर रोज़ 10 से 30 मि.ग्रा.
  • सावधानियां – इस दवा का सेवन करने के बाद भारी मशीनरी न चलाएं और न ही वाहन चलायें|
  • इस दवा का उपयोग अस्थमा के रोगियों में किया जाता है।
  • जब तक बिल्कुल जरूरी न हो बच्चों में इसके उपयोग से बचें।
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 62 रूपए है।

6. एथिलमॉर्फिन: खांसी को दबाता है

  • ब्रांड – डायोन्डिऑन 16 मि.ग्रा.
  • रचना – एथिलमॉर्फिन
  • लोकप्रियता – 3
  • यह दवा कोडीन की क्रिया के समान है लेकिन इसके दुष्प्रभाव कम हैं।
  • खुराक – प्रति दिन 10 से 30 मि.ग्रा.
  • इस दवा के सेवन के बाद भारी मशीनरी और वाहन न चलाएं|
  • इस दवा का उपयोग अस्थमा के रोगियों में किया जाता है।
  • जब तक बिल्कुल जरूरी न हो बच्चों में इस दवा के उपयोग से बचें।
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 72 रूपए है।

7. फोलोडाइन: खांसी को दबाता है

  • ब्रांड – फोलकोडिन
  • रचना – फोलोडाइन सल्फेट
  • लोकप्रियता – 3
  • कोडीन की तरह यह दवा भी समान है लेकिन यह लंबे समय तक काम करती है। यह 12 घंटे तक खांसी को दबाता है।
  • खुराक – हर रोज़ 10 से 15 मि.ग्रा.

8. नोस्कैपिन: ऐंठन वाली खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – कोस्कोपिन, कॉनोस 25 मिलीग्राम
  • रचना – नोस्कैपिन
  • लोकप्रियता – 6
  • यह एक अफीम क्षार है। यह खांसी को दबाता है लेकिन कोई मादक क्रिया नहीं करता। यह दवा मुख्य रूप से ऐंठन वाली खांसी के इलाज के लिए प्रयोग की जाती है।
  • खुराक – हर रोज़ 15 से 30 मि.ग्रा.
  • इस दवा का उपयोग अस्थमा के रोगियों में किया जाता है।
  • मूल्य – कोनोस 25 मि.ग्रा. की 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 80 रूपए है।

9. डेक्सट्रोमेथोर्फन: खांसी को दबाता है

  • ब्रांड – डीऍमआर 20 मि.ग्रा.
  • रचना – डेक्सट्रोमथोरोफन
  • लोकप्रियता – 6
  • यह एक एंटीट्यूसिव दवा है जो मस्तिष्क में रिसेप्टर्स पर एक विरोधी के रूप में काम करती है।
  • खुराक – हर रोज़ 10 से 20 मि.ग्रा.
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 45 रूपए है।

10. क्लोरफेडियनॉल: लंबे समय तक खांसी को दबाता है

  • ब्रांड – डेटिगॉन
  • रचना – क्लोरफेडियनॉल
  • लोकप्रियता – 3
  • यह एक एंटीटसिव दवा है जो धीमी गति से शुरु करके लंबी अवधि तक काम करती है|
  • खुराक – हर रोज़ 30 से 40 मि.ग्रा.
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 80 रूपए है।

11. प्रेनोक्सिडज़ाइन: ब्रोन्कियल खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – प्रेनॉक्सिड
  • रचना – प्रेनोक्सिडज़ाइन
  • लोकप्रियता – 6
  • यह एक परिधीय रूप से अभिनय करने वाला एंटीट्यूसिव है जो पल्मोनरी खिंचाव के रिसेप्टर्स और फेफड़ों में उत्पन्न होने वाले तुषल आवेगों को कम करता है। यह ब्रोन्कियल खांसी के लिए तय किया गया है।
  • खुराक – 100 से 200 मि.ग्रा. दिन में तीन या चार बार
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 270 रूपए है।

12. बेंजोनेट: खांसी को दबाता है

  • ब्रांड – टेसलोन पर्ल्स, ज़ोनटस
  • रचनाबेंज़ोनेट
  • लोकप्रियता – 4
  • बेंज़ोनेट एक गैर-मादक खांसी दबानेवाली या एंटीट्यूसिव दवा है जिसके प्रभाव के छह से आठ घंटे तक रहते हैं। यह एक ओपिओइड नहीं है इसलिए बेंज़ोनेट में कुछ अन्य खांसी दवाओं जैसे कोडीन के विपरीत कोई दुर्व्यवहार नहीं करता।
  • खुराक – 2 से 3 चम्मच दिन में दो बार
  • मूल्य – ज़िनटस सिरप की 100 मि.ली. की बोतल की कीमत 55 रूपए है।

13. एस्कॉर्ल-सी (10/4 मि.ग्रा.) सिरप: सूखी खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांडएस्कोरिल-सी सिरप
  • रचना – कोडीन (10 मि.ग्रा.) + क्लोरफेनिरामाइन (4 मि.ग्रा.)
  • लोकप्रियता – 6
  • कोडीन मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र के दर्द के तरीके को बदलने का काम करता है। यह खांसी के लिए जिम्मेदार मस्तिष्क के हिस्से पर भी काम करता है। क्लोरोफिनेरामाइन शरीर द्वारा उत्पादित कुछ पदार्थों के काम को रोकता है जो खांसी जैसी एलर्जी प्रतिक्रियाओं को प्रेरित करते हैं। इस प्रकार यह सूखी खांसी के उपचार के लिए प्रभावी है।
  • खुराक – दिन में दो बार 2 से 3 बड़े चम्मच
  • सावधानियां – इस दवा को लेने के बाद मशीनों को या वाहन न चलाएं|
  • यह दवा 12 वर्ष से कम उम्र के रोगियों में उपयोग करने के लिए नहीं है।
  • मूल्य – इस सिरप की 120 मि.ली. की बोतल की 120 रूपए की है।

14. ब्रो-जेडेक्स: खांसी और छाती में जमाव को ठीक करता है

  • ब्रांड – ब्रो-ज़ेडेक्स सिरप, ब्रो-ज़ेडेक्स टैब
  • रचना – ब्रोमहेक्सिन, गुइफेनेसिन, मेंथोल, टेरबटालीन
  • लोकप्रियता – 8
  • श्वसन पथ से बलगम को साफ करने के लिए शरीर के तंत्र का समर्थन करने के लिए ब्रो-जेडेक्स का उपयोग दवा के रूप में किया जाता है। यह छाती के जमाव का इलाज करता है। वे म्यूकोलाईटिक्स नामक दवाओं के एक समूह से संबंधित हैं जो बलगम को तोड़ने का काम करते हैं ताकि खांसी को दूर करना आसान हो।
  • खुराक – यह दवा गोली और तरल दोनों रूपों में आती है। ये गोलियाँ हर रोज़ बहुत सारे तरल और भोजन के बाद आमतौर पर 3 बार ली जाती हैं| तरल रूप इसे हर रोज़ दिन में 2 से 4 बार लिया जा सकता है।
  • मूल्य – ब्रो जेडेक्स सिरप की 100 मि.ली. की एक बोतल की कीमत 100 रूपए है।

15. चेरिकॉफ: खांसी और बंद नाक को ठीक करता है

  • ब्रांड – चेरिकॉफ़ सिरप
  • रचना – फिनाइलफ्राइन, क्लोरफेनेरामाइन, डेक्सट्रोमेथोर्फन
  • लोकप्रियता – 8
  • यह दवा नाक और कान में सूजन को कम करने का काम करती है जिससे सांस लेना आसान हो जाता है और असुविधा कम हो जाती है।
  • खुराक – यह खुराक आपकी उम्र पर आधारित होता है। अपने डॉक्टर की स्वीकृति के बिना अपनी खुराक या दवा को लेने का तरीका न बदलें| इस दवा का अनुचित उपयोग गंभीर नुकसान भी पहुंचा सकता है।
  • मूल्य – इस सिरप की 100 मि.ली. की बोतल की कीमत 84 रूपए है।

16. क्लिस्टिन वेट सिरप: गीली खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – क्लिस्टिन वेट सिरप
  • रचना – एम्ब्रोक्सोल, सेटीरिज़िन, गुइफेनेसिन
  • लोकप्रियता – 6
  • यह एक सक्रिय म्यूकोलाईटिक एजेंट है जो फेफड़ों में बलगम की संरचना को तोड़ने का काम करता है और इसलिए एक्सपेक्टोरेशन की सुविधा देता है। यह बलगम के बनने के साथ तीव्र और पुरानी सांस संबंधी बीमारियों का इलाज करता है।
  • खुराक – वयस्कों के लिए क्लिस्टिन सिरप की सामान्य खुराक हर रोज़ 2 से 3 विभाजित खुराक में 30 मि.ग्रा. से 120 मि.ग्रा. है।
  • यदि आप स्तनपान करा रहे हैं तो आपको स्टीवंस-जॉनसन सिंड्रोम है या यदि आप 12 साल या उससे कम उम्र के हैं तो आपको इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • मूल्य – सिरप की 100 मि.लि. बोतल की कीमत 75 रूपए है।

17. क्लिस्टिन ड्राई सिरप: सूखी खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – क्लिस्टिन ड्राई सिरप
  • रचना – क्लोरफेनिरामाइन, डेक्सट्रोमेथॉर्फ़न, फेनलेफ़्रीन
  • लोकप्रियता – 6
  • यह सिरप एक एंटीहिस्टामाइन है जो शरीर में हिस्टामाइन की क्रिया में रूकावट डालने का काम करता है। इसका उपयोग साइनस के दबाव, नाक बहन, गले और नाक की खुजली, पानी वाली आँखें और ऊपरी श्वसन संक्रमण, हेय फीवर और एलर्जी के कारण छींकने के लक्षणों से राहत पाने के लिए किया जाता है।
  • खुराक – इस दवा को टेबलेट, कैप्सूल या तरल रूप में मुंह से या उसके बिना भी ले सकते हैं। यह दवा आमतौर पर केवल थोड़े समय के लिए सुझाई जाती है जब तक कि आपके लक्षण साफ न हो जाएं। इसे 7 दिनों से अधिक समय तक न लें।
  • यदि आपको इससे एलर्जी है या यदि आप ले रहे हैं या पिछले 14 दिनों के भीतर सोडियम ऑक्सीबेट, फ़राज़ज़ोलिडोन या मोनोमाइन ऑक्सीडेज इनहिबिटर ले रहे हैं तो इस दवा का उपयोग न करें।
  • मूल्य – इस सिरप की 100 मि.लि. की बोतल की कीमत 75 रूपए है।

18. कोरेक्स सिरप: सूखी खांसी को ठीक करता है

  • ब्रांड – कोरेक्स (10/4 मि.ग्रा.) सिरप
  • रचना – कोडीन (10 मि.ग्रा.) + क्लोरफेनिरामाइन (4 मि.ग्रा.)
  • लोकप्रियता – 8
  • कोडीन मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र के दर्द के तरीके को बदलकर काम करता है। यह खांसी के लिए जिम्मेदार मस्तिष्क के हिस्से पर भी काम करता है। क्लोरोफिनेरामाइन शरीर द्वारा उत्पादित कुछ पदार्थों के काम को रोकता है जो खांसी जैसी एलर्जी प्रतिक्रियाओं को प्रेरित करते हैं। इस प्रकार यह सूखी खांसी का प्रभावी रूप से उपचार करता है।
  • खुराक – दिन में दो बार 2 से 3 बड़े चम्मच
  • यह दवा 12 वर्ष से कम उम्र के रोगियों में उपयोग करने की सलाह नहीं दी जाती|
  • मूल्य – सिरप की 100 मि.लि. बोतल की कीमत 85 रूपए है।

19. कोस्कोपिन सिरप: खांसी को दबाता है

  • ब्रांड – कोस्कोपिन सिरप
  • रचना – नोसाकपिन, क्लोरोफिनेरामाइन, अमोनियम क्लोराइड, सोडियम साइट्रेट
  • कोस्कोपिन सिरप एक प्रकार की दवा है जिसे एंटीट्यूसिव के रूप में जाना जाता है, जिसका अर्थ है कि यह एक कफ दबाने वाली है और खांसी से पीड़ित रोगियों का इलाज करती है।
  • खुराक – वयस्कों के लिए इसकी खुराक हर रोज़ 15 से 30 मि.ग्रा. है जबकि बच्चों के लिए हर रोज़ लगभग 7.5 मि.ग्रा. है।
  • यह दवा गर्भवती महिलाओं को नहीं दी जाती और उन रोगियों को भी नहीं जिन्हें इस दवा से या अतीत में इसके किसी भी घटक से एलर्जी हुई हो।
  • मूल्य – सिरप की 100 मि.ली. की बोतल की कीमत 80 रूपए है।

20. ग्रिलिंक्टस

  • ब्रांड – ग्रिलिंक्टस-एल सस्पेंशन
  • रचना – लेवोक्लोपरस्टीन
  • लोकप्रियता स्तर – 9
  • ग्रिलिंक्टस-एल सस्पेंशन एक गैर-ओपियोड एंटीटूसिव एजेंट है जिसका उपयोग पुरानी खांसी के इलाज के लिए किया जाता है। यह दवा मस्तिष्क से उन संकेतों को रोकती है जो कफ के रिफ्लेक्स को ट्रिगर करते हैं और इस तरह खांसी को दबाने में मदद करते हैं।
  • खुराक – दिन में दो या तीन बार 2 से 3 बड़े चम्मच
  • 2 वर्ष से कम उम्र के रोगियों में इस दवा की सिफारिश नहीं की जाती है।
  • मूल्य – दवा की 100 मि.लि. बोतल की कीमत 100 रूपए है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × three =