Medicines for Migraine in Hindi माइग्रेन के लिए 18 सर्वश्रेष्ठ दवाओं की सूची – संरचना, खुराक, लोकप्रियता (2019)

0
227
Medicines for Migraine in Hindi माइग्रेन के लिए 18 सर्वश्रेष्ठ दवाओं की सूची - संरचना, खुराक, लोकप्रियता (2019)

Table of Contents

माइग्रेन किसी सामान्य सिरदर्द के समान नहीं है जो ज्यादातर लोगों में बार बार होता है। माइग्रेन का दौरा अचानक सिर के केवल एक तरफ गंभीर दर्द के साथ शुरू होता है। यह दर्द एक सामान्य सिरदर्द की तुलना में बहुत खराब है और आमतौर पर अन्य लक्षणों के साथ भी होता है। लेकिन इस सिरदर्द को केवल माइग्रेन तभी माना जाता है जब विशेष लक्षण कम से कम पांच बार हुए हों।

माइग्रेन रोजमर्रा की जिंदगी को बहुत प्रभावित करता है। कुछ लोगों को केवल यह कभी-कभी होता है जबकि अन्य को हर महीने कई दिनों तक माइग्रेन होता है। विभिन्न प्रकार की दवाएं  माइग्रेन से निपटने में मदद करती है।

पुरुषों की तुलना में महिलाओं में माइग्रेन अधिक आम है। 100 में से 14 महिलाओं और 100 पुरुषों में से 7 को बार बार माइग्रेन होता है। यह बच्चों के लिए अलग है, जहां लड़के और लड़कियों में माइग्रेन समान रूप से आम है: 100 में से लगभग 4 से 5 बच्चे इससे प्रभावित होते हैं।

प्रति वर्ष भारत में ही इसके 10 मिलियन से ज्यादा मामले सामने आये हैं।

लक्षण – माइग्रेन आमतौर पर मध्यम से गंभीर सिरदर्द से जुड़ा है जो केवल सिर के एक तरफ को ही प्रभावित करता है। लोग आमतौर पर तेज़ दर्द के साथ थ्रोबिंग के रूप में वर्णित करते हैं। यह अक्सर शारीरिक गतिविधि के दौरान खराब हो जाता है| यह सिरदर्द मतली या उल्टी के साथ होता है। जब बच्चों को माइग्रेन होता है तो उन्हें सिरदर्द नहीं होता, इसके बजाय इसके मुख्य लक्षण मतली, उल्टी या चक्कर आना हो सकते हैं।

माइग्रेन के हमलों के दौरान कुछ लोग रौशनी या शोर के प्रति बहुत संवेदनशील होते हैं। यदि इसका उपचार ना किया जाए तो इसके लक्षण चार घंटे और तीन दिनों के बीच रहते हैं।

वास्तविक माइग्रेन ध्यान देने योग्य होने से पहले कुछ लोग चमकती रोशनी या अजीब आकार देखते हैं। अन्य को धब्बे के रूप में या लहराती लाइनों जैसे सब कुछ दिखाई देता है। लोगों को अस्थायी रूप से बोलने में परेशानी होती है, उनके शरीर के कुछ हिस्सों में पक्षाघात का अनुभव होता है या असामान्य संवेदनाएं होती हैं जैसे झुनझुनी। डॉक्टर इस प्रकार की गड़बड़ियों को “औरस” कहते हैं। वे आमतौर पर एक घंटे के भीतर चले जाते हैं|

कारण – यह स्पष्ट नहीं है कि माइग्रेन का कारण क्या है। एक सिद्धांत के अनुसार, मस्तिष्क में सूजन वाली रक्त वाहिकाओं से कुछ लेना-देना है। जिस तरह से मस्तिष्क दर्द संकेतों को संसाधित करता है वह एक भूमिका भी निभा सकता है। दर्द होने पर तनाव अक्सर एक महत्वपूर्ण कारक है, घबराहट या तनाव महसूस करना दर्द को बदतर बनाता है या पहली बार में उत्पन्न होने की अधिक संभावना है। इसलिए पर्याप्त ब्रेक के बिना व्यस्त दिनों में माइग्रेन होने का खतरा बढ़ जाता है। एक बार तनाव कम हो जाने पर माइग्रेन भी शुरू हो जाता है – उदाहरण के लिए, सप्ताहांत पर या छुट्टी के पहले कुछ दिनों के दौरान। अनियमित खान-पान और सोने के समय के कारण माइग्रेन के हमलों की संभावना भी बढ़ती है।

तीव्र माइग्रेन के उपचार की दो मुख्य श्रेणियां जो आप स्वयं कर सकते हैं वे हैं:

1) ओवर द काउंटर – माइग्रेन का इलाज नॉन-स्टेरायडल एंटी-इंफ्लेमेटरी के साथ किया जाता है, जैसे इबुप्रोफेन या नेप्रोक्सन। एस्पिरिन एक लोकप्रिय ओवर-द-काउंटर विकल्प है या तो अकेले या कैफीन और एसिटामिनोफेन के साथ एक्स्रेड्रिन माइग्रेन के रूप में प्रयोग किया जाता है।

2) प्रिस्क्रिप्शन मेड्स – प्रिस्क्रिप्शन दवाओं का एक वर्ग जिसे ट्रिप्टन कहा जाता है इसे विशेष रूप से माइग्रेन के हमले को खत्म करने के लिए तैयार किया गया है। कई अलग-अलग प्रकार के ट्रिप्टान हैं जैसे कि इमिट्रेक्स, साथ ही साथ दवा की अलग-अलग विधियां भी हैं, इसलिए आपके पास राहत के कई विकल्प हैं, कोई भी स्थिति नहीं है। कुछ अन्य प्रकार की दवाएं जैसे कि एर्गोटैमाइन को बचाव दवाओं के रूप में अपने द्वारा लिया जा सकता है यदि आप ट्रिप्टन के प्रति प्रतिक्रिया नहीं करते। हृदय रोग वाले लोगों के लिए ट्रिप्टान और एर्गोटेमाइंस को लेने के बारे में मतभेद है।

 


Medicines for Migraine in Hindiमाइग्रेन के लिए 18 शीर्ष दवाओं की सूची

  1. एर्गोटेमाइन
  2. डीहाईड्रोएरगोटामाइन
  3. सुमाट्रिप्टान
  4. रिज़ाट्रिपटन
  5. फ्रोवाट्रिपटन
  6. मेटोक्लोपरामाईड
  7. डिफेनहाईड्रामाइन
  8. डोमपेरीडॉन
  9. प्रोपैनलोल
  10. ऐमिट्रिप्टिलाइन
  11. फ्लुनारिजाईन
  12. वैल्प्रोइक एसिड
  13. गाबा पेन्टिन
  14. टोपिरामेट
  15. पैरासिटामोल
  16. एस्पिरिन
  17. आइबूप्रोफेन
  18. नेपरोक्सन

Medicines for Migraine in Hindi-भारत में माइग्रेन के लिए 18 शीर्ष दवाएं (गोलियां, सिरप, मलहम)

1. एर्गोटामाइन: यह माइग्रेन को ठीक करता है|

  • ब्रांड – माईग्रिल
  • रचना – एर्गोटामाइन 2 मिलीग्राम, कैफीन 100mg और साइक्लिज़िन 50mg
  • लोकप्रियता – 5
  • एर्गोटामाइन पतली कपाल वाहिकाओं को संकुचित करके काम करता है। अटैक की शुरुआत में आराम पाने के लिए अक्सर कम खुराक की जरूरत होती है, लेकिन जब दर्द गंभीर हो जाता है तो ज्यादा खुराक की जरूरत होती है।
  • खुराक – ओरल / सब्लिंगुअल रूट को प्राथमिकता दी जाती है| आराम पाने के लिए 1 मि.ग्रा. दी जाती है और टोटल 6 मि.ग्रा. दी जाती है।
  • मूल्य – माइग्रेन की 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत लगभग 1014 रूपए है।

2. डायहाइड्रोएरगोटामाइन: गंभीर माइग्रेन के अटैक को ठीक करता है|

  • ब्रांड – मिग्रानल (नाक ड्रॉप), डायहाइड्रोएगोटामाइन इंजेक्शन
  • रचना – डाइहाइड्रोजेटामाइन मेसाइलेट
  • लोकप्रियता – 6
  • डाइहाइड्रोजेटामाइन उतना ही प्रभावी है जितना कि एर्गोटामाइन और इसे पैरेंट एडमिनिस्ट्रेशन के लिए प्रयोग किया जाता है। इसका उपयोग नाक की बूंदों के रूप में भी किया जाता है।
  • मूल्य – मिग्रेनल नेसल स्प्रे (4 मि.ग्रा. / एम.एल.) की लागत लगभग 3845 डॉलर है|

3. सुमाट्रिप्टन: यह माइग्रेन से संबंधित मतली और उल्टी को ठीक करता है|

  • ब्रांड – मिग्रेटन, सुमिनैट, सुमिट्रेक्स
  • रचना – सुमाट्रिप्टान
  • लोकप्रियता – 7
  • सुमाट्रिप्टान कपाल की पतली रक्त वाहिकाओं के 5एचडी-1डी रिसेप्टर की मध्यस्थता का कारण बनता है। माना जाता है कि माइग्रेन अटैक के दौरान इन वाहिकाओं का विलयन रक्त के प्रवाह को ब्रेन पैरेन्काइमा से दूर कर देता है। इस दवा के एर्गोटामाइन की तुलना में कम दुष्प्रभाव हैं। यह माइग्रेन के कारण होने वाली मतली और उल्टी को भी दबाता है।
  • खुराक – इसे माइग्रेन अटैक की गंभीरता के आधार पर 25 से 100 मि.ग्रा. तय किया गया है।
  • मूल्य – समिट्रेक्स का एक टैबलेट का पैक 20 रूपए का है।

4. रिजेट्रिप्टैन: माइग्रेन से संबंधित मतली और उल्टी को ठीक करता है|

  • ब्रांड – रिज़ैक्ट, रिज़टन
  • रचना – रिजेट्रिप्टन
  • लोकप्रियता – 8
  • यह समेट्रिप्टैनन का एक कोजेनर है और इसे मुंह द्वारा लेने पर यह तेज़ी से काम करता है|
  • खुराक – इसे 5 से 10 मि.ग्रा. लिया जाता है एयर इसे 2 घंटे के बाद एक बार दोबारा दोहराएं (यदि आवश्यक हो)।
  • मूल्य – रिजैक्ट की 4 गोलियों का एक पैकेट 250 रूपए का है।

5. फ्रोवेट्रिप्टैन: कुरेसा माइग्रेन, मतली और उल्टी के लिए

  • ब्रांड – फ्रॉवा
  • रचना – फ्रोवेट्रिप्टन
  • लोकप्रियता – 5
  • यह दवा 5 एचटी-1बी रिसेप्टर्स पर काम करके कपाल की रक्त वाहिकाओं को पतला करती है। इसका प्रभाव बहुत लंबे समय तक रहता है और यह माइग्रेन के हमले के बाद सिरदर्द के दोबारा होने को नियंत्रित करता है।
  • खुराक – शुरू में इसकी खुराक 5 – 5 मि.ग्रा. और अधिकतम खुराक 7.5 मि.ग्रा. है।
  • मूल्य – फ्रुवा ओरल टैबलेट की 9 गोलियों की 5 मि.ग्रा. की कीमत लगभग 769 डॉलर है।

6. मेटोक्लोप्रमाइड: मतली, उल्टी और गैस्ट्रिक ठहराव से आराम देता है|

  • ब्रांड – मेटोक्लोप
  • रचना – मेटोक्लोप्रमाइड
  • लोकप्रियता – 4
  • यह एक एंटीमैटिक दवा है जो माइग्रेन का इलाज नहीं करती लेकिन इससे जुड़ी मतली, उल्टी और गैस्ट्रिक ठहराव से छुटकारा दिलाती है।
  • खुराक – इसे 10 मि.ग्रा. मुंह द्वारा या इंट्रा-मस्कुलर इंजेक्शन द्वारा दिया जाता है|
  • मूल्य – इसके 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 8 रूपए है।

7. डीफेनहाइड्रामाइन: उल्टी से आराम देता है और मन को शांत करता है|

  • ब्रांड – जेंड्रिल 25 मि.ग्रा.
  • रचना – डीफेनहाइड्रामाइन
  • लोकप्रियता – 5
  • यह एक एंटीमैटिक और सेडेटिव दवा है, जो उल्टी होने की घटना को रोकता है और बेहोशी का कारण बनता है।
  • खुराक – 10 से 20 मि.ग्रा. मुंह द्वारा लिया जाता है|
  • मूल्य – इसके 10 कैप्सूल के एक पैकेट की कीमत 30 रूपए है।

8. डोमपरिडोन: उल्टी से आराम देता है

  • ब्रांड – डोम 10 मि.ग्रा.
  • रचना – डोमपरिडोन
  • लोकप्रियता – 7
  • डोमपरिडोन एक एंटी-मेटिक दवा है जो माइग्रेन के कारण होने वाली उल्टी को रोकता है।
  • खुराक – 20 मि.ग्रा. मुंह से
  • मूल्य – इसके 10 कैप्सूल के एक पैकेट की कीमत 55 रूपए है।

9. प्रोपेनॉल: माइग्रेन के हमलों के बार बार होने और उनकी गंभीरता को कम करता है|

  • ब्रांड – प्रोपेनल 40 मि.ग्रा.
  • रचना – प्रोपानोल
  • लोकप्रियता – 8
  • प्रोपानोलोल एक एड्रीनर्जिक अवरोधक के रूप में काम करता है। इस दवा का उपयोग उन रोगियों में माइग्रेन के प्रोफिलैक्सिस के लिए किया जाता है जिन्हें हर महीने 2 से 3 अटैक होते हैं।
  • खुराक – इसकी शुरुआती खुराक दिन में दो बार 40 मि.ग्रा. है जिसे जरूरत होने पर दिन में दो बार 160 मि.ग्रा. तक बढ़ाया जा सकता है।
  • मूल्य – इसके 10 कैप्सूल के एक पैकेट की कीमत 36 रूपए है।

10. एमिट्रिप्टिलाइन: माइग्रेन के हमलों के बार बार होने को कम करता है|

  • ब्रांड – एमिट्रिप्टिलाइन 10 मि.ग्रा.
  • रचना – एमिट्रिप्टिलाइन
  • लोकप्रियता – 3
  • यह एक एंटीडिप्रेसेंट दवा है, जो 5-एचटी रिसेप्टर को ब्लॉक करने वाले गुणों के कारण माइग्रेन के हमलों को कम करने में भी मदद करती है। यह दवा उन रोगियों के लिए उपयुक्त है जो डिप्रेशन के साथ-साथ माइग्रेन से पीड़ित हैं।
  • खुराक – सोते समय 25 से 50 मि.ग्रा.
  • मूल्य – इसके 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 20 रूपए है।

11. फ्लूनारिज़िन: माइग्रेन के हमलों के बार बार होने को कम करता है|

  • ब्रांड – नोमिग्रेन, फ्लुरीन
  • रचना – फ़्लुन्रिज़ाइन
  • लोकप्रियता – 6
  • फ्लूनारिज़िन एक कैल्शियम चैनल अवरोधक है जो मस्तिष्क हाइपोक्सिया और अन्य कारणों के कारण इंट्रासेल्युलर कैल्शियम के अधिभार को कम करके माइग्रेन में फायदा पहुंचाता है।
  • खुराक – दिन में एक बार 10 से 20 मि.ग्रा.
  • मूल्य – फ्लूनारिन 10 मि.ग्रा. की 10 गोलियों की एक स्ट्रिप 45 रूपए की होती है।

12. वल्प्रोइक एसिड: माइग्रेन के अटैक को रोकता है|

  • ब्रांड – एप्सवाल 500 मि.ग्रा.
  • रचना – वल्प्रोइक अम्ल
  • लोकप्रियता – 3
  • यह एक एंटीकॉन्वेलसेंट दवा है जो माइग्रेन के अटैक के बार बार कम होने में मदद करता है।
  • खुराक – रोजाना 400 से 1200 मि.ग्रा.
  • मूल्य – 6 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 652 रूपए है।

13. गैबापेंटिन: माइग्रेन अटैक को रोकता है|

  • ब्रांड – गाबापिन 100 मि.ग्रा.
  • रचना – गैबापेंटिन
  • लोकप्रियता – 3
  • यह एक एंटीकॉन्वेलसेंट दवा है जो माइग्रेन के हमलों के बार बार होने को कम करता है।
  • खुराक – प्रति दिन 300 से 1200 मि.ग्रा.
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 100 रूपए है।

14. टोपिरामेट: माइग्रेन अटैक को रोकता है|

  • ब्रांड – टोपाज़ 50 मि.ग्रा.
  • रचना – टोपिरामेट
  • लोकप्रियता – 4
  • यह एक नई एंटीकॉन्वेलसेंट दवा है जिसे माइग्रेन के प्रोफिलैक्सिस के लिए लेने की सलाह दी जाती है। इसे अटैक के होने को 50% तक कम करते हुए देखा गया है।
  • खुराक – दिन में एक बार 25 मि.ग्रा. से शुरू करें और धीरे-धीरे दिन में एक या दो बार 50 मि.ग्रा. तक बढ़ाएं|
  • मूल्य – 15 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 130 रूपए है।

15. पैरासिटामोल: हल्के माइग्रेन को ठीक करता है|

  • ब्रांड – डोलो 650
  • रचना – पैरासिटामोल
  • लोकप्रियता – 8
  • पेरासिटामोल एक एनाल्जेसिक दवा के रूप में काम करता है। यदि किसी अटैक से पहले ही लक्ष्ण दिखें तो यह सबसे हल्के अटैक को भी दबा देता है।
  • खुराक – इसकी 5 से 1 मि.ग्रा. की खुराक हर 4 से 6 घंटे में जरूरत के अनुसार दोहरानी चाहिए।
  • मूल्य – 15 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 60 रूपए है।

16. एस्पिरिन: हल्के माइग्रेन के अटैक को ठीक करता है|

  • ब्रांड – एस्पिरिन 200 मि.ग्रा.
  • रचना – एस्पिरिन
  • लोकप्रियता – 8
  • एस्पिरिन एक एनाल्जेसिक दवा के रूप में भी काम करता है। यदि इसके अटैक के पहले ही लक्षण दिख जाए तो यह हल्के अटैक को दबा देता है।
  • खुराक – इसकी 300 से 600 मि.ग्रा. की खुराक हर 4 से 6 घंटे में ज्र्र्रत के अनुसार दोहराई जानी चाहिए।
  • मूल्य – 10 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 2 रूपए है।

17. इबुप्रोफेन: हल्के माइग्रेन के अटैक ठीक करता है|

  • ब्रांड – ब्रूफेन 400 मि.ग्रा.
  • रचना इबुप्रोफेन
  • लोकप्रियता – 8
  • इबुप्रोफेन एक नॉन-स्टेरायडल एंटी-इंफ्लेमेटरी दवा है। यह माइग्रेन के लिए अधिक प्रभावी है। इस दवा से लम्बे समय तक उपचार करने की सिफारिश नहीं की जाती।
  • खुराक – हर 8 घंटे में 400 से 800 मि.ग्रा. या जरूरत के अनुसार|
  • मूल्य – 15 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 10 रूपए है।

18. नेपरोक्सन: माइग्रेन के हल्के अटैक को ठीक करता है|

  • ब्रांड – नेप्रोसिन 500 मि.ग्रा.
  • रचना – नेपरोक्सन
  • लोकप्रियता – 7
  • यह एक नॉन स्टेरायडल एंटी-इंफ्लेमेटरी दवा है जो अटैक के बार बार होने को कम करने में मदद करती है और यदि इसे पहले चरण में ही लिया जाता है तो हमले की गंभीरता कम हो जाती है।
  • खुराक –250 मि.ग्रा. के बाद 500 मि.ग्रा. या जरूरत के अनुसार|
  • मूल्य – 15 गोलियों के एक पैकेट की कीमत 50 रूपए है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × two =