Medicines for Ringworm in Hindi रिंगवर्म के लिए 20 सर्वश्रेष्ठ औषधियों की सूची – संरचना, खुराक, लोकप्रियता (2019)

0
301
Medicines for Ringworm in Hindi रिंगवर्म के लिए 20 सर्वश्रेष्ठ औषधियों की सूची - संरचना, खुराक, लोकप्रियता (2019)

Table of Contents

रिंगवर्म त्वचा और खोपड़ी का एक फंगल इन्फेक्शन है। यह एक बहुत ही आम सी बीमारी है, जो भारत में हर साल 10 मिलियन से अधिक लोगों को प्रभावित करती है।

रिंगवर्म एक कीड़ा नहीं बल्कि फंगस के कारण होता है और यह त्वचा के संपर्क में आने या किसी इन्फेक्टेड जानवर या वस्तु को छूने से फैलता है।

संक्रमण के लक्षणों में त्वचा का काला पड़ना, फिशर होना, छिल जाना, लाल चकत्ते पड़ना, पपड़ीदार पैच, बालों का झड़ना या खुजली होना शामिल है।

यदि इन्फेक्शन आपकी त्वचा पर है जैसे कि एथलीट फुट या खुजली के मामले में, एक ओटीसी एंटी-फंगल क्रीम, लोशन या पाउडर इसे ठीक कर देंगे| इन ओटीसी उत्पादों को एक स्थानीय रसायनज्ञ से पूछा जा सकता है। लेकिन यदि  यह बेहतर नहीं होता और जलन का कारण बनता है तो अपने डॉक्टर से सलाह करें।


Medicines for Ringworm in Hindiरिंगवर्म के लिए 20 शीर्ष दवाओं की सूची

  1. बैटराफैन
  2. बेकलसोन सी
  3. खरा
  4. डसकिल
  5. एक्सिफाइन
  6. फंगीक्रोस
  7. ग्रिसोफुलविन एफपी
  8. गायनो-टेराजोल
  9. केटोमैक
  10. लामिसिल
  11. बकाइन क्रीम
  12. लुलिफिन
  13. मायकोसपोर
  14. नफ़टिन
  15. निजोरल
  16. रिंगकटर
  17. सेबीफिन
  18. सटीप्रोक्स
  19. टेबिना
  20. वालाविन

Medicines for Ringworm in Hindi-भारत में रिंगवर्म के लिए 20 शीर्ष दवाएं (गोलियां, मलहम)

1. बैट्राफान: त्वचा के फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – बैट्राफान
  • रचना – साइक्लोपीरोक्स
  • लोकप्रियता – 7
  • साइक्लोपीरोक्स एंटीफंगल गतिविधि और कुछ जीवाणुरोधी गतिविधि को दर्शाता है और फंगल कोशिकाओं में जरूरी तत्वों के परिवहन को रोकता है| इसलिए यह डीएनए, आरएनए और प्रोटीन के संश्लेषण में रूकावट डालता है।
  • खुराक – यह सलूशन के रूप में मिलता है और इस क्रीम को इन्फेक्टेड जगह पर लगाना चाहिए। त्वचा के इन्फेक्शन के मामले में इसे एक बार और नाखून के इन्फेक्शन के मामले में इसे दो बार लगायें|
  • मूल्य – बटरफैन की 15 ग्रा. क्रीम की ट्यूब 18 रूपए की है।

2. बिकेलसोन सी: रिंगवर्म से जुड़े त्वचा के इन्फेक्शन का इलाज करता है|

  • ब्रांड – बेक्लासोन सी
  • रचना – बेकलोमेटासोन और क्लोट्रिमेज़ोल
  • लोकप्रियता – 7
  • क्लोट्रिमेज़ोल एक एंटी-फंगल है और सुरक्षात्मक आवरण बनाने से रोककर फंगल के विकास को रोकता है। बेकलोमेटासोन एक स्टेरॉयड है जो प्रोस्टाग्लैंडीन के बनने को रोकता है जो त्वचा को लाल, खुजलीदार बनाता है।
  • खुराक – इसे क्रीम के रूप में दिन में एक या दो बार लगाया जाता है या जैसा कि डॉक्टर के बताये अनुसार लगायें।
  • मूल्य – बेक्लासोन सी की 15 ग्रा. की ट्यूब 9 रूपए की है।

3. कैंडिड: एथलीट फुट, खुजली और रिंगवर्म जैसे त्वचा के इन्फेक्शन का इलाज करता है|

  • ब्रांडकैंडिड
  • रचना – क्लोट्रिमेज़ोल
  • लोकप्रियता – 9
  • क्लोट्रिमेज़ोल एक एंटी-फंगल है जो कोशिका में कुछ महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं में रूकावट डालकर फंगल के विकास को रोकता है।
  • खुराक – इसे क्रीम के रूप में दिन में एक या दो बार 2 से 4 हफ्ते के लिए लगाया जाता है।
  • मूल्य – इस 1% क्रीम की ट्यूब की कीमत 75 रूपए है।

4. डस्किल: फंगी और यीस्ट के कारण होने वाले इन्फेक्शन का इलाज करता है|

  • ब्रांड – डस्किल
  • रचना – टेरिनाफाइन
  • लोकप्रियता – 8
  • टेरिनाफाइन एक एंटी-फंगल एजेंट है और फंगल के विकास को रोकता है।
  • खुराक – इस टेबलेट को भोजन के साथ या बिना लिया जाता है। इसकी खुराक रोजाना 12 हफ्ते के लिए दिन में एक बार 250 मि.ग्रा. है।
  • मूल्य – डैस्किल को 7 गोलियों (250 मि.ग्रा.) की एक स्ट्रिप 00 रूपए की है।
  • लंबे समय तक सक्रिय लिवर के रोग वाले रोगियों में इसके उपयोग की सिफारिश नहीं की जाती|

5. एक्सफाइन: फंगल त्वचा के संक्रमण का इलाज करता है

  • ब्रांड – एक्सफ़ाइन
  • रचना – टेरबिनाफाइन
  • लोकप्रियता – 7
  • टेरिबिनफाइन एक एंटी-फंगल दवा है, जो कोशिका झिल्ली को नष्ट करके त्वचा पर फंगल को मारने का काम करता है।
  • खुराक – इसे प्रभावित क्षेत्र पर दिन में एक या दो बार क्रीम के रूप में लगाया जाता है|
  • मूल्य – एक्सफ़ाइन 10 ग्रा. की ट्यूब 88 रूपए की है।
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं द्वारा इसके उपयोग की सलाह नहीं दी जाती।

6. कवक: फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – कवक
  • रचना – अमोरोल्फिन
  • लोकप्रियता – 8
  • अमोरोल्फिन एक एंटी-फंगल दवा है जो फंगल के विकास को रोककर उन्हें सुरक्षात्मक आवरण बनाने से रोकती है।
  • इसे इन्फेक्टेड जगह पर लगाने के लिए क्रीम के रूप में मिलती है। इसे लगाने से पहले चिकित्सक से सलाह लें|
  • मूल्य – इसकी 10 ग्राम की एक ट्यूब 140 रूपए की है।

7. ग्रिसोफुलविन एफपी: यह फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – ग्रिसेफुलविन एफपी
  • रचनाग्रिसोफुलविन
  • लोकप्रियता – 7
  • ग्रिसोफुलविन एक एंटी-फंगल दवा है और फंगल कोशिका के विभाजन को रोककर फंगल के विकास को रोकती है।
  • इसे भोजन के साथ गोली के रूप में मुंह द्वारा लिया जाता है| इसे अपने चिकित्सक के निर्देश अनुसार ही लें।
  • मूल्य – ग्रिस्फोफ्लविन की 10 गोलियों (250 मि.ग्रा.) की एक स्ट्रिप21 रूपए की है।
  • इसे गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को लेने की सलाह नहीं दी जाती।

8. गाइनो-टेराज़ोल: योनि के फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – गाइनो-टेराज़ोल
  • रचना – टेरकोनाज़ोल
  • लोकप्रियता – 8
  • टेरकोनाज़ोल एक एंटी-फंगल एजेंट है और यीस्ट को नुकसान पहुंचाकर इन्फेक्शन से लड़ने के लिए काम करता है।
  • खुराक – यह क्रीम के रूप में लगाया जाता है। इसे लगातार तीन दिनों तक सोते समय एक बार दैनिक रूप से लगाना चाहिए।
  • मूल्य – गाइनो-टेराज़ोल की 8% मलहम / क्रीम (15 ग्रा.) 57.00 रूपए की है।

9. केटोमैक: फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – केटोमैक
  • रचना – केटोकोनाज़ोल
  • लोकप्रियता – 8
  • केटोकोनैजोल एक एंटिफंगल दवा है। यह फंगल कोशिका की झिल्ली को नष्ट करके फंगल को मारता है।
  • यह खोपड़ी के फंगल इन्फेक्शन के उपचार के लिए एक शैम्पू के रूप में मिलता है।
  • मूल्य – केटोमैक की 110 मि.ली. की एक बोतल 198 रूपए की है।

10. लामिसिल: खुजली, एथलीट फुट और अन्य प्रकार के रिंगवर्म के इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – लैमिसिल
  • रचना – टेरबिनाफाइन
  • लोकप्रियता – 8
  • टेरबिनाफाइन एक फंगल कोशिका की झिल्ली के एक जरूरी तत्व द्वारा काम करता है जो इसे मृत्यु की ओर ले जाता है।
  • खुराक – यह मुंह से ली जाने वाली गोली के रूप में मिलता है। इसकी खुराक 12 सप्ताह के लिए दिन में एक बार 250 मि.ग्रा. है।
  • मूल्य – लैमिसिल की 14 गोलियों (250 मि.ग्रा.) की एक स्ट्रिप 247 रूपए की है।

11. बकाइन क्रीम: एथलीट फुट, खुजली और रिंगवर्म जैसे फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – बकाइन क्रीम
  • रचना – लुलिकोनाज़ोल
  • लोकप्रियता – 8
  • लुलिकोनाज़ोल एर्गोस्टेरॉल के संश्लेषण के लिए जरूरी एंजाइम को रोकता है, जो फंगल कोशिका की झिल्ली के गठन में शामिल है।
  • खुराक – यह 1% क्रीम के रूप में मिलता है। टिनिआ क्रोरिस या टिनिया कॉर्पोरिस के मामले में 1 सप्ताह तक इसे रोजाना एक बार प्रभावित हिस्से पर एक पतली परत लगनी चाहिए और टिनिया पेडिस के लिए 2 सप्ताह के लिए लगायें|
  • मूल्य – इसकी 1% क्रीम की एक ट्यूब (15 ग्रा.) ₹ 230 की होती है।

12. लुलिफ़िन: एथलीट फुट, खुजली और अन्य जैसे त्वचा के इन्फेक्शन का इलाज करता है|

  • ब्रांड – लुलिफ़िन
  • रचना – लुलिकोनाज़ोल
  • लोकप्रियता – 8
  • लुलिकोनज़ोल फंगल सेल की दीवार के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व का उत्पादन बंद कर देता है जो फंगल के विकास को रोकता है और अंततः इसे मृत्यु की ओर ले जाता है।
  • खुराक – यह क्रीम के रूप में लगाने के लिए मिलता है| खुजली के मामले में इसे एक सप्ताह के लिए और एथलीट फुट के मामले में दो सप्ताह के लिए इसे लगायें|
  • मूल्य – 1% क्रीम की एक ट्यूब (20 ग्रा.) 299 रूपए की है।

13. मायकोस्पोर: एथलीट फुट की तरह रिंगवर्म के इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – मायकोस्पोर
  • रचना – बिफोंज़ोल
  • लोकप्रियता – 8
  • बिफोंज़ाज़ोल एर्गोस्टेरॉल के बनने को रोकता है, जो फंगल कोशिका की झिल्ली का एक जरूरी तत्व है। यह कोशिका झिल्ली में छेद का कारण बनता है जिसके कारण फंगल कोशिकाओं के जरूरी तत्वों का रिसाव होता है।
  • खुराक – इसे प्रभावित क्षेत्र पर क्रीम के रूप में रात के दौरान दिन में एक बार लिया जाता है।
  • मूल्य – मायकोस्पोर की 1% क्रीम की एक ट्यूब (10 ग्रा.) 75 रूपए की होती है।
  • संवेदनशील त्वचा पर विशेष रूप से योनि वाली जगह पर लगायें|

14. नफ़टिन: रिंगवर्म के इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – नफ़टिन
  • रचना – नफ़टिफाइन
  • लोकप्रियता – 8
  • नफ़टिफाइन एक एंटी-फंगल दवा है और स्टेरोल बायोसिंथेसिस को रोककर फंगल को मारता है।
  • खुराक – यह एक क्रीम के रूप में लगाया जाता है। दो सप्ताह के लिए इसकी दिन में एक बार प्रभावित क्षेत्र पर एक पतली परत लगायें|

15. निज़ोरल: फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – निज़ोरल
  • रचना – केटोकोनाज़ोल
  • लोकप्रियता – 8
  • यह केटोकोनाज़ोल दवाओं के वर्ग के अंतर्गत आता है जिसे एजोल एंटी-फंगल कहा जाता है और फंगल के विकास को भी रोकता है।
  • यह मुंह से ली जाने वाली गोली के रूप में मिलता है। इसे अपने चिकित्सक के बताये अनुसार लें।
  • मूल्य – निज़रल को 10 गोलियों (200 मि.ग्रा.) की एक स्ट्रिप 350 रूपए की है।

16. रिंगकटर: एथलीट फुट, खुजली जैसे फंगल के कारण होने वाले इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – रिंगकटर
  • रचना – माइक्रोनज़ोल
  • लोकप्रियता – 8
  • माइक्रोनाज़ोल फंगल के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व के बनने को रोकता है जिसके कारण कोशिका की झिल्ली के गठन की प्रक्रिया में रूकावट डालता है और इसके विकास को रोकता है।
  • खुराक – यह लगाने के लिए क्रीम के रूप में मिलता है। इसे प्रभावित क्षेत्र पर दिन में एक या दो बार लगाएं।
  • मूल्य – रिंगकटर की 2% क्रीम की एक ट्यूब 5 रूपए की है।

17. सेबिफ़िन: फंगल या यीस्ट के कारण होने वाले इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – सेबिफिन
  • रचना – टेरबिनाफाइन
  • लोकप्रियता – 8
  • टेरिबिनाफिन एक एंटी-फंगल एजेंट होने के कारण फंगल कोशिका की भित्ति के लिए जरूरी पदार्थ के बनने को रोकता है जिससे कोशिका की झिल्ली के निर्माण की प्रक्रिया में रूकावट डालता है जिससे जीव के विकास में रूकावट होती है।
  • खुराक – इसे मुंह के द्वारा लेने के लिए दिन में एक या दो बार टेबलेट के रूप में लिया जाता है। इसकी खुराक 12 सप्ताह के लिए 250 मि.ग्रा. है।
  • मूल्य – सेबिफिन की 15 गोलियों (250 मि.ग्रा.) की एक स्ट्रिप की कीमत 00 रूपए है।

18. स्टाइप्रॉक्स: सतही मायकोसेस और इन्फेक्शन का इलाज करता है जिससे वाई टिनिया वर्सीकोलर होता है

  • ब्रांड – स्टाइप्रॉक्स
  • रचना – साइक्लोपीरोक्स
  • लोकप्रियता – 7
  • साइक्लोपीरोक्स डीएनए की मरम्मत, कोशिका विभाजन के संकेतों और संरचनाओं के साथ-साथ इंट्रासेल्युलर परिवहन के कुछ तत्वों में रूकावट डालता है जो जीव को मृत्यु की ओर ले जाता है।
  • इसे डॉक्टर के बताये अनुसार तरल सस्पेंशन के रूप में लिया जाता है।
  • मूल्य – स्टाइप्रॉक्स की एक बोतल (15 मि.लि) की एक बोतल 60 रूपए की है।

19. टेबीना: फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – टेबीना
  • रचना – टेरबिनाफाइन
  • लोकप्रियता – 8
  • टेरबिनाफाइन एक एंटी-फंगल एजेंट है जो फंगल और यीस्ट के खिलाफ काम करता है, जिससे उन्हें मार दिया जाता है और उनके कारण होने वाले इन्फेक्शन को रोका जा सकता है।
  • खुराक – यह क्रीम के रूप में मिलता है। इसे प्रभावित क्षेत्र पर दिन में एक या दो बार लगाएं।
  • मूल्य – टेबीना की 1% क्रीम की एक ट्यूब (15 ग्रा.) 78 रूपए की है।

20. वाल्विन: फंगल इन्फेक्शन का इलाज करता है

  • ब्रांड – वाल्विन
  • रचना – ग्रिसोफुलविन
  • लोकप्रियता – 7
  • ग्रिसोफुलविन एक एंटी-फंगल दवा है जो फंगल की कोशिका के विभाजन को रोककर फंगल के विकास को रोकता है।
  • यह मुंह द्वारा गोली के रूप में मुंह से लिया जाता है। इसे अपने चिकित्सक के बताये अनुसार लें।
  • मूल्य – वाल्विन को 10 गोलियों (250 मि.ग्रा.) की एक स्ट्रिप32 रूपए की है।
  • गर्भवती और स्तनपान करने वाली महिलाओं में इसे लेने के बारे में मतभेद है|

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten + 4 =