Mox 500 In Hindi – मोक्स 500: उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स, मूल्य, संरचना और 20 सामान्य प्रश्न

0
5723

Mox 500 In Hindi - मोक्स 500: उपयोग, खुराक, साइड इफेक्ट्स, मूल्य, संरचना और 20 सामान्य प्रश्न

 

What is Mox 500 in Hindi – मोक्स 500 क्या है?

यह मुख्य रूप से त्वचा, साइनस, श्वसन और मूत्र पथ के इन्फेक्शन जैसे विभिन्न प्रकार के इन्फेक्शनस के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है| इसे तय की गयी खुराक से ज्यादा लेने पर गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल परेशानी, पीलिया और हेपेटाइटिस जैसे दुष्प्रभाव होते हैं। जिगर की बीमारी, पीलिया और वायरल इन्फेक्शन में मोक्स 500 का उपयोग कभी नहीं करना चाहिए।

मोक्स 500 की रचना – एमोक्सिसिलिन 500 मि.ग्रा.
निर्मित – सन फार्मास्यूटिकल्स इंडस्ट्रीज लिमिटेड
प्रिस्क्रिप्शन – जरूरी नहीं है क्योंकि यह अनुसूची ‘एच’ के अंतर्गत आता है|
रूप – गोलियाँ, कैप्सूल और इंजेक्शन
कीमत – 101.82 रूपए में 15 टैबलेट
एक्सपायरी – बनाए जाने की तारीख से 24 महीने तक
दवा का प्रकार – एंटीबायोटिक

Also read in English about Mox 500


Uses of Mox 500 in Hindi – मोक्स 500 के उपयोग

मोक्स 500 का उपयोग निम्न स्थितियों को रोकने या उनका इलाज करने के लिए किया जाता है जैसे:

  • रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन: बहती नाक, बलगम, छींकना, गले में खराश जैसे लक्षणों का इलाज करता है।
  • त्वचा का इन्फेक्शन: त्वचा पर लाल चकत्ते, लालिमा या मवाद भरे छाले के मौजूद लक्षणों का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • साइनस का इन्फेक्शन: ऊपरी जबड़े में दर्द या चेहरे का दर्द, नाक बंद जैसे लक्षणों का प्रबंधन करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • मूत्र पथ का इन्फेक्शन: मूत्राशय, कमर और श्रोणि में दर्द, योनि में जलन जैसे लक्षणों का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है|
  • डेंटल और ओरल इंफेक्शन: चेहरे या गाल में सूजन और दांतों का दर्द के रूप में प्रकट होने वाले लक्षणों का इलाज करता है।
  • नरम ऊतकों का इन्फेक्शन: प्रभावित क्षेत्र के एरिथेमा (लालिमा), शोफ (सूजन) के साथ पेश होने वाले लक्षणों का इलाज करता है

How does Mox 500 work in Hindi – मोक्स 500 कैसे काम करता है?

  • मोक्स 500 में एमोक्सिसिलिन मुख्य सक्रिय तत्व के रूप में होते हैं|
  • एमोक्सिसिलिन बैक्टीरिया सेल की दीवार के प्रोटीन के विकृतीकरण के माध्यम से और अंत में जीवाणु कोशिकाओं को मारने के माध्यम से जीवाणु कोशिका की दीवारों को तोड़ने का काम करता है।

How to take Mox 500 – मोक्स 500 कैसे लें?

  • मोक्स 500 आमतौर पर टैबलेट, कैप्सूल और इंजेक्शन रूप में मिलता है।
  • इस टैबलेट को पानी के साथ या तो भोजन के बाद या भोजन के साथ लिया जाता है क्योंकि भोजन से पेट का पीएच बढ़ता है जो दवा के बेहतर अवशोषण में सहायक होता है और गैस्ट्रिक म्यूकोसा से भी बचाता है।
  • सस्पेंशन के रूप में लेते समय इस दवा के मिश्रण की बोतल को अच्छी तरह से हिलाना चाहिए।
  • पूरी तरह से ठीक होने के लिए चिकित्सक द्वारा तय की गयी पूरी खुराक लेनी चाहिए।
  • दवा को बेहतर तरह से समझने के लिए दवा का सेवन करने से पहले पैक में मिलने वाले लीफलेट को पढना उचित है।
और पढो: केनाकोर्टइचगार्ड क्रीममोंटेक एल.सी.

Common Dosage for Mox 500 in Hindi – मोक्स 500 की सामान्य खुराक

  • चिकित्सक इस दवा की खुराक रोगी की आयु, वजन, मानसिक स्थिति, एलर्जी के इतिहास के अनुसार तय करता है।
  • इसकी सामान्य खुराक इन्फेक्शन की गंभीरता के आधार पर 3 दिन या 5 दिन के लिए दिन में दो बार एक टैबलेट है।
  • मोक्स 500 बच्चों को बाल रोग विशेषज्ञ द्वारा केवल इन्फेक्शन की गंभीरता के आधार पर देनी चाहिए।

यदि मोक्स 500 ज्यादा मात्रा में लें तो क्या होगा?

किसी भी दवा को ज्यादा मात्रा में लेने से मतली, उलटी जैसे दुष्प्रभाव होने की संभावना होती है। इसलिए इस  दवा की तय की गयी खुराक का सख्ती से पालन करना चाहिए और कोई भी लक्षण दिखाई देने के मामले में तुरंत डॉक्टर से सलाह लें|

यदि मोक्स 500 की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होगा?

यदि आप इसकी खुराक लेना भूल गये हैं तो जैसे ही आपको याद आये हमेशा अपनी छूटी हुई खुराक लें| लेकिन यदि पहले से ही दूसरी खुराक लेने का समय हो गया हो तो दुगुनी खुराक न लें क्योंकि इससे दवा की अधिकता के कारण दुष्प्रभाव हो सकते हैं|

यदि एक्सपायरी हो चुकी मोक्स 500 लें तो क्या होता है?

एक्सपायरी हो चुकी एक दवा किसी भी अवांछित प्रभाव का कारण नहीं होती। किसी भी बीमारी या लक्षण के लिए एक्सपायररी दवा का सेवन करने के बाद चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए। कोई भी एक्सपायरी हो चुकी दवा इलाज़ के लिए प्रभावी नहीं होती| इसलिए एक्सपायरी दवा लेने से हमेशा बचना चाहिए|

मोक्स 500 की शुरुआत का समय और प्रभाव क्या है?

ज्यादातर रोगियों को पहले कुछ दिनों में ही लक्षणों में आराम अनुभव होने लगता है। लेकिन उपचार को रोकने से पहले दवा की तय की गयी खुराक ली जानी चाहिए। इस दवा को अपना प्रभाव दिखाने का समय हर व्यक्ति में अलग होता है।


When to Avoid  Mox 500 – मोक्स 500 से कब बचें?

निम्न स्थितियों में मोक्स 500 का सेवन न करें:

  • एलर्जी: पेनिसिलिन या इसके किसी भी तत्व से एलर्जी के इतिहास के मामलों में
  • जिगर की शिथिलता: पीलिया या जिगर के रोग या किसी भी प्रकार की गंभीर जिगर की बीमारी के इतिहास के मामलों में।
  • वायरल इन्फेक्शन: सर्दी जैसे वायरस के कारण होने वाले इन्फेक्शन के मामलों में क्योंकि मोक्स 500 एक एंटीबायोटिक है और वायरल इन्फेक्शन के खिलाफ अप्रभावी है।
  • मोनोन्यूक्लिओसिस का इन्फेक्शन: मोनोन्यूक्लिओसिस इन्फेक्शन के मामलों में।
  • गुर्दे की कमजोरी: गुर्दे या जिगर की कमजोरी के मामलों में क्योंकि यह दवा मुख्य रूप से लीवर को मेटाबोलाइज करती है और इससे दवा में सीरम के स्तर में वृद्धि होती है|

Precautions while taking Mox 500 in Hindi – मोक्स 500 लेते समय सावधानी

  • सावधानी: जिगर और गुर्दे की बीमारियों के रोगियों को उचित सावधानी से और जब तक जरूरी न हो, तब तक दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • उपयुक्त उपयोग: बैक्टीरियल ओरिजिन के संदिग्ध मामलों में केवल मोक्स 500 का उपयोग किया जाना चाहिए।
  • खुराक में बदलाव: बिना डॉक्टर की सलाह के खुराक में बदलाव से बचना चाहिए।
  • खाली पेट: मोक्स 500 को खाली पेट नहीं लेना चाहिए।

मोक्स 500 लेते समय चेतावनी

  • डॉक्टर को हमेशा एमोक्सिसिलिन या पेनिसिलिन से एलर्जी के मामले में सूचित करना चाहिए।
  • जिगर और गुर्दे की हानि के मामलों में हमेशा डॉक्टर को सूचित करना चाहिए।
  • पेट खराब होने से बचने के लिए मोक्स 500 को हमेशा भोजन के साथ या बाद में लेना चाहिए।
  • बैक्टीरियल इन्फेक्शन के मामलों में मोक्स 500 का उपयोग किया जाना चाहिए।
  • अन्य फंगल इन्फेक्शन की संभावना को लंबे समय तक मोक्स 500 चिकित्सा पर रोगियों में सावधानी से खारिज किया जाना चाहिए।

Side-Effects of Mox 500 – मोक्स 500 के साइड-इफेक्ट्स

विभिन्न उपचारों के लिए उपयोग किए जाने वाले मोक्स 500 से जुड़े कुछ दुष्प्रभाव निम्न हैं:

  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल परेशानी (सामान्य)
  • माइकोसिस (कम सामान्य)
  • चकत्ते (सामान्य)
  • मतली (सामान्य)
  • उल्टी (सामान्य)
  • एनाफिलेक्सिस (कम सामान्य)
  • कोलेस्टेटिक पीलिया (कम सामान्य)
  • रक्त डिस्केरियास (कम सामान्य)
  • विषाक्त एपिडर्मल नेक्रोलिसिस (कम सामान्य)
  • आक्षेप (कम सामान्य)
  • एक्सफ़ोलीएटिव डर्मेटाइटिस (कम सामान्य)
  • स्टीवंस- जॉनसन सिंड्रोम (कम सामान्य)
  • एंजियोएडेमा (कम सामान्य)
  • हेपेटाइटिस (कम सामान्य)
  • दाँत मैले होना (कम सामान्य)

क्या मोक्स 500 से कोई एलर्जी प्रतिक्रियाएं हैं?

  • पेनिसिलिन एलर्जी या इसके किसी भी डेरिवेटिव के प्रति संवेदनशील रोगियों में एक गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया हो सकती है
  • स्टेफेन्स जॉनसन सिंड्रोम और विषाक्त एपिडर्मल नेक्रोलिसिस सहित एनाफिलेक्सिस और डर्माटोलोजिक प्रतिक्रियाओं जैसी गंभीर एलर्जी की प्रतिक्रियाएं रोगियों में बहुत कम ही देखी गई हैं।
  • खुजली, लालिमा और चकत्ते जैसी किसी भी एलर्जी के लक्षण के मामले में तुरंत चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।

अंगों पर प्रभाव?

मोक्स 500 जिगर और गुर्दे के कामों को प्रभावित करता है, इसलिए जिगर या गुर्दे की हानि के मामलों में अतिरिक्त सावधानी या खुराक में बदलाव की जरूरत होती है।

किसी भी एलर्जी प्रतिक्रिया या ओवरडोज के मामले में तुरंत चिकित्सा लेनी चाहिए।


Drug Interactions with Mox 500 to be Careful About in Hindi – ड्रग इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

मोक्स 500 का सेवन करने पर कुछ दवाइयों के सेवन से सावधान रहना चाहिए। ये कुछ खाद्य पदार्थों से लेकर अन्य दवाओं तक कुछ परीक्षणों में शामिल हो सकते हैं, जो मोक्स 500 के सेवन के बाद सही नहीं होते। हम निम्न में इन विवरणों का पता लगाते हैं।

1. मोक्स 500 के साथ खाद्य पदार्थ

चकोतरा (रस या कोई अंगूर उत्पादों) से बचना चाहिए|

2. मोक्स 500 के साथ दवाएं

सभी आपस में प्रभाव डालने वाली दवाओं को यहाँ सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता। इसलिए हमेशा यह सलाह दी जाती है कि रोगी को चिकित्सक को अपने द्वारा उपयोग की जाने वाली सभी दवाओं के बारे में बताना  चाहिए। उन हर्बल उत्पादों के बारे में भी अपने डॉक्टर को जानकारी देनी चाहिए जिनका आप सेवन कर रहे हैं।

निम्नलिखित दवाओं के साथ इस दवा की पारस्परिक क्रिया देखी गई है:

  • प्रोबेनेसिड (हल्का)
  • अल्लूपुरिनोल (मध्यम)
  • वारफारिन और अन्य खून पतला करने वाली दवाएं (एंटी-कोगुलेंट्स) (हल्का)
  • मोक्स 500 मेथोट्रेक्सेट के उत्सर्जन को कम करता है जिसके परिणामस्वरूप विषाक्तता भी होती है) माइकोफेनोलेट मोफेटिल (मध्यम)
  • मैग्नीशियम साइट्रेट (हल्का)
  • प्रोटॉन पंप इन्हिबिटर्स जैसे कि राबेप्राज़ोल, ओमेप्राज़ोल, पैंटोप्राज़ोल (हल्का)
  • टेट्रासाइक्लिन, डॉक्सीसाइक्लिन (हल्का) जैसे एंटीबायोटिक्स
  • ट्रामाडोल (हल्का)

3. लैब टेस्ट पर मोक्स 500 का प्रभाव

मोक्स 500 किसी भी लैब टेस्ट पर प्रभाव नहीं डालता।

4. पहले से मौजूद बीमारियों के साथ मोक्स 500 का इंटरैक्शन

कोई भी लिवर या किडनी के रोग या वायरल इन्फेक्शन|

क्या अल्कोहल के साथ मोक्स 500 ले सकते हैं?

मोक्स 500 उनींदापन जैसे प्रभाव के लिए जाना जाता है और जिगर को भी प्रभावित करता है इसलिए मोक्स 500 के साथ शराब का सेवन खराब कर सकता है।

क्या किसी भी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

चकोतरा (रस या कोई अंगूर उत्पादों) से बचना चाहिए।

क्या गर्भवती होने पर मोक्स 500 ले सकते हैं?

गर्भावस्था के दौरान इसे लेने से पहले डॉक्टर को सूचित किया जाना चाहिए क्योंकि गर्भावस्था के दौरान मोक्स 500 एस्ट्रोजन के स्तर को कम करता है और साथ ही मौखिक गर्भ निरोधकों को अप्रभावी करता है।

क्या बच्चे को स्तनपान कराते समय मोक्स 500 ले सकते हैं?

मानव दूध में इस दवा के संकेत पाए गए हैं। इसलिए एहतियात के तौर पर डॉक्टर को हमेशा सूचित करना  चाहिए।

क्या मोक्स 500 लेने के बाद गाड़ी चला सकते हैं?

मोक्स 500 से उनींदापन आदि हो सकता है। इसलिए इनमें से कोई भी लक्षण होने पर भारी मशीनरी चलाने या ड्राइव करने से बचना चाहिए


Buyer’s Guide, Mox 500 Composition, Variant and Price – मोक्स 500 संरचना, विविधता और मूल्य – खरीदने के लिए गाइड

मोक्स 500 वेरिएंट मोक्स 500 कंपोजिशन मोक्स 500 मूल्य
मोक्स 500 मि.ग्रा. इंजेक्शन एमोक्सिसिलिन सोडियम 500 मि.ग्रा./इंजेक्शन 52.00 रूपए का 1 पैक
मोक्स पी  500 मि.ग्रा. टेबलेट एमोक्सिसिलिन 500 मि.ग्रा. + लक्टोबेसिलस 60 मिलियन सेल्स 202 रूपए की 15 टेबलेट्स
इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: 1 एमजीमाइरा मेडिसिन

Substitutes of Mox 500 – मोक्स 500 के बदले में

मोक्स 500 के लिए निम्न वैकल्पिक दवाएं हैं:

अमोक्सीराइट 500 मि.ग्रा. कैप्सूल:  

  • ऍमएचएस फार्मासुटिकल्स द्वारा निर्मित
  • मूल्य: 4 रूपए

एएक्सएल 500 मि.ग्रा. टैबलेट:

  • इंडोको रेमेडीज द्वारा निर्मित
  • मूल्य- 67.87 रूपए

एल्मोक्स 500 मि.ग्रा. टैबलेट:

  • एल्केम लैबोरेट्रीज लि. द्वारा निर्मित।

नोवामोक्स 500 मि.ग्रा. कैप्सूल:

  • सिप्ला द्वारा निर्मित
  • मूल्य- 101.82 रूपए

भंडारण

  • इस दवा को पर कमरे के तापमान पर 30 डिग्री से नीचे ठंडी और नमी से मुक्त जगह में सीधी धूप और रौशनी से बचाकर रखना चाहिए|
  • दवा को ऐसे स्थान पर रखना चाहिए जहां यह बच्चों की पहुंच से बाहर हो।

FAQ’s in Hindi – मोक्स 500 के बारे में 10 महत्वपूर्ण प्रश्न

मोक्स 500 क्या है?

मोक्स 500 एक एंटीबायोटिक है जिसमें इसके सक्रिय तत्व के रूप में एमोक्सिसिलिन होता है। एमोक्सिसिलिन बैक्टीरियल सेल्स को मारकर एंटी-बैक्टीरियल गतिविधि देता है| मोक्स 500 का उपयोग केवल त्वचा, कान, साइनस, फेफड़े और वायुमार्ग के इन्फेक्शन को रोकने या उसके इलाज के लिए किया जाता है।

मोक्स 500 के क्या उपयोग हैं?

मोक्स 500 का उपयोग केवल त्वचा, कान, साइनस, फेफड़े और वायुमार्ग के इन्फेक्शन को रोकने या इलाज करने के लिए किया जाता है।

मोक्स 500 के दुष्प्रभाव क्या हैं?

मोक्स 500 के सबसे आम दुष्प्रभाव गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल परेशानी, माइकोसिस, चकत्ते, मतली, उल्टी हैं।

मोक्स 500 को परिणाम दिखाने के लिए कितना समय लगता है?

मोक्स 500 थेरेपी लेने के पहले कुछ दिनों के भीतर ही आप ठीक होना शुरू कर देते हैं|

क्या मोक्स 500 को खाली पेट लेना चाहिए?

पेट की किसी भी खराबी होने से बचने के लिए इसे खाली पेट नहीं लेना चाहिए।

क्या मोक्स 500 उनींदापन का कारण बनता है?

जी हां, मोक्स 500 कुछ मामलों में उनींदापन का कारण हो सकता है लेकिन यह हर व्यक्ति में अलग होता है।

मोक्स 500 टैबलेट लेने के बीच में समय का क्या अंतर होना चाहिए?

मोक्स 500 की दो खुराक के बीच कम से कम 4 से 6 घंटे के का अंतराल होना चाहिए|

क्या चिकित्सा का कोर्स पूरा करना चाहिए, भले ही लक्षण ठीक हो जाएँ?

डॉक्टर द्वारा बताए अनुसार ही मोक्स 500 का सेवन करना चाहिए और लक्षणों की गंभीरता के मामले में तत्काल चिकित्सा सहायता या सलाह लेनी चाहिए और डॉक्टर को यह तय करना चाहिए कि मोक्स 500 के चक्र को कब और कैसे रोकना है।

क्या मोक्स 500 मासिक धर्म को प्रभावित करता है?

नहीं, आम तौर पर यह मासिक धर्म चक्र पर प्रभाव नहीं डालता। इस दवा का सेवन करने से पहले मासिक धर्म की समस्याओं के मामले में डॉक्टर से सलाह लें|

क्या मोक्स 500 बच्चों के लिए सुरक्षित है?

बच्चों को मोक्स 500 उचित सलाह के बिना नहीं लेना चाहिए और इसे देने से पहले बाल रोग विशेषज्ञ से सलाह लेनी चाहिए।

क्या कोई लक्षण हैं जिन पर मोक्स 500 लेने से पहले विचार करना चाहिए?

मोक्स 500 को लेने से पहले किसी भी कोई भी जिगर के विकार, वायरल संक्रमण, एलर्जी प्रतिक्रिया पर ध्यान देना जाना चाहिए।

क्या मोक्स 500 भारत में कानूनी है?

हां, यह भारत में कानूनी है।

और पढो: टेलमा 40टेनेबाइटइब्यूवन

डिस्क्लेमर – ऊपर दी गई जानकारी हमारे शोध और ज्ञान के सर्वश्रेष्ठ है। हालांकि, आपको दवा का सेवन करने से पहले एक चिकित्सक से परामर्श करने की सलाह दी जाती है।

लेखक

Reviewed and Edited by Dr. Pradeep - Clinical Research Coordinator

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 − 3 =