म्यूकेन जेल (Mucain In Hindi): उपयोग,फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां, मूल्य

0
6489
mucain gel fayde nuksan in hindi

म्यूकेन जेल क्या है?

म्यूकेन जेल मुख्य रूप से अम्लता, सीने की जलन, पेट के अल्सर के इलाज में उपयोग की जाने वाली दवाओं के “एंटासिड” समूह से संबंधित है। यह ऑक्सीटाकाइन, एल्यूमीनियम हाइड्रोक्साइड, मैग्नीशियम हाइड्रॉक्साइड का एक निश्चित संयोजन है। 5 मि.ली. म्यूकेन जेल सिरप में शामिल हैं:

  • ऑक्सेटाकाइन या ऑक्सिथाज़ाइन – 10 मि.ग्रा.
  • एल्यूमिनियम हाइड्रोक्साइड – 291 मि.ग्रा.
  • मैग्नेशिया का दूध – 98 मि.ग्रा.
  • सोडियम बेंजोएट – 45%
  • बेंजोइक एसिड – 05%

यह दवा निम्न के रोकथाम, उपचार और नियंत्रण के लिए है:

  • सीने की जलन
  • एसिड रिफ्लेक्स
  • गुदा के फिशर के कारण दर्द
  • गुदा की सूजन
  • पेट में अल्सर
  • ड्रग से प्रेरित गैस्ट्रिक जलन
  • सूजन
  • खट्टी डकार
  • ग्रास-नली का शोथ

म्यूकेन जेल कैसे काम करता है?

  • ऑक्सिथैज़ाइन एक ऐसा शक्तिशाली एनेस्थेटिक है जो अम्लता के बावजूद गैस्ट्रिक श्लेष्मा को एनेस्थेट करने का काम करता है।
  • एल्यूमीनियम हाइड्रॉक्साइड और मैग्नीशियम हाइड्रोक्साइड दोनों ही एंटासिड्स हैं जो गैस्ट्रिक (अम्लीय) स्राव को क्रियाहीन करके गैस्ट्रिक सामग्री का पी.एच. बढ़ाते हैं लेकिन उनके एसिड के उत्पादन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता|
  • ऑक्सीथेजाइन और एंटासिड्स के साथ सूजन होने पर गैस्ट्र्रिटिस, सीने की जलन, पेप्टिक अल्सर आदि के लक्षण में राहत मिलती हैं|
इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: नेटमेड्समाइरा मेडिसिन

भारत में म्यूकेन जेल मूल्य

  • 76 रुपये में 200 मि.ली. ओरल जेल
  • 6 रुपये में 350 मि.ली. ओरल जेल

म्यूकेन जेल कैसे लें?

  • इसकी खुराक और लेने की अवधि डॉक्टर की सलाह द्वारा तय की जाती है। तय की गयी खुराक से ज्यादा इसे कभी ना लें।
  • म्यूकेन जेल सिरप को खाली पेट या भोजन के कुछ देर बाद ले सकते हैं|
  • इसकी खुराक नापने के लिए हमेशा मापने वाले चम्मच का उपयोग करें। हर बार उपयोग करने से पहले बोतल को अच्छी तरह हिला लें|
  • म्यूकेन जेल को पानी के साथ पतला किए बिना ना लें|
Read More: montair lc ke faydemobizox ke faydemeprate ke fayde

म्यूकेन जेल की समान्य खुराक?

  • वयस्कों के लिए खुराक 5 मि.ली. लक्षणों की गंभीरता के आधार पर दिन में दो से तीन बार लिया जाता है।
  • लक्षणों के नियंत्रण के बाद मौखिक खुराक से इसे कम किया जा सकता है।
  • लक्षणों में सुधार या बदतर होने के मामले में तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ|

म्यूकेन जेल से कब बचें?

म्यूकेन जेल से निम्न स्थितियों में बचना चाहिए या सावधानी से इसका उपयोग करना चाहिए:

  • यदि इसके किसी भी घटक से एलर्जी हो|
  • गंभीर जिगर और गुर्दे की बीमारी वाले मरीज
  • एप्पेनडीसीटिस वाले रोगी
  • हाइपोफॉस्फेटेमिया के रोगी
  • टेट्रासाइक्लिन एंटीबायोटिक ले रहे मरीज

म्यूकेन जेल के दुष्प्रभाव?

वैसे तो म्यूकेन जेल सिरप अच्छी तरह से अवशोषित हो जाता है, फिर भी इसके कुछ दुष्प्रभाव  इस प्रकार हैं:

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • पेट में दर्द
  • दस्त (मैग्नीशियम युक्त एंटासिड्स)
  • कब्ज (एंटीसिड युक्त एल्यूमीनियम)
  • चक्कर आना
  • तंद्रा
  • बेहोशी

इसके अलावा यह कोई एलर्जी या अवांछित प्रभाव भी पैदा कर सकता है। इस अवस्था में तुरंत  डॉक्टर के पास जाएँ|

अंगों पर प्रभाव?

गंभीर जिगर और गुर्दे की बीमारी वाले मरीजों को सावधानी से म्यूकेन जेल सिरप का प्रयोग  करना चाहिए। कुछ मामलों में खुराक के समायोजन की आवश्यकता हो सकती है।

एलर्जी प्रतिक्रियाएं

यदि म्यूकेन जेल के किसी भी तत्व से एलर्जी हैं तो अपने डॉक्टर को इस बारे में बताएं| एलर्जी प्रतिक्रिया के लक्षणों में निम्न शामिल हैं:

  • त्वचा के चकत्ते और खुजली
  • साँसों की कमी
  • चेहरे, होंठ, जीभ, या गले की सूजन
  • बेहोशी

 दवा इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

ड्रग इंटरेक्शन का मतलब दवाओं का एक दूसरे पर प्रभाव होने के बाद मानव शरीर पर इन दवाओं के प्रभाव को दर्शाता है। बहुत सी दवाइयों का बड़ी संख्या में कुछ अन्य दवाओं के साथ प्रभाव देखा गया है जिसकी वजह से उनके चिकित्सीय प्रभाव में कमी आती है और दुष्प्रभावों की संभावना बढ़ जाती है।

इसलिए हमेशा यह सलाह दी जाती है कि रोगी को चिकित्सक को उन सभी दवाओं और काउंटर उत्पादों और विटामिन की खुराक के बारे में सूचित करना चाहिए।

यहाँ सभी इंटरैक्शन करने वाली दवाओं को सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता| म्यूकेन जेल निम्न दवाओं और उत्पादों के साथ लेने पर प्रभाव डाल सकता है:

  • शराब
  • टेट्रासाइक्लिन
  • लीवोडोप
  • आइसोनियाजिड
  • डायजोक्सिन
  • इंडोमिथैसिन
  • नाइट्रोफ्यूरन्टाइन
  • फ़िनाइटोइन
  • बेंजोडाइजेपाइन
Read More: melacare cream ke faydenexpro rd 40 ke faydemintop ke fayde

प्रभाव और परिणाम

म्यूकेन सिरप को मुंह द्वारा लेने के 1 घंटे के भीतर ही इसका प्रभाव देखा जा सकता है।

सामान्य प्रश्न

क्या म्यूकेन जेल नशे की लत है?

ऐसी किसिस भी प्रवृत्ति की सूचना नहीं मिली है।

क्या शराब के साथ म्यूकेन जेल ले सकते हैं?

म्यूकेन जेल सिरप को अल्कोहल के संग लेने से बचना चाहिए क्योंकि इससे सूजन, सड़न जैसे प्रतिकूल प्रभावों का खतरा बढ़ सकता है।

क्या किसी भी विशेष खाद्य पदार्थ लेने से बचना चाहिए?

किसी भी खाद्य पदार्थ के साथ इसे लेने पर कोई प्रभाव नही देखा गया है|

क्या गर्भवती होने पर म्यूकेन जेल प्रयोग कर सकते हैं?

गर्भावस्था में इसे लेना सुरक्षित नहीं है। इसलिए जेल का प्रयोग केवल तभी किया जाना चाहिए जबकि इसके लाभ जोखिम से ज्यादा हों| गर्भवती होने पर इसे लेने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर को सूचित करें।

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान म्यूकेन जेल ले सकते हैं?

यदि आप बच्चे को स्तनपान कर रही हैं तो हमेशा अपने डॉक्टर को सूचित करके उसकी सलाह  लें।

क्या म्यूकेन जेल लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

म्यूकेन जेल ड्राइव करने की क्षमता को प्रभावित नहीं करता|

लेकिन म्यूकेन जेल की वजह से कुछ रोगियों को साइड इफेक्ट्स जैसे उनींदापन और चक्कर आना आदि हो सकते हैं| ऐसे लोगों को भारी मशीनरी चलाने या वाहन चलाने के दौरान सावधानी बरतनी चाहिए।

यदि म्यूकेन जेल अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?

इसे तय की गयी खुराक से ज्यादा नहीं लेना चाहिए क्योंकि इससे हानिकारक प्रभाव हो सकते हैं| यदि इसकी खुराक अधिक मात्रा में ले ली जाए तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ|

अगर एक्सपायरी हो चुकी म्यूकेन जेल लें तो क्या होगा?

यदि एक्सपायरी हो चुकी दवा ले ली जाए तो यह किसी भी बड़े प्रतिकूल प्रभाव का कारण नहीं बन सकती लेकिन दवा की शक्ति कम हो सकती है। इसलिए सुरक्षित रहने के लिए  हमेशा एक एक्सपायरी दवा की जांच करें और इसका उपयोग कभी भी न करें।

अगर मुझे म्यूकेन जेल की खुराक याद आती है तो क्या होगा?

जैसे ही आपको भूली हुई खुराक लेनी याद आये तुरंत इसका उपयोग करें। लेकिन यदि दूसरी खुराक का समय हो गया हो तो दुगुनी खुराक न लें|

म्यूकेन जेल का भंडारण

इसे सीधी धूप और गर्मी से बचाकर कमरे के तापमान पर रखें|

इसे बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें।

म्यूकेन जेल लेते समय टिप्स

म्यूकेन जेल को लंबे समय तक लेने से हाइपोफॉस्फेटेमिया हो सकता है। फॉस्फेट के स्तर की जांच के लिए सीरम फॉस्फेट जैसे लैब परीक्षण करवाए जाने चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × four =