मूंगफली के फायदे, उपयोग और नुक्सान (Peanuts Benefits Side Effects in Hindi)

mungfali peanuts ke fayde nuksan benefits side effects in hindi

mungfali peanuts ke fayde nuksan benefits side effects in hindi

मूंगफली पौधों पर आधारित प्रोटीन का एक उत्कृष्ट स्त्रोत हैं। वे भिन्न प्रकार के विटामिनो, खनिजों और पौधों के यौगिकों से भरपूर होती है| मूंगफली को वजन घटाने के लिए आहार में शामिल करना उपयोगी हो सकता है| यह हृदय रोग और गा्ल ब्लैडर की पथरी दोनों के खतरे  को कम कर सकती है। यहाँ हम मूगफली के उन फायदों की एक सूची बता रहे हैं जिनके बारे में आपको भी नही पता|

मूंगफली के बारे में अधिक जानकारी

मूंगफली (अरचिस हाइपोगिया) एक महत्वपूर्ण छीमी फसल है जोकि दुनिया के उष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में उगाई जाती है। मूंगफली मेवा नहीं हैं लेकिन वास्तव में ये ऐसी फलियां हैं जो जमीन के नीचे पैदा होती हैं|(अखरोट और बादाम के विपरीत जो पेड़ों पर उगते हैं)

मूंगफली के गुण

मूंगफली में विटामिन, खनिज, पोषक तत्व और एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं जोकि ऊर्जा का एक उच्च  स्रोत होते हैं। मूंगफली के कुछ प्रमुख गुण इस प्रकार हैं:

  • एंटी-ऑक्सीडेंट
  • विटामिन बी-6
  • जिंक
  • आयरन
  • एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण
  • रेसवेराट्रोल
Also Read About: meve|badam|kesar

मूंगफली के फायदे

कोलेस्ट्रॉल कम करे

मूंगफली में मोनो-अनसैचुरेटड फैटी एसिड होते हैं, विशेष रूप से ओलेइक एसिड होता है जो कोरोनरी बीमारियों को रोकता है (धमनियों जो दिल को खून भेजती हैं में खराब रक्त प्रवाह को सही करता है)। यह खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करके शरीर में अच्छा कोलेस्ट्रॉल बढ़ाता है।

पेट के कैंसर से लड़ाई

मूंगफली में पॉली-फेनोलिक (एंटी-ऑक्सीडेंट्स) उच्च मात्रा में मौजूद होते हैं। इसमें कैंसरजन्य नाइट्रस-अमाइन के उत्पादन को कम करके पेट के कैंसर के खतरे को कम करने की भी क्षमता है।

ब्लड शुगर को नियंत्रित करे

मूंगफली में मैंगनीज कैल्शियम अवशोषण, वसा और कार्बोहाइड्रेट चयापचय और रक्त में चीनी स्तर के विनियमन में मदद करता है।

वजन नियंत्रित करे

ये स्वस्थ मोनोसैचुरेटेड  फैट और पोषक तत्वों से भरपूर होने की वजह से वजन घटाने के लिए एक पसंदीदा भोजन है। यदि हर सुबह आप ब्रेड की स्लाइस के साथ मूंगफली का मक्खन खाते हैं, तो वजन बढने की संभावना कम होती है।

अवसाद से लड़े

मस्तिष्क में नर्व सेल्स जब सेरोटोनिन का अपर्याप्त स्राव पैदा करते हैं जिससे अवसाद पैदा होता है| मूंगफली में मौजूद एमीनो एसिड जिसे ट्रायप्टोफान कहा जाता है, सेरोटोनिन के रिसाव में सहायता करता है, ये आपको अवसाद से लड़ने में मदद करते हैं।

त्वचा साफ़ करे

विषाक्त पदार्थ त्वचा पर मुहांसों के फूटने और अतिरिक्त तेल का कारण होते हैं। मूंगफली में पाए जाने वाले फाइबर की उच्च मात्रा विषैले पदार्थों को दूर करके त्वचा को साफ़ और दोष रहित बनाती है।

बुढापा विरोधी

मूंगफली में मौजूद विटामिन सी और विटामिन ई उम्र बढ़ने के लक्षणों जैसे झुर्रियां, दाग-धब्बे और हलकी लकीरों आदि को रोक देता है। इनमे पाया जाने वाला रेसवर्टरोल एक शक्तिशाली बुढ़ापा विरोधी फाइटोकेमिकल है जो अंगूर और लाल शराब में होता है।

बायोटिन का स्रोत

बायोटिन असल में एक बी-विटामिन है जो बालों के विकास और जड़ों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। इसे हमारा शरीर आंतों द्वारा स्वयं बनाता है और यह कई खाद्य पदार्थों में भी पाया जाता है। बायोटिन की कमी से बाल झड़ने की समस्या होती है। मूंगफली बी विटामिन और फोलेट का अच्छा स्रोत हैं जो स्वस्थ बालों के लिए अपना योगदान देती है|

बालों को झड़ने से बचाए

मूंगफली में पाया जाने वाला विटामिन सी कोलेजन के उत्पादन में सहायता करता है जो हमारे बालों के ऊतकों को जोड़े रखता है। उनमें आई-आर्जिनिन होता है जिसका प्रयोग पुरुषों के तरीके के गंजेपन के उपचार में होता है जबकि इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड हमारे बालों के रोम-छिद्रों को मजबूत करते हैं और बालों के विकास को बढ़ावा देते हैं।

याददाश्त सुधारे

मूंगफली को “मस्तिष्क के भोजन” का नाम भी दिया गया है क्योंकि इसमें विटामिन बी 3 या नियासिन होता है जो दिमाग के काम को सुधारकर याददाश्त बढ़ाता है। उनमें रेसवर्टरोल नाम का एक फ्लैवोनॉयड भी होता है जो दिमाग में खून के दौरे  में 30% तक सुधार लाने में मदद करता है।

Also Read About: anjeer|khubani|kaju

मूंगफली खाने के 5 अलग-अलग तरीके: –

  1. सीधे खोल से निकालकर
  2. मूंगफली का मक्खन इस तरह बनाकर:
  • 1 कप मूंगफली
  • 1 बड़ा चम्मच शहद
  • 1 बड़ा चम्मच तेल
  • नमक वाले पानी का छींटा

इन  सभी को एक उच्च शक्ति वाले ब्लेंडर में मिलाएं।

  1. ट्रेल मिक्स खाना (मूंगफली, किशमिश, चैरी और चॉकलेट चिप्स युक्त)
  2. ग्रेनोला बार में मिलाकर
  3. सौन्देश या दलिया में मिलाकर

अधिक मूंगफली खाने के नुक्सान

ज्यादा मूंगफली खाने से खनिजों के चूषण में दखल होता है और यदि आप नमकीन मूंगफली खाते हैं तो आप साथ में बहुत सारा सोडियम भी खायेंगे| यदि मूंगफली को तय की गयी मात्रा में लिया जाए तो यह इससे प्राप्त होने वाले स्वास्थ्य लाभ पूर्ववत ही रहते हैं|

अधिक मूंगफली खाने के नुक्सान इस प्रकार हैं:

  • वजन बढ़ना
  • पोषक तत्वों की कमी होना
  • खनिजों के अवशोषण सम्बन्धी समस्या
  • उच्च रक्त चाप

खाने से पहले मूंगफली क्यों उबालें?

उबली हुई मूंगफली बहुत ही वाली स्वाद और काफी हद तक नशे की लत जैसे होती है। ये बहुत ही स्वास्थ्यवर्धक हैं क्योंकि ये बीमारी से लड़ने वाले यौगिकों को लगभग चार गुना बढ़ा देती  हैं। इनमे थोड़ी मात्रा में सैचुरेटेड फैट होता है जो इन्हें एक आदर्श भोजन बनाता है।

मूंगफली कैसे उबालें?

  • मूंगफली को अच्छी तरह धोकर 1 घंटे तक पानी में भिगो दें|
  • 200 मिलीलीटर पानी में 1 चम्मच नमक मिलाएं|
  • इसमें 1 मुठ्ठी मूंगफली डालकर इसे 1 घंटे तक उबालें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 2 =