Mustard Oil for Weight Loss in Hindi जन घटाने के लिए सरसों का तेल: लाभ, उपयोग करने के तरीके और एक्सपर्ट टिप्स  

0
266
Mustard Oil for Weight Loss in Hindi जन घटाने के लिए सरसों का तेल: लाभ, उपयोग करने के तरीके और एक्सपर्ट टिप्स  

सरसों का तेल हर भारतीय घर में मुख्य सामग्री में से एक है। सरसों के बीज बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन जैसे नियासिन और राइबोफ्लेविन से भरे होते हैं। रिफाइंड तेलों के लिए सरसों का तेल स्वास्थ्यवर्धक विकल्प के रूप में काम करता है। लेकिन सरसों का तेल कैसे वजन कम करता है? सरसों के बीज में नियासिन और राइबोफ्लेविन मेटाबोलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है और अतिरिक्त वजन को कम करने में मदद करता है।

Also read: Shilajit For Weight Loss in Hindi

Mustard Oil for Weight Loss Benefits in Hindi – इसके अलावा सरसों के तेल के कई अन्य लाभ हैं:

  1. पाचन में सहायक

सरसों का तेल भोजन को आसानी से पचाने में मदद करता है और बढ़े हुए मेटाबोलिज्म दर बढाता है।

  1. दर्द से राहत दिलाये

सरसों का तेल अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के लिए जाना जाता है। यह गठिया के दर्द से आराम दिलाने में मदद करता है। यह जोड़ों के दर्द के लिए भी अच्छा काम करता है। जर्मनी के इंस्टीट्यूट ऑफ फिजियोलॉजी एंड पैथोफिजियोलॉजी, फ्रेडरिक-अलेक्जेंडर-यूनिवर्सिटेट एर्लांगेन-नूर्नबर्ग द्वारा किए गए एक अध्ययन में यह पाया गया कि सरसों का तेल चूहों में दर्द को दूर करने में मदद करता है।

  1. सर्दी-खांसी की दवा के रूप में काम करे

सरसों का तेल आम सर्दी और फ्लू से आराम दिलाता है। यह सबसे व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले घरेलू उपचारों में से एक है। इस तेल को व्यक्ति के हाथों और तलवों पर रगड़ा जाता है। इसे छाती पर  लगाने से सर्दी कम हो जाती है।

  1. हृदय संबंधी लाभ

सरसों के तेल में प्रचुर मात्रा में मोनो-अनसैचुरेटेड और पॉली-अनसेचुरेटेड फैट और स्वस्थ फैटी एसिड होते हैं जो शरीर को महत्वपूर्ण पोषक तत्व प्रदान करते हैं। यह अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने और अच्छे हृदय के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। एम्स और सर गंगा राम अस्पताल द्वारा किए गए एक अध्ययन में यह पाया गया कि सरसों का तेल हृदय रोगों के खतरे को 70% तक कम करता है।

  1. कैंसर से बचाए

सरसों के तेल में ग्लूकोसाइनोलेट नामक एक कंपाउंड होता है जो अपने एंटी-कार्सिनोजेनिक गुणों के लिए जाना जाता है। यह कंपाउंड कोलोरेक्टल और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर को रोकने में मदद करता है।

  1. अस्थमा के रोगियों को आराम दे

अस्थमा के दौरे के मामले में सरसों के तेल से छाती पर मालिश करने से हवा के बहाव को बेहतर बनाने की क्षमता होती है। सरसों के तेल का नियमित रूप से सेवन भी प्रतिरक्षा को बढ़ाता है।

  1. त्वचा को स्वस्थ रखे

सर्दियों में सरसों का तेल त्वचा को गर्म रखने में मदद करता है और इसे सूखने से बचाता है। यह एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुणों के कारण इन्फेक्शन होने से रोकने में मदद करता है। यह त्वचा में एक प्राकृतिक चमक लाता है।

Read more: Is Turmeric Acidic के फायदे

How to Use Mustard Oil for Weight Loss in Hindi – उपयोग करने के तरीके

  • सरसों के तेल से सीधे मालिश करें या इसे हल्के तेल मिलाकर पतला करें। इसका उपयोग मच्छर भगाने के लिए या दर्द से आराम पाने के लिए किया जा सकता है।
  • बालों पर सरसों के तेल की मालिश करें। यह बालों में चमक लाने और घना करने में मदद करता है।
  • सरसों के तेल का उपयोग हल्दी, बेसन और क्रीम के साथ फेस पैक बनाने के लिए किया जाता है। यह सूखी और जकड़ी हुई त्वचा को ठीक करने में भी मदद करता है।
  • डैंड्रफ से बचने के लिए सरसों का तेल अपने बालों की जड़ों पर पिसी हुई मेथी के साथ लगायें|
Read more: Tulsi In Pregnancy Uses in Hindi

Mustard Oil for Weight Loss Pro tips in Hindi – एक्सपर्ट टिप्स

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के विशेषज्ञों ने प्रिवेंटिव कार्डियोलॉजी जर्नल में प्रकाशित अपने अध्ययन में बताया कि सरसों हृदय रोगों को 70% तक रोकती है। डॉ. सीबी सिंह, एक होम्योपैथिक सलाहकार, सरसों के तेल को रीफाइंड तेलों की तुलना में बेहतर मानते हैं।

Read more: Fenugreek For Hair Growth के नुकसान | Is Garlic Acidic ke Nuksan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 − two =