Nurokind LC In Hindi न्यूरोकाइंड एल.सी: उपयोग,फायदे, खुराक, मूल्य, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां

nurokind lc fayde nuksan in hindi

nurokind lc fayde nuksan in hindi

Nurokind LC in Hindi – न्यूरोकाइंड एल.सी क्या है?

न्यूरोकाइंड एल.सी एक पौष्टिक पूरक है जिसमें निम्न चीज़ें पाई जाती हैं:

  • मेथिलकोबालामाइन (1500 एम.सी.जी)
  • लेवो-कार्निटाइन (500 मि.ग्रा.)
  • फोलिक एसिड (1.5 मि.ग्रा.)

न्यूरोकाइंड एल.सी टैबलेट के रूप में मिलती है और इसे पौष्टिक कमियों को पूरा करने के लिए उपयोग किया जाता है।

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: नेटमेड्समाइरा मेडिसिन

Nurokind LC Uses in Hindi – न्यूरोकाइंड एल.सी का उपयोग

न्यूरोकाइंड एल.सी  का उपयोग निम्न बीमारियों की रोकथाम और उनके नियंत्रण और उपचार के लिए किया जाता है:

  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया (फोलिक एसिड और विटामिन बी 12 की कमी)
  • रक्त की कमी
  • पेरिफेरल न्यूरोपैथी (विशेष रूप से हाथों और पैरों के तंत्रिका क्षति के कारण सूजन और दर्द)
  • गर्भावस्था के दौरान विशेष रूप से फोलेट की कमी
  • मधुमेही न्यूरोपैथी
  • अल्कोहल न्यूरोपैथी
  • कार्निटाइन की कमी वाले मरीज
  • भोजन के खराब अवशोषण वाले मरीज़
  • न्यूरोकाइंड एल.सी का इस्तेमाल उपर बताये गये उद्देश्यों के इलावा भी किया जा सकता है।
Read More: ofloxacin ke faydeo2 ke faydeokacet ke fayde

How Nurokind LC Works in Hindi – न्यूरोकाइंड एल.सी कैसे काम करता है?

  • न्यूरोकाइंड एल.सी का प्रमुख घटक मेथिलकोबोलिन लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन और परिपक्वता के लिए जरूरी है।
  • यह प्रोटीन के सामान्य संश्लेषण में मदद करता है और तंत्रिका कोशिकाओं की अखंडता की रक्षा करता है और उनके सामान्य विकास को भी प्रोत्साहित करता है।
  • इस प्रकार विटामिन बी 12 की कमी से एनीमिया (दोषपूर्ण आरबीसी उत्पादन और परिपक्वता की कमी के कारण) और तंत्रिका-तंत्र को क्षति हो सकती है।
  • फोलिक एसिड कुछ महत्वपूर्ण घटकों के उत्पादन के लिए जरूरी होता है जो शरीर के सामान्य कार्यों के लिए जरूरी हैं। फोलिक एसिड की कमी से माताओं के लिए पैदा हुए बच्चों में सामान्य व्यक्ति और तंत्रिका ट्यूब दोष (जन्म दोष) में मेगाब्लोबैस्टिक एनीमिया हो सकता है।
  • एल-कार्निटाइन शरीर की लगभग सभी कोशिकाओं में मौजूद है और ऊर्जा उत्पादन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

Nurokind LC Price in India in Hindi – भारत में न्यूरोकाइंड एल.सी का मूल्य

176 रुपये में 15 गोलियों की स्ट्रिप

How to Take Nurokind LC in Hindi – न्यूरोकाइंड एल.सी कैसे लें?

  • न्यूरोकाइंड एल.सी के उपयोग की खुराक और लेने का तरीका डॉक्टर बताये अनुसार ही होना चाहिए।
  • जब इसे टैबलेट के रूप में लिया जाता है तो न्यूरोकाइंड एल.सी अच्छी प्रकार से अवशोषित होता है| इसे भोजन के साथ या बिना ले सकते हैं| लेकिन गैस्ट्रिक समस्याओं वाले मरीजों को  भोजन के बाद ही इसे लेना चाहिए|
  • अच्छे परिणाम पाने के लिए हमेशा इसे एक निश्चित समय पर और समान समय के अंतराल पर ही लिया जाना चाहिए|
  • टैबलेट को चबाये या तोड़े बिना बहुत सारे तरल पदार्थ के साथ पूरी तरह से निगल लेना चाहिए।
  • डॉक्टर की सलाह के बिना और कोर्स पूरा किये बिना बंद नहीं करना चाहिए।

Nurokind LC Common Dosage in Hindi – न्यूरोकाइंड एल.सी की सामान्य खुराक

  • इसकी खुराक बीमारी की गंभीरता और उपचार के लिए उसकी शुरूआती प्रतिक्रिया के आधार पर आपका डॉक्टर तय करता है|
  • वयस्कों के लिए इसकी सामान्य खुराक दिन में एक बार सोने से पहले रात में ली जाती है।
  • न्यूरोकाइंड एल.सी को एक महीने से अधिक समय तक नहीं लिया जाना चाहिए|

Nurokind LC Precautions in Hindi – न्यूरोकाइंड एल.सी कब बचें

न्यूरोकाइंड एल.सी को सावधानी से उपयोग करना चाहिए:

  • इसके घटकों से एलर्जी वाले मरीज
  • गुर्दे की बीमारियों वाले मरीज़
Read More: omeprazole ke faydeomez d ke fayde

Nurokind LC Side-Effects in Hindi – न्यूरोकाइंड एल.सी के दुष्प्रभाव

अधिकांश रोगियों में न्यूरोकाइंड एल.सी लेने से कोई दुष्प्रभाव नहीं दिखाई देते लेकिन कुछ रोगियों में निम्न साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • दस्त
  • मांसपेशियों की कमज़ोरी
  • भूख में कमी
  • गैस्ट्रिक समस्याओं या पेट फूलना
  • सरदर्द

इसके अलावा कुछ अन्य अवांछित प्रभाव पैदा कर सकते हैं| ऐसी अवस्था में तुरंत चिकित्सा की और ध्यान दें|

Nurokind LC Effects on Organs in Hindi – अंगों पर प्रभाव

इसका किसी भी अंग पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं होता|

Nurokind LC Allergic Reactions in Hindi – एलर्जी प्रतिक्रियाएं

यदि इअकी किसी भी सामग्री से एलर्जी हो तो अपने डॉक्टर से सलाह करें। इससे होने वाली एलर्जी प्रतिक्रियाओं में निम्न हो सकते हैं:

  • त्वचा पर चकत्ते या खुजली
  • साँसों की कमी
  • चेहरे, होंठ, जीभ या गले की सूजन
  • रक्तचाप में कमी
  • बेहोशी

Nurokind LC Drug Interactions in Hindi – दवा इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

रोगी को अपने चिकित्सक को अपने द्वारा प्रयोग की जाने वाली सभी दवाओं या काउंटर उत्पादों या विटामिन की खुराक के बारे में सूचित करना चाहिए।

इंटरैक्शन करने वाली सभी दवाओं को यहां सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता| न्यूरोकाइंड एल.सी के साथ प्रभाव डालने वाली दवाएं निम्न है:

  • शराब
  • फ़िनाइटोइन
  • बार्बीटूरेट्स
  • क्लोरामफेनिकॉल
  • ओमेपराजोल
  • नाइट्रोफ्यूरन्टाइन

न्यूरोकाइंड एल.सी के साथ इन दवाइयों के चिकित्सीय प्रभाव और साइड इफेक्ट्स की संभावनाओं को बढ़ा सकता है।

Also Read: Dolo 650 in Hindi

Nurokind LC Effects/Results in Hindi – प्रभाव और परिणाम

मुंह द्वारा इसे लेने के 3 घंटे बाद न्यूरोकाइंड एल.सी का प्रभाव देखा जा सकता है।

यदि एक महीने में भी कोई सुधार न देखा जाए तो न्यूरोकाइंड एल.सी को बिना उद्देश्य के नहीं लिया जाना चाहिए।

सामान्य प्रश्न

क्या न्यूरोकाइंड एल.सी नशे की लत है?

नहीं। लेकिन इन दवाइयों पर निर्भरता से बचना चाहिए।

क्या शराब के साथ न्यूरोकाइंड एल.सी ले सकते हैं?

न्यूरोकाइंड एल.सी लेने पर यह डिस्फिराइम प्रतिक्रियाएं (दिल की धड़कन, फ्लशिंग, कम रक्तचाप, सीने में दर्द) आदि का कारण बन सकती है। इसलिए इसके साथ शराब नही लेनी चाहिए|

क्या किसी विशेष खाद्य पदार्थ को लेने से बचना चाहिए?

किसी भी खाद्य पदार्थ के साथ इसका कोई प्रभाव नहीं देखा गया|

क्या गर्भवती होने पर न्यूरोकाइंड एल.सी ले सकते हैं?

यदि आप गर्भवती हैं या निकट भविष्य में गर्भवती होने की योजना बना रही हैं तो अपने डॉक्टर को सूचित करें।

न्यूरोकाइंड एल.सी को केवल गर्भवती महिलाओं में ही तभी लेना चाहिए जब स्पष्ट रूप से जरूरी हो|

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान न्यूरोकाइंड एल.सी ले सकते हैं?

न्यूरोकाइंड एल.सी स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है। फिर भी यदि आप अपने बच्चे को स्तनपान कर रही हैं तो डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही दवा लें|

क्या न्यूरोकाइंड एल.सी लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

न्यूरोकाइंड एल.सी ड्राइव करने की क्षमता को प्रभावित नहीं करता| लेकिन यदि किसी को सिरदर्द या चक्कर आना जैसे साइड इफेक्ट्स अनुभव हों तो इस दवा को लेकर वाहन चलाने और भारी मशीनरी चलाने से परहेज करें|

यदि न्यूरोकाइंड एल.सी अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?

इसे तय की गयी खुराक से ज्यादा नहीं लेना चाहिए। अधिक दवा लेने से या बार बार लेने से लक्षणों में सुधार नहीं होगा|

यदि एक्सपायरी हो चुकी न्यूरोकाइंड एल.सी लें तो क्या होगा?

एक्सपायरी हो चुकी दवा की एक खुराक लेने से कोई बड़ा प्रतिकूल प्रभाव नहीं होता बल्कि दवा की शक्ति कम हो जाती है। सुरक्षित रहने के लिए एक्सपायरी दवा का उपयोग करने से बचें|

यदि न्यूरोकाइंड एल.सी की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होता है?

यदि इसकी खुराक लेनी याद ना रहे तो यह दवा अच्छी तरह से काम नहीं करेगी क्योंकि दवा को प्रभावी रूप से काम करने के लिए शरीर में हर समय दवा की एक निश्चित मात्रा मौजूद रहनी चाहिए। इसलिए जैसे ही आपको याद आये तुरंत भूली हुई खुराक का उपयोग करें। लेकिन यदि उसके बाद दूसरी खुराक लेने का समय हो गया हो तो दुगुनी दवा ना लें|

भंडारण

  • इसे कमरे के तापमान पर सीधी धूप और गर्मी से दूर रखना चाहिए| क्योंकि यह फोटोलिसिस के प्रति संवेदनशील है।
  • इस दवा को फ्रिज में न रखें|
  • इसे बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें।

न्यूरोकाइंड एल.सी लेते समय टिप्स

कुछ रोगियों को खाली पेट इसे लेने पर गैस्ट्रिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे मरीजों को  इसे भोजन के बाद ही लिया जाना चाहिए।

यदि लक्षणों में कोई सुधार ना दिखाई दे तो इसे एक महीने से ज्यादा नहीं लेना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + two =