Osteoporosis In Hindi ऑस्टियोपोरोसिस: लक्षण, कारण, डायगनोसिस और उपचार

0
304
Osteoporosis In Hindi ऑस्टियोपोरोसिस: लक्षण, कारण, डायगनोसिस और उपचार

Table of Contents

What is Osteoporosis In Hindi- ऑस्टियोपोरोसिस क्या है?

ऑस्टियोपोरोसिस एक विकार है जो हड्डियों में छेद होने का कारण बन सकता है। इसके मरीज की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। हड्डियां नाज़ुक हो जाती हैं| यह वास्तव में महिलाओं के बीच बहुत आम है। केवल भारत में ऑस्टियोपोरोसिस के 10 मिलियन से ज्यादा मामले हैं। ऑस्टियोपोरोसिस का कोई निश्चित इलाज नहीं है। लेकिन ऑस्टियोपोरोसिस के लिए कई उपचार हैं। यह विटामिन-डी की कमी और कैल्शियम की कमी का कारण हो सकता है।

हड्डी एक जीवित टिश्यू होता है और ऑस्टियोपोरोसिस इनमे छेद बना सकता है। ऑस्टियोपोरोसिस आमतौर पर बूढ़ी महिलाओं में होता है। जिससे हड्डियों के टूटने का खतरा बढ़ जाता है। हड्डियाँ अपना आकार, बनावट और डेंसिटी खो देती हैं।

How does it affect the body In Hindi – यह शरीर को कैसे प्रभावित करता है?

ऑस्टियोपोरोसिस शरीर को कई तरह से प्रभावित करता है। जैसे:

  • रोगी का कंकाल कमजोर हो जाता है। बैठने की स्थिति खराब हो जाती है। जोड़ों में दर्द और सूजन होती है। फ्रैक्चर का खतरा बढ़ जाता है
  • उम्र के साथ ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा बढ़ जाता है। यह वास्तव में एक साइलेंट रोग है जो चुपचाप ही रोगी में हो जाता है।
  • यह असुविधा, कमजोरी और थकान की भावना का कारण बनता है। इससे प्रोडक्टिविटी का भी नुकसान हो सकता है।

What are the causes of osteoporosis In Hindi – ऑस्टियोपोरोसिस के कारण क्या हैं?

आमतौर पर मेनोपाज के बाद महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस देखा जाता है। एस्ट्रोजन के लेवल में कमी को ऑस्टियोपोरोसिस से जोड़ा गया है। इससे फ्रैक्चर का खतरा बढ़ जाता है। यह मुख्य रूप से महिलाओं के शरीर में विटामिन-डी की कमी के कारण होता है। यह कैल्शियम और मैग्नीशियम की कमी के कारण भी हो सकता है।

What are the risk factors In Hindi – इससे होने वाले खतरे के कारक क्या हैं?

ऑस्टियोपोरोसिस के खतरे के कारक उम्र के साथ बढ़ते हैं। यह मध्य से तीसवें दशक के बाद शुरू होता है। इसके कारक शरीर में सेक्स हार्मोन में कमी वाली महिलाओं में देखे जा सकते हैं| अन्य नस्लीय समूहों की तुलना में एशियाई और गोरे लोग ऑस्टियोपोरोसिस का संचालन करने के लिए अधिक संवेदनशील होते हैं। 5 फुट 7 इंच से अधिक की ऊंचाई वाले लोगों में ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा हो सकता है। जेनेटिक कारक एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यदि पहले से ही ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित परिवार का कोई सदस्य है तो ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा बढ़ जाता है।

What are the symptoms of osteoporosis In Hindi – ऑस्टियोपोरोसिस के लक्षण क्या हैं?

ऑस्टियोपोरोसिस के लक्षणों को निम्न प्रकार से माना जाता है। यह एक साइलेंट रोग है जो रोगी में धीरे से हो जाता है। वास्तव में ऑस्टियोपोरोसिस के कोई बाहरी लक्षण नहीं होते| यह एक विकार है जो कमजोर हड्डियों के कारण होता है।

इसके मुख्य लक्षण में छेद वाली और कमजोर हड्डियाँ होना शामिल है। ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित रोगियों में आसानी से हड्डी टूटना, स्टूपिंग, रीढ़ की हड्डी का टेढ़ा होना आम है।

What are the diagnosis In Hindi – इसकी पहचान क्या है?

ऑस्टियोपोरोसिस की पहचान के लिए टेस्ट और हड्डी का एक्स रे हो सकता है। हड्डी की ऑर्थोडोंटल संरचना को समझना और उसके बाद आगे बढ़ना महत्वपूर्ण है। वर्तमान में इसकी पहचान के लिए  में डेक्सा या ड्यूल एनर्जी एक्स-रे अब्सोर्बटियोमेट्री हैं।

दो प्रकार के डेक्सा स्कैनिंग होते हैं ये हैं सेंट्रल डिवाइस यूसेज, एक पेरिफेरल डिवाइस यूसेज हैं। अन्य परीक्षण जो ऑस्टियोपोरोसिस की पहचान में मदद कर सकते हैं वे हैं हड्डियों की संरचना के लिए जाँच करने के लिए बोन डेंसिटोमेट्री और लेटरल वर्टेब्रल मूल्यांकन, अल्ट्रासाउंड टेस्ट आदि|

What are prevention and control In Hindi – इससे रोकथाम और कण्ट्रोल के क्या उपाय हैं?

ऑस्टियोपोरोसिस के इलाज़, रोकथाम और नियंत्रण के लिए उपाय नीचे दिए जा रहे हैं।

ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित रोगी कैल्शियम और विटामिन-डी की खुराक लेने पर विचार कर सकते हैं। अपने आहार में पसंदीदा हरी सब्जियां और डाइटरी प्रोडक्ट्स शामिल करें| आपको नियमित व्यायाम भी करना चाहिए। हाइट से अचानक गिरने से बचें।

हाल ही में एक नजर का परीक्षण कराया गया। आस पास को रौशन रखें ताकि आप गिर न जाएं। नियमित व्यायाम करें और भरपूर आराम करें। तनाव से बचें और चक्कर आने वाली दवा से बचें।

What are the treatment options for osteoporosis In Hindi – ऑस्टियोपोरोसिस के लिए इलाज़ के क्या आप्शन हैं?

इस के कई आप्शन हैं जो ऑस्टियोपोरोसिस के लक्षण हैं। ऑस्टियोपोरोसिस का कोई निश्चित इलाज नहीं है। केवल ऐसे उपचार हैं जो बेहतर जीवन जीने में मदद करते हैं।

लेकिन ये इलाज़ हैं जो ऑस्टियोपोरोसिस के विकास को धीमा करने में मदद कर सकते हैं। इससे हड्डियों को अपने स्वास्थ्य को फिर से हासिल करने में मदद मिलेगी। शरीर में विटामिन-डी की कमी बनाने की सलाह दी जाती है। ऑस्टियोपोरोसिस के इलाज़ से फ्रैक्चर, सूजन और दर्द को रोकने में कमी का कारण बनता है, रोगी की गतिविधि को बढ़ाने में बि मदद करता है।

ऑस्टियोपोरोसिस के लिए मिलने वाली दवाएं हैं:

  • बिफोस्फोनेटस,
  • एस्ट्रोजेन विरोधी और एगोनिस्ट उदाहरण के लिए: रालॉक्सिफ़ेन,
  • कैल्सीटोनिन,
  • पैराथाएरॉएड हार्मोन,
  • क्स्गिवा

What are the lifestyle tips for osteoporosis In Hindi – ऑस्टियोपोरोसिस के लिए लाइफस्टाइल टिप्स क्या हैं?

  • ऑस्टियोपोरोसिस के रोगी के लिए जरूरी लाइफस्टाइल टिप्स नीचे दिए गये हैं। ऑस्टियोपोरोसिस बुलिमिया या ईटिंग डिसऑर्डर पैदा करने में सक्षम है। इससे सिगरेट पीने की लत लग सकती है, शराब पीना भी बढ़ सकता है।
  • ऑस्टियोपोरोसिस के मरीजों को नियमित रूप से कसरत करनी चाहिए और पोस्चर बनाए रखने के लिए व्यायाम करना चाहिए।
  • ऑस्टियोपोरोसिस के रोगियों के लिए विभिन्न प्रकार के व्यायाम हैं। आपको सक्रिय रहना चाहिए और संतुलित आहार बनाए रखना चाहिए।
  • कैल्शियम और विटामिन-डी की खुराक लेने पर विचार करें। बहुत सारी सब्जी और डेयरी प्रोडक्ट खाएं।

What are the recommended exercise for osteoporosis In Hindi – ऑस्टियोपोरोसिस के लिए क्या व्यायाम हैं?

ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित लोगों के लिए कई व्यायाम बताये गये हैं जैसे:

  • घूमना,
  • वेट बेअरिंग एरोबिक्स,
  • दौड़ना
  • हल्के कार्डियो
  • नृत्य,
  • कम प्रभाव वाले एरोबिक्स,
  • एल्लिपटिकल ट्रेनिंग मशीन,
  • सीढ़ियाँ चढ़ना,
  • बागवानी की गतिविधियां

What are the interactions with diseases and pregnancy In Hindi – इसका बीमारियों और गर्भावस्था के साथ क्या इंटरेक्शन है?

ऑस्टियोपोरोसिस और गर्भावस्था एक साथ होने वाली घटना है। लेकिन गर्भवती माताओं में कमजोर  हड्डियों का संचालन करने का खतरा होता है लेकिन विटामिन डी और कैल्शियम की खुराक दी जा सकती है।

कुछ मामलों में गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में ऑस्टियोपोरोसिस की घटना को नोट किया जा सकता है। ऐसे मामले में जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

What are the common complications of osteoporosis in Hindi – ऑस्टियोपोरोसिस से होने वाली सामान्य कठिनाइयाँ क्या हैं?

ऑस्टियोपोरोसिस से होने वाली कठिनाइयों के बारे में नीचे बताया गया है।

  • यह मुख्य रूप से कूल्हे और रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के खतरे को बढ़ा सकता है।
  • इससे विकलांगता होने का खतरा बढ़ जाता है।
  • यह रीढ़ की हड्डी के फ्रैक्चर के खतरे को बढ़ाता है
  • यह किफ़ोसिस या डॉवेंस कूबड़ भी पैदा कर सकता है।

FAQs – सामान्य प्रश्न

क्या ऑस्टियोपोरोसिस के दौरान व्यायाम करते रहना चाहिए?

उच्च प्रभाव वाले व्यायाम से बचना है। जंपिंग, रनिंग या जॉगिंग जैसी गतिविधियां कमजोर हड्डियों में फ्रैक्चर का कारण बन सकती हैं। यदि आप ऑस्टियोपोरोसिस होने के बावजूद आम तौर पर फिट और मजबूत हैं तो आप किसी ऐसे व्यक्ति की तुलना में कुछ अधिक प्रभाव वाले व्यायाम करने में सक्षम हो सकते हैं जो कमजोर होते हैं|

क्या ऑस्टियोपोरोसिस के लिए कोई पूर्ण प्राकृतिक इलाज़ है?

इस प्रश्न का उत्तर नहीं है। क्योंकि कोई भी ऐसे प्राकृतिक इलाज़ नहीं है जो ऑस्टियोपोरोसिस का पूरी तरह से इलाज करता है। इन टिश्यू को ऑस्टियोपोरोसिस वाले रोगियों में संबोधित किया जाता है। डॉक्टर भी ऐसे प्राकृतिक इलाजों के बारे में निर्देश दे सकते हैं जो स्वास्थ्य स्थितियों के लिए समान रूप से प्रभावी होते हैं लेकिन हड्डी के घनत्व के लिए काफी कम खतरे पेश करते हैं। ऑस्टियोपोरोसिस के लिए ड्रग थैरेपी में बिसफ़ॉस्फ़ोनेट्स शामिल हैं जैसे कि एलेंड्रोनेट और रिज्रोनेट।

क्या ऑस्टियोपोरोसिस की घटना को रोका जा सकता है?

ऑस्टियोपोरोसिस एक ऐसा विकार है जिसे केवल इलाज़ से धीमा किया जा सकता है। जिससे लक्षणों से आराम तो मिलता ही है और कुछ दुर्लभ मामलों में उलटा भी हो सकता है। लेकिन लक्ष्य एक स्वस्थ और संतुलित आहार के साथ स्वस्थ जीवन शैली को बनाए रखना है।

क्या ऑस्टियोपोरोसिस होने से आपका जीवन छोटा हो जाता है?

ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित लोगों में समय से पहले मरने का खतरा बढ़ जाता है| एक नए अध्ययन में पाया गया है कि नये इलाज़ ऑस्टियोपोरोसिस के रोगियों की 75 वर्ष से कम उम्र की महिलाओं में अधिक और 60 वर्ष से कम आयु के पुरुषों में 15 वर्ष तक सक्षम हैं|

ऑस्टियोपोरोसिस कितनी जल्दी बढ़ता है?

महिलाओं में मेनोपाज के बाद पहले कुछ वर्षों में हड्डी का नुकसान सबसे तेजी से होता है लेकिन यह धीरे-धीरे मेनोपाज के बाद के वर्षों में भी जारी रहता है। जैसे ही हड्डी के घनत्व की हानि होती है  ऑस्टियोपोरोसिस विकसित होता है। यह प्रक्रिया पुरुषों में 10 साल धीमी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

6 − 1 =