Pear in Hindi नाशपाती के शीर्ष स्वास्थ्य लाभ: कैलोरी और पोषण शामिल हैं

0
278
Pear in Hindi नाशपाती के शीर्ष स्वास्थ्य लाभ: कैलोरी और पोषण शामिल हैं

फल लेना कई बीमारियों के खतरे को कम कर देता है और यह शरीर को मजबूत बनाते हैं। ऐसा ही एक लोकप्रिय और व्यापक रूप से खाया जाने वाला फल नाशपाती(Pear) है। यह विभिन्न पोषक तत्वों से भरा हुआ है और यह स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। नाशपाती कैलोरी में अपेक्षाकृत कम होती है लेकिन कुछ पोषक तत्वों और फाइबर सामग्री से भरपूर भी होती है।

नाशपाती मौसमी होती है और देर गर्मी से लेकर सर्दियों तक भारत में इसकी कटाई की जाती है, जैसा कि जॉन ड्राइडन ने अपनी कविताओं में लिखा है- ‘जब उदार शरद ऋतु अपना सिर पीछे रखता है तो उसे पके हुए नाशपाती को लाना ही पड़ता है।’

नाशपाती के विभिन्न उपयोग और लाभ हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं।

Buy & Save from: Zopnow Coupons | BigBasket Promo Code

Pear in Hindi – नाशपाती क्या है?

नाशपाती रेशेदार, रसदार हलके मीठे फल होते हैं। वे रोसासा परिवार से संबंधित हैं। इनमे एंटीऑक्सीडेंट, फ्लैवोनोइड्स और फाइबर भरपूर होता है और ये किसी भी फैट या कोलेस्ट्रॉल से रहित होता है। नाशपाती के पेड़ में विविधता होती है लेकिन उनमें से कुछ ही केवल खाने योग्य फल हैं जिन्हें मनुष्यों द्वारा खाया जाता है। कुछ नाशपाती की किस्में केवल सजावटी पेड़ों और झाड़ियों के रूप में उपयोग की जाती हैं। कुछ नाशपाती सेब के आकार की तरह होते हैं और इसकी त्वचा के अंदर गूदा भी सेब के समान ही होता है लेकिन यह कोशिकाओं की वजह से स्थिरता से घिरा हुआ है। यह स्वाद के अलावा सेब और नाशपाती के बीच सबसे स्पष्ट अंतरों में से एक है।

कहा जाता है कि नाशपाती चीन में पैदा हुई और यूरोप, उत्तरी अफ्रीका और एशिया के मूल में भी होती है। प्रागैतिहासिक काल से ही उनके उपयोग करने के सबूत भी है। नाशपाती टेम्प्रेट, ठंडे मौसम वाले स्थानों में बढती है जो उन्हें बहुमुखी और खेती करने में आसान बनाते हैं।

Pear Benefits in Hindi – नाशपाती के लाभ

  1. पाचन को सुधारे

नाशपाती अकेले ही हमें फाइबर लेने की दैनिक जरूरत का 18% देती है। यह मूल रूप से पाचन स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए एक बहुत मजबूत एजेंट है। नाशपाती में पाया जाने वाला फाइबर एक गैर-घुलनशील पोलिसाक्राइड (एनएसपी) है, जो आंतों में एक ब्ल्किंग तत्व के रूप में काम करता है। इसमें मौजूद फाइबर भोजन का आंतों से गुजरना आसान कर देता है। इसके अलावा फल गैस्ट्रिक और पाचन रस के बहने को उत्तेजित करता है। यह आँतों की गतिविधियों को भी नियंत्रित करता है और कब्ज की संभावनाओं को कम करता है साथ ही दस्त और ढीले मल को भी।

  1. वजन कम करे

कुछ फलों में प्राकृतिक रूप से चीनी होती है जो की कैलोरी गिनती को बढ़ाती है। लेकिन नाशपाती में सबसे कम कैलोरी होती है जिनमें बहुत ज्यादा पौष्टिक मूल्य होते हैं। एक औसत नाशपाती में लगभग 100 कैलोरी होती है। इसमें फाइबर होने के कारण आप भरा हुआ महसूस करते हैं और आपको जल्दी भूख नहीं लगती|

  1. एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर

नाशपाती में विटामिन-सी अधिक मात्रा में होती है जो विभिन्न बीमारियों से लड़ने के लिए जरूरी है। नाशपाती में मौजूद एंटी-ऑक्सिडेंट मुक्त कणों को खत्म करने के लिए काम करते हैं जो शरीर में सेलुलर मेटाबोलिज्म के प्रभाव के रूप में जमा होते हैं। ये फ्री रेडिकल कैंसर कोशिकाओं के स्वस्थ सेल डीएनए को बदलते हैं और कई अन्य गंभीर परिस्थितियों को भी जन्म देते हैं।

  1. दिल के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे

जर्नल ऑफ फंक्शनल फूड्स, पॉलीफेनॉल में प्रकाशित 2012 के अध्ययन के अनुसार सेब और नाशपाती में पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट दिल की सुरक्षा की तरह इशारा करते हैं| एक अध्ययन में पाया गया कि जिन लोगों ने 4 सप्ताह के लिए एक सेब या एक नाशपाती खायी उनके खून में  एलडीएल (या खराब कोलेस्ट्रॉल) का स्तर 40% तक कम पाया गया| नाशपाती में पोटेशियम की मात्रा ज्यादा होती है जो एक प्रसिद्ध वासोडिलेटर है। यह सभी अंगों में खून के बहाव को बढ़ावा देता है।

  1. सूजन को कम करे

नाशपाती में एंटी-ऑक्सीडेंट और फ्लैवोनॉयड जैसे तत्व होते हैं जो शरीर में एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव को बहुत आसानी से प्रेरित करते है। यह सूजन से जुड़े दर्द को भी कम कर देते हैं। नाशपाती गठिया, जोड़ों की स्थिति और इसी तरह की स्थितियों के लक्षणों में कमी में भी मदद करता है। एक निश्चित मात्रा में नाशपाती लेने से आप इन समस्याओं का मुकाबला करने में मदद करते हैं|

  1. रक्त परिसंचरण में मदद करे

नाशपाती का उपयोग हमारे शरीर में खून को फैलने में मदद करता है। नाशपाती में कॉपर और आयरन की उच्च मात्रा होती है।

  1. उपचार को बढावा दे

बड़ी मात्रा में नाशपाती में पाया विटामिन-सी शरीर की सेलुलर संरचनाओं में नए ऊतकों को बनने में मदद करता है| यह शरीर में मेटाबोलिज्म को बनाए रखने में मदद करता है। इसके अलावा नाशपाती में एस्कॉर्बिक एसिड का स्तर भी ज्यादा होता है जो जख्म को जल्दी से भर देता है| यह नुक्सान हो चुकी खून की नलियों की मरम्मत में भी मदद करता है, कार्डियोवैस्कुलर प्रणाली के तनाव को कम करता है और कुछ हृदय रोगों के बढने को रोकता है|

  1. प्रतिरक्षा को बढ़ावा दे

‘अमेरिकन जर्नल ऑफ़ क्लीनिकल न्यूट्रिशन’ ने एक अध्ययन किया जिसके अनुसार इसमें विटामिन-सी के लाभ भी शामिल हैं। नाशपाती एंटी-ऑक्सिडेंट्स और विटामिन-सी से भरपूर होती है जो सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को उत्तेजित करने में मदद करता है। वे प्रतिरक्षा प्रणाली को भी बढ़ावा देते हैं, जिससे यह सामान्य सर्दी, फ्लू और अन्य हल्की बीमारियों को खत्म करने में मदद करता है।

  1. हड्डियों को मजबूत करे

नाशपाती में उच्च खनिज सामग्री होती है जिसमें मैग्नीशियम, मैंगनीज, फॉस्फोरस, कैल्शियम और कॉपर होता है। ये खनिज हड्डियों की हानि को कम करने और ऑस्टियोपोरोसिस जैसी स्थितियों को रोकने में सहायता करते हैं। इसके अलावा यह फल कमजोर हड्डियों और शरीर की सामान्य कमजोरी से लड़ता है। इन सभी लाभों का लाभ उठाने के लिए अपने दैनिक आहार में नाशपाती को शामिल करें।

Pear Nutritional Value in Hindi – नाशपाती का पोषण मूल्य

100 ग्राम प्रति नाशपाती का पोषक तत्व निम्न हैं:

पोषक तत्व पोषण मूल्य
पानी [ग्रा.] 83.96
एनर्जी [केकेसी] 57
प्रोटीन [जी] 0.36
टोटल लिपिड (फैट) [जी] 0.14
कार्बोहाइड्रेट [जी] 15.23
फाइबर [जी] 3.1
चीनी [जी] 9.75
कैल्शियम, सीए [मिलीग्राम] 9
आयरन, फे [मिलीग्राम] 0.18
मैग्नीशियम, एमजी [एमजी] 7
फॉस्फोरस, पी [एमजी] 12
पोटेशियम, के [एमजी] 116
सोडियम, ना [मिलीग्राम] 1
जिंक, जेएन [मिलीग्राम] 0.1
विटामिन सी, एस्कॉर्बिक एसिड [मिलीग्राम] 4.3
थायामिन [मिलीग्राम] 0.01
रिबोफाल्विन [एमजी] 0.03
नियासिन [मिलीग्राम] 0.16
विटामिन बी -6 [मिलीग्राम] 0.03
फोलेट, डीएफई [μg] 7
विटामिन-बी-12 [μg] 0
विटामिन-ए, आरएई [μg] 1
विटामिन-ए, आईयू [आईयू] 25
विटामिन-ई (अल्फा-टोकोफेरोल) [मिलीग्राम] 0.12
विटामिन-डी (डी-2 + डी-3) [μg] 0
विटामिन-डी [आईयू] 0
विटामिन-के (phylloquinone) [μg] 4.4
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड [जी] 0.02
फैटी एसिड, टोटल मोनोसैचुरेटेड  [जी] 0.08
फैटी एसिड, कुल पॉलीअनसैचुरेटेड [जी] 0.09
कोलेस्ट्रॉल [मिलीग्राम] 0
कैफीन [मिलीग्राम] 0

Pear Risks and Precautions in Hindi – नाशपाती पयोग करते समय खतरे और सावधानियां

  • यदि हम नियमित रूप से नाशपाती लेते हैं तो यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। लेकिन इसको ज्यादा लेने से यह हानिकारक हो सकती है।
  • शरीर में बहुत ज्यादा फाइबर पोषक तत्वों के अवशोषण में हस्तक्षेप करता है और विटामिन-सी का उच्च स्तर भी हानिकारक होता है|
  • बहुत सारी नाशपाती खाने से गैस्ट्रिक समस्याएं पैदा हो सकती हैं।
  • यदि आप मधुमेह से पीड़ित हैं तो नाशपाती का उपयोग करने से पहले सावधान रहना चाहिए।

How to Use Pear in Hindi – नाशपाती का उपयोग कैसे करें?

एक पकी हुई नाशपाती लेने का सबसे अच्छा तरीका स्टेम के पास से नाशपाती के शीर्ष पर थोड़ा सा दबाव डालें| यदि फल उस जगह पर समान रूप से पैदा होता है तो यह पकी हुई है और खाने के लिए तैयार होता है। किसी भी अन्य स्थान पर नरम हो चुकी नाशपाती न खरीदें क्योंकि इसका मतलब है कि वे ज्यादा पकी हुई है। यदि आप सलाद बनाने के लिए नाशपाती चुन रहे हैं तो ऐसी  चुनें जो थोड़ी कम पकी हुई हो| बहुत सारे व्यंजन हैं जिन्हें आप आसानी से नाशपाती से बना सकते हैं। यहां उनमें से कुछ निम्न हैं:

  • नाशपाती, बेकन और जैम को अपने साधारण ग्रिल्ड पनीर सैंडविच में डालें|
  • कुछ नाशपाती के स्लाइस करें और नाश्ते के लिए सलाद में डालें।
  • पाई और आइसक्रीम को पकी हुई या कटी हुई नाशपाती से तैयार करें।
  • मिठाई के लिए नाशपाती का हलवा बनाएं|
  • एक लोकप्रिय पकवान के लिए मसालेदार लाल शराब में पोच नाशपाती का उपयोग करें।

Pear Fun Facts in Hindi – नाशपाती के बारे में कुछ मजेदार तथ्य

यहां नाशपाती के बारे में कुछ मजेदार तथ्य बताये गए हैं जिन्हें आप दोस्तों के साथ बाँट सकते हैं:

  • दुनिया भर में उगाए जाने वाली नाशपाती की लगभग 3,000 किस्मे हैं।
  • यूरोप में तम्बाकू की शुरूआत से पहले लोगों ने नाशपाती के पत्तों से धूम्रपान किया था।
  • नाशपाती हजारों सालों से कई आहारों का हिस्सा रही है।
  • सेल्टिक साहित्य, रोमन इतिहास और चीनी लोअर में भी नाशपाती का जिक्र पाया गया है|
  • बार्टलेट संयुक्त राज्य अमेरिका में नाशपाती की सबसे लोकप्रिय किस्म है।
  • प्राचीन ग्रीक में मतली के प्राकृतिक उपचार के लिए नाशपाती का उपयोग किया जाता था।
  • यद्यपि नाशपाती पेड़ पर ही पक जाती है वे पेड़ पर ही सबसे अच्छा पकते हैं।

नाशपाती एक बहुमुखी भोजन है जिसे विभिन्न प्रकार के व्यंजनों में उपयोग किया जा सकता है। इसके अलावा, यह रसदार फल हमारे शरीर को स्वास्थ्य लाभ देने के लिए कई पोषक तत्वों से भरा हुआ है। नाशपाती हमारे पूरे स्वास्थ्य में सुधार करने के अलावा हमारी त्वचा और बालों की बनावट और गुणवत्ता में भी सुधार करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − two =