Shatavari in Hindi शतावरी: इसके फायदे, उपयोग, मात्र और नुक्सान

शतावरी: इसके फायदे, उपयोग, मात्र और नुक्सान

शतावरी (Shatavari) को सतावर, शतमूल और ऐस्पैरागस रसमोसूस के नाम से भी जाना जाता है जोकि एक ऐसा पौधा है जो पूरे नेपाल, श्री लंका और भारत में पाया जाता है| हानिकारक कटाई की वजह से यह लुप्त होने की कगार पर ही है, इसलिए इस पौधे को अब अपने प्राकृतिक आवास में लुप्तप्राय प्रजाति का नाम दिया गया है| शतावरी का मतलब है सैंकड़ों बीमारियों का इलाज़ और यह शायद औरतों के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा में एक महत्वपूर्ण जड़ी-बूटी है| इसका उपयोग यूनानी और सिद्ध पद्धति द्वारा भी होता है|

Benefits of Shatavari in Hindi- शतावरी के फायदे

इसमें प्राकृतिक रूप से फायटो-एस्ट्रोजन नाम के हार्मोन पाए जाते हैं जोकि महिलाओं की प्रजनन प्रणाली को स्वस्थ बनाने में सहायक होते हैं| यह उर्जा और शीतलता प्रदान करने वाला माना जाता है इसलिए मेनोपॉज के दौरान रात को पसीना आना, गर्मी जैसा लगना, यादाश्त कमजोर होना और तनाव जैसी समस्याओं से लड़ने में मददगार है| यह गर्भाशय को मजबूत करता है और बच्चा होने के बाद स्वास्थ्य लाभ में भी सहायता प्रदान करता है| यदि इसका लगातार प्रयोग किया जाए तो यह कैंडिडा बैक्टीरिया (जोकि योनि के संक्रमण का कारण होता है) को भी खत्म कर देता है|

अन्य फायदे

  • महिलाओं की प्रजनन प्रणाली को स्वस्थ बनाता है|
  • मान के दूध ka स्वस्थ उत्पादन करने में मदद करता है|
  • महिलाओं के हार्मोंस में संतुलन बनाता है|
  • पाचन तन्त्र प्रणाली को शांत रखता है|
  • आँतों की गति को  स्वस्थ रखता है|
  • श्वसन प्रणाली को नमी प्रदान करे|
  • प्राकृतिक एंटी ओक्सिडेंट है|
  • मेनोपॉज के दौरान हॉर्मोनस में संतुलन में रखे और उसके प्रभावों को कम करे|
  • पाली सिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम के इलाज में मदद करता है|

पुरुषों के स्वास्थ्य के लिए फायदे

पुरुषों की प्रजनन प्रणाली को स्वस्थ करे|

प्रजनन द्रव में वृद्धि करे|

पुरुषों में यौन सम्बन्धी समस्याओं का हल करे|

पुरुषों में शक्ति और स्पर्म की गिनती को बढ़कर स्वस्थ करने में मदद करे|

पुरुषों के यौननागों की सूजन में कमी लाये|

अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी फायदे

  • कैंसर के इलाज की दवाइयों के दुष्प्रभाव को कम करके स्वास्थ्य लाभ में मदद करे|
  • खांसी, डिहाइड्रेशन, दस्त, पेचिश और पुराने बुखार को ठीक करने में सहायता करे|
  • हेमेटेमेसिस, हर्पीस, अतिसंवेदनशीलता, ल्यूकोरेरिया, फेफड़ों में होने वाले फोड़ों के इलाज में भी लाभकारी है|
  • पेट के अल्सर, संधिशोथ, गुर्दे, फेफड़ों और पेट की सूजन का इलाज|
  • ओवम का पोषण करे और एड्स और एपस्टीन बार के लिए अच्छा है|
  • उम्र बढ़ने के विरोधी गुणों के रूप में यह मुक्त कणों की वजह से त्वचा की क्षति को कम करने में मदद करता है
  • तनाव विरोधी क्षमता रखता है|

How to Consume Shatavari in Hindi- शतावरी का उपयोग कैसे करें

शतावरी को गोली के रूप में लेना आसन है| इसका तरल सत्त लेना भी एक उत्तम विकल्प है| हालाँकि आप इसको नीचे लिखे तरीकों से भी प्रयोग कर सकते हैं|

  • गुड के बने जैम के रूप में
  • घी में मिलकर या शतावरी से हर्बल घी बनाकर

Dosage of Shatavari in Hindi- शतावरी की मात्रा

  • शतावरी हर्बल पाउडर को 3-10 ग्राम, 1/2 से 2 चम्मच जूस, गर्म पानी या दूध के साथ मिलाकर ले सकते हैं|
  • शतावरी हर्बल अर्क 5-10 मिलीलीटर प्रतिदिन ले सकते हैं|
  • ये गोलियों के रूप में 500 मिलीग्राम दिन में दो बार लिया जा सकता है|

एक महत्वपूर्ण बात हमेशा अपने दिमाग में रखें कि इसको हमेशा हर्बल चिकित्सक की उचित सलाह लेकर ही लें|

Side Effects of Shatavari in Hindi- शतावरी के नुक्सान

इसको सदियों से प्रयोग किया जाता रहा है लेकिन फिर भी ऐसी कोई वैज्ञानिक जांच नही है जो इसको लेने की सलाह दे| न ही इसके कोई नुक्सान ही पाए गये हैं| फिर भी यह विश्वास है कि इसको कम मात्र में लेने से यह आपके शरीर को फायदा होता है| जो भी हो, आप अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें|

  • जिन लोगों को ऐस्पैरगस प्रजाति के किसी भी पौधे से एलर्जी होती है उनको इस अनुपूरक को नही लेना चाहिए|
  • यदि आपको बिगड़ा हुआ अस्थमा या एलर्जी प्रतिक्रियाओं जैसे चकत्ते, आँखों और त्वचा पर खुजली, चक्कर आना और तेज दिल की धडकन का अनुभव हो तो ध्यान दें|
  • इसे मूत्रवर्धक जड़ी बूटी या दवाओं के साथ लेने से बचें|
  • यदि आप ब्लड प्रेशर को कम करने की दवाइयों के साथ ले रहे हैं तो इसको लेने से बचें|
  • ब्लड शुगर को कम करने की दवाइयां भी यदि आप ले रहे हैं तो इसको लेना वर्जित है|
  • दिल के मरीजों और फेफड़ों के संकुचन वाले मरीजों को भी यह नही लेनी चाहिए|
  • फाइब्रोसाइटिक ब्रैस्ट और एस्ट्रोजेन उत्प्रेरित विकार वाली महिलाओं को इससे बचकर रहना चाहिए|

Buying Guide For Shatavari in Hindi- शतावरी खरीदने के लिए

शतावरी पाउडर, कैप्सूल और हर्बल अर्क आदि कई रूपों में मिलता है|

शतावरी को ऑनलाइन खरीदने पर आपको बहुत सी डीलस और ऑफर मिलते हैं|आप इन वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं|

कुछ प्रमुख ब्रांड्स

  • हिमालया
  • बैद्यनाथ
  • नेचर्ज़
  • आर्गेनिक इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × four =