trivandrum-kerala-best-places-in-hindi
trivandrum-kerala-best-places-in-hindi

त्रिवेंद्रम के बारे में

केरल की राजधानी त्रिवेंद्रम या तिरुवनंतपुरम सबसे बड़ा शहर है जिसके नाम का अर्थ है “भगवान अनंत का शहर”| इस शहर का इतिहास 1000 साल पुराना है जब राजा सुलैमान यहां मसाले, चंदन और हाथीदांत के व्यापार के लिए आया था|| भौगोलिक दृष्टि से, त्रिवेन्द्रम भारत के पश्चिमी तट पर सात पहाड़ियों पर बना  है।

क्यों जाएं: जलवायु, समुद्र तट, वर्षावन, प्राकृतिक सौंदर्य, मंदिर, बैकवाटर्स

आदर्श: मित्र, परिवार

सामन्य ज्ञान: त्रिवेन्द्रम भारत के सबसे अच्छे शहरों में से एक है|

लाने के लिए चीजें: कोयूर उत्पाद, नारियल के खोल का हस्तशिल्प, मूर्तियां, पारंपरिक लैंप, कसवु साड़ी, नेटटूर कास्केट, स्नेकबोट मॉडल, मसाले, भित्तिचित्र और मास्क

त्रिवेंद्रम में जाने के लिए स्थान

15.कोट्टपुरम

कोट्टपुरम एक ऐसा सुंदर पर्यटन स्थल है जहाँ प्राचीन समुद्र तट और आराम करने के लिए बैकवाटर हैं| नारियल के पेड़ और शानदार सूर्यास्त यहाँ के उत्साहजनक अनुभव हैं। आप बैकवाटर पर घूमने के साथ-साथ नाव की सवारी, मछली पकड़ना, राजसी हाउसबोट के लिए भी कोशिश कर सकते हैं।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 22.7 कि.मी दूर

समय आवश्यक: एक दिन

14. मादारवूररपारा शिव मंदिर

850 ईस्वी की इस प्राचीन जगह पर मंदिर और आसपास के क्षेत्र राज्य पुरातात्विक विभाग के अधीन हैं| पहाड़ी के शीर्ष पर एक छोटा सा पार्क और बांस का 101 मीटर लंबा पुल भी बनाया गया है। पहाड़ी के शीर्ष से इसका दृश्य जादुई दिखता है|

दूरी: त्रिवेंद्रम से 17 कि.मी दूर

समय आवश्यक: आधा दिन

13. नेययार बांध और वाइल्डलाइफ सेंचुरी

नेययार अभयारण्य नेययार बांध परिसर से 1 कि.मी की दूरी पर है। इसके परिसर में एक सूचना केंद्र, स्टाफ क्वार्टर, आराम घर और एक युवा हॉस्टल है। इस वन्यजीव अभ्यारण्य में विविध वनस्पतियों और जीवों का एक आदर्श जीन संजोकर रखा गया है।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 30.8 कि.मी दूर

समय आवश्यक: आधा दिन

यात्रा का सर्वोत्तम समय: नवंबर – मार्च

12. अगस्त्यकूड्म

नाययार बांध के आसपास यह केरल का दूसरा सबसे ऊंचा शिखर है| पक्षी निरीक्षकों के लिए तो यह स्वर्ग माना जाता है क्योंकि यहां विदेशी पक्षियों की झलक भी दिखाई देती है| शिखर का नाम ऋषि अगस्त्य के नाम पर रखा गया था और यह एक तीर्थ स्थल के रूप में भी जाना जाता है| चोटी तक पहुंचने के लिए 90 मिनट ड्राइव करके बोनाकाड पहुंचकर अंत में मोटर वाहन से यहाँ जाया जाता है।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 35.5 कि.मी दूर

समय आवश्यक: आधा दिन

जाने का सबसे अच्छा समय: दिसम्बर-अप्रैल

11. अरुवी वाटरफाल्स

पेप्पर वन रेंज में स्थित यह खूबसूरत फाल्स हैं और बोनाकॉड से 7 कि.मी के ट्रेक से यहाँ तक पहुंचा जा सकता है। स्थानीय लोग यहाँ गाइड का काम करते हैं| इस जंगल में प्रवेश करने से पहले नेय्या वन्यजीव अभयारण्य से जंगल पास की भी जरूरत होती है।

दूरी: बोनाकॉड एस्टेट से 7 कि.मी दूर

समय आवश्यक: 2 घंटे

10. वेल्लयानी झील

त्रिवेंद्रम में सबसे बड़ी ताजे पानी की वेल्लयानी झील का साफ़ और शांत पानी चांदनी रातों में देखने लायक होता है| यहाँ ओणम के दौरान होने वाली नाव रेसिंग से सुंदर कोई चीज़ नही है| कोई भी कोवलम बीच नाव की सवारी कर सकता है।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 18.6 कि.मी दूर

समय आवश्यक: 3 घंटे

यात्रा का सर्वोत्तम समय: अक्टूबर – फरवरी

और पढो:केरल|पलक्कड़|एर्नाकुलम

9. वेली टूरिस्ट विलेज

यह गांव एक ऐसे पॉइंट पर स्थित है जहां वेली झील अरब सागर में मिलती है। यह पिकनिक और नौकायन के लिए एकदम सही जगह है। शहर की हलचल से दूर आराम करने और पानी का आनंद लेने के साथ-साथ यह घुड़सवारी, खरीदारी और भी बहुत कुछ करने के लिए यहाँ आया जा सकता है|

दूरी: त्रिवेंद्रम से 8.8 कि.मी

समय आवश्यक: आधा दिन

समय: 9 बजे से 6 बजे तक

8. पोनमुडी

त्रिवेंद्रम में 1100 मीटर की ऊंचाई पर स्थित और अरब सागर के समानांतर चलने वाला एक छोटा सा पहाड़ी स्टेशन पोनमुडी या गोल्डन पीक एक लोकप्रिय ट्रेकिंग स्पॉट है जहां सब जगह  प्राकृतिक सुंदरता फैली हुई है। पहाड़ियां, पेप्पर वन्यजीव अभयारण्य, इको प्वाइंट, घाटियां, पोनमुडी झरना और नदियों साल भर पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र रहती है|

दूरी: त्रिवेंद्रम से 55.1 कि.मी दूर

समय आवश्यक: एक दिन

7. अंजेंगो / अंकुचेनु किला

1696 में ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा स्थापित किया गया यह किला इंग्लैंड से आने वाले जहाजों के लिए पहला सिग्नलिंग स्टेशन था। किले के चार बुर्जों पर हरेक में आठ बंदूकें हैं। इस किले ने एंग्लो-मैसूर युद्ध में एक महत्पूर्ण भूमिका निभाई थी।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 32 कि.मी दूर

अपेक्षित समय: 1 – 2 घंटे

6. श्री चित्र आर्ट गैलरी

1935 में त्रावणकोर के महाराजा द्वारा स्थापित इस आर्ट गैलरी में राजा रवि वर्मा, निकोलस रोरीच, रवींद्रनाथ टैगोर और कई अन्य प्रसिद्ध व्यक्तियों के पारंपरिक और समकालीन चित्र हैं| जिनमें विभिन्न विद्यालयों के पूर्व-ऐतिहासिक काल के ओरिएंटल चीनी, जापानी, बालिनीज, तिब्बती थांगका और भित्तिचित्र चित्रों का संग्रह है|

दूरी: त्रिवेंद्रम सेंट्रल रेलवे स्टेशन से 3 कि.मी दूर

समय आवश्यक: 2 – 3 घंटे

समय: 10 बजे से 4:45 बजे तक, सोमवार और बुधवार को बंद

5. शंकुमघम बीच

अपने प्रियजनों के साथ जाने के लिए सबसे अच्छी जगह है। खुले हवा में कई रेस्तरां में सुंदर  सूर्यास्त का आनंद ले सकते हैं|

दूरी: त्रिवेंद्रम से 10.6 कि.मी दूर

समय आवश्यक: 2 – 3 घंटे

4. पोवर

पोवर, त्रिवेन्द्रम के दक्षिणी सिरे पर स्थित एक गांव, पॉज़ियायर के पास है जो  केरल के अंत को चिह्नित करता है। एक अनुमान के अनुसार पोवर समुद्र में उच्च ज्वार के समय समुद्र तट से  जुड़ जाता है और इसे एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल बनाता है।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 32 कि.मी

अपेक्षित समय आवश्यक: 2 – 3 घंटे

3. कनकक्कुनु पैलेस

शाही त्रावणकोर परिवार अपने मेहमानों का मनोरंजन करने के लिए इस महल को इस्तेमाल करता था। अब यह महल पर्यटन विभाग के संरक्षण में है और अब यहाँ कई सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं| अक्टूबर-मार्च के दौरान यहाँ निशागंधी नामक अखिल भारतीय नृत्य महोत्सव आयोजित किया जाता है।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 3.9 कि.मी दूर

अपेक्षित समय: 2 घंटे

2. नेपियर म्यूजियम

1855 में स्थापित किया गया यह संग्रहालय कला और प्राकृतिक इतिहास का संग्रहालय है| 1874 में इसकी पुरानी इमारत को गिरा कर एक नई इमारत की नींव रखी गई थी। मद्रास के राज्यपाल, लॉर्ड नेपियर के नाम पर इसका नाम रखा गया| इसमें पुरातात्विक और ऐतिहासिक कलाकृतियों, कांस्य की मूर्तियों, प्राचीन गहने, मंदिर के रथ और हाथीदांत की नक्काशी का दुर्लभ संग्रह है।

दूरी: त्रिवेंद्रम से 3 कि.मी दूर

अपेक्षित समय: 2 – 3 घंटे

समय: 10 बजे से 5 बजे तक

1. पद्मनाभस्वामी मंदिर

इस मंदिर की वास्तुकला केरल और तमिल शैलियों का संयोजन है। यहाँ के प्रमुख देवता भगवान विष्णु है जो त्रावणकोर के शाही परिवार के भी देवता हैं| यह प्राचीन मंदिर  पुराने रिकॉर्ड और विशाल तिजोरियों  के लिए प्रसिद्ध है जो भगवान विष्णु के खजाने की रक्षा करते हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार कुछ तिजोरियों को खोला भी गया जोकि सदियों से अभी तक एक बार भी खुला नहीं है। इस खजाने का मूल्य अकल्पनीय है।

दूरी: शहर से 6.2 कि.मी दूर है

अपेक्षित समय: 2 – 3 घंटे

स्थान: नेविगेट करें

त्रिवेंद्रम में अन्य आकर्षण

मंदिर

त्रिवेंद्रम या तिरुवनंतपुरम अपने मंदिरों के लिए जाना जाता है। ये मंदिर दुनिया भर के भक्तों और पर्यटकों के आगमन का केंद्र है|

  • लोकंबिका मंदिर
  • अटुकल मंदिर
  • पजावांगडी गणपति मंदिर

महल

त्रिवेंद्रम के राजसी इतिहास की वजह से शहर में आश्चर्यजनक महल हैं| यदि आप त्रिवेंद्रम की यात्रा करना चाहते हैं, तो इन महलों को देखना ना भूलें|

  • महाराजा स्वाथी थिरुनल पैलेस
  • कोयिक्क्ल पैलेस
  • कौडियार पैलेस
  • हेलिसन कैसल
  • कुथिरा मालिका

संग्रहालय

त्रिवेंद्रम में कई प्रसिद्ध संग्रहालय हैं:

  • सागरिका समुद्री अनुसंधान संग्रहालय
  • इतिहास और विरासत के केरलम संग्रहालय
  • केरल विज्ञान और प्रौद्योगिकी संग्रहालय

समुद्र तट

इस सुन्दर समुद्री तट पर पैर धसने वाली रेत के साथ खूबसूरत सूर्यास्त और सूर्योदय देखना अद्भुत लगता है। त्रिवेन्द्रम में समुद्र तट प्रियजनों के साथ समय बिताने के लिए सही स्थान है।

  • वेली बीच
  • लाइट हाउस बीच
  • कोवलम बीच

यात्रा के लिए आसपास के स्थान

  • कोवलम
  • कोल्लम
  • कन्याकुमारी

तिरुवनंतपुरम कैसे पहुंचे

निकटतम हवाई अड्डा:

त्रिवेंद्रम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा

उड़ानें बुक करें: घरेलू उड़ान ऑफर, गोएयर ऑफर

निकटतम रेलवे स्टेशन:

तिरुवनथपुरम सेंट्रल

निकटतम बस स्टॉप:

थंपनूर बस स्टॉप | मुदावनमुगल बस स्टॉप

बस बुक करें और पैसा बचाएं: रेडबस कूपन कोड, अभीबस  कूपन कोड, ट्रेवलयारी  कूपन कोड

यदि आप सड़क द्वारा त्रिवेंद्रम जाना चाहते हैं  तो यहां कुछ विकल्प हैं जिनसे आप कार किराए पर ले सकते हैं: उबर कूपन, एविस कूपन कोड

तिरुवनंतपुरम में कहाँ रहें

एसपी ग्रैंड डेज़, रेजीडेंसी टॉवर, होटल गार्डन इन

होटल बुकिंग पर छूट का लाभ उठाएं: एयरबीएनबी कूपन | Hotels.com कूपन | ओयो कूपन कोड

त्रिवेंद्रम के लिए छुट्टी पैकेज की तलाश में? Ezeego1 देखें

Previous articleऋषिकेश में जाने के लिए आश्चर्यजनक जगहें (Rishikesh Best Places in Hindi)
Next articleशिमला में करने के लिए रोमांचक चीजें (Shimla Best Places in Hindi)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen + twelve =