Ultracet in Hindi अल्ट्रासेट: उपयोग, फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां, मूल्य

0
27089

ultracet fayde nuksan in hindi

1Ultracet in Hindi – अल्ट्रासेट क्या है?

ट्रामडोल एक शक्तिशाली दर्दनाशक है और एसिटामिनोफेन कम शक्तिशाली दर्दनाशक है और जब इन दोनों को मिलाकर प्रयोग किया जाता है तो ट्रामडोल के प्रभाव में वृद्धि हो जाती है।

2Ultracet Composition in Hindi – इसमें क्या शामिल है?

अल्ट्रासेट में ट्रामडोल (37.5 मि.ग्रा.) और एसिटामिनोफेन (325 मि.ग्रा.) होता है।

3 Ultracet Uses in Hindi – अल्ट्रासेट का उपयोग

अल्ट्रासेट को मध्यम से गंभीर प्रकार के दर्द से छुटकारा पाने के लिए प्रयोग किया जाता है।

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: मेडलाइफ  | सेवऑनमेडिकल

4How Ultracet Works in Hindi – अल्ट्रासेट कैसे काम करता है?

ट्रामडोल  उन पदार्थों को रोकने का काम करता है जो एक तंत्रिका से दूसरी में दर्द के संकेत भेजने के लिए जिम्मेदार होते हैं। यह दर्द के संकेत को दिमाग तक पहुंचने से रोकता है जिससे दर्द महसूस नहीं होता। एसिटामिनोफेन दर्द की संवेदना को जन्म देने के लिए जरूरी संकेतों के स्तर को बढ़ाने का काम करता है।

5Ultracet Price in India in Hindi – भारत में अल्ट्रासेट का मूल्य

  • 70 रुपये में 50 मि.ग्रा. की 10 गोलियों की स्ट्रिप
  • 70 रुपये में 10 मि.ली. की 500 मि.ग्रा. की स्ट्रिप
  • 168 रुपये में 15 गोलियों की स्ट्रिप

6How to Take Ultracet in Hindi – अल्ट्रासेट कैसे लें?

इस दवा को पानी के साथ पूरा ही निगल लें| इसे लेने के दौरान इस टैबलेट को कुचलकर, तोड़कर या चबाकर ना लें| इस टैबलेट को भोजन के साथ या बिना भी ले सकते हैं लेकिन इसे निश्चित समय पर लेना ज्यादा जरूरी है।

और पढो: अनवान्टेड 72उडीलिव 300टीटी इंजेक्शन

7Ultracet Common Dosage in Hindi – अल्ट्रासेट की सामान्य खुराक?

इसे अपने डॉक्टर की सलाह से ही लें। अल्ट्रासेट की खुराक एक समय में 2 गोलियाँ और रोजाना दिन में कुल 8 गोलियां होती है।

अल्ट्रासेट से कब बचें?

इस टैबलेट को लेने से बचना चाहिए यदि:

  • आपको सांस लेने की समस्या हो|
  • आपके पेट या आंतों में बाधा हो|
  • यदि आपने एम.ए.ओ. अवरोधक लिया हो|

8Ultracet Side-Effects in Hindi – अल्ट्रासेट के साइड इफेक्ट्स

  • कब्ज
  • नींद आना
  • उनींदापन
  • पसीना बढ़ना
  • दस्त
  • जी मिचलाना
  • चक्कर आना
  • साँस लेने में परेशानी
  • गंभीर कम रक्तचाप
  • बेहोशी

9Ultracet Effects on Organs in Hindi – अंगों पर प्रभाव?

गुर्दे की बीमारी वाले मरीजों में इसका प्रभाव बढ़ जाता है। जिगर के मरीजों को इस दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि यह जिगर को नुकसान पहुंचा सकती है।

10Ultracet Allergic Reactions in Hindi – एलर्जी प्रतिक्रियाएं

अल्ट्रासेट त्वचा की गंभीर प्रतिक्रियाओं या अतिसंवेदनशीलता का कारण बन सकती है।

11Ultracet Drug Interactions in Hindi – दवा इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

  • ट्रामडोल के एक और रूप से ।
  • अवसाद या चिंता वाली दवाएं
  • मानसिक बीमारी वाली दवाएं
  • शीत या एलर्जी दवा
  • सिडेटिव
  • नींद की गोलियां
  • मांसपेशियों को आराम देने वाली दवाएं
  • सर्जरी के लिए प्रयुक्त दवाएं
और पढो: यूनिएंजाइमअपराइज-डी3मोंटिकॉप

12Ultracet Effects/Results in Hindi – प्रभाव और परिणाम

इस दवा को लेने के बाद आपका दर्द कम हो जाता है|

सामान्य प्रश्न

क्या अल्ट्रासेट नशे की लत है?

यह दवा आदत बनने के लिए नहीं जानी जाती|

क्या शराब के साथ अल्ट्रासेट ले सकते हैं?

नहीं, इस दवा को लेने के दौरान शराब का सेवन नहीं किया जा सकता| यदि अल्ट्रासेट के साथ शराब पी जाए तो सांस लेने में कमी हो सकती है। इन दोनों को एक साथ लेने से जिगर की क्षति का खतरा बढ़ जाता है।

क्या कोई विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

  • अंगूर का रस
  • गोभी

क्या गर्भवती होने पर अल्ट्रासेट ले सकते हैं?

यदि आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने की योजना बना रही हैं तो अल्ट्रासेट का उपयोग नहीं करना चाहिए| ट्रामडोल बच्चे पर बुरा प्रभाव पैदा करती है। इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

क्या बच्चे को स्तनपान करने के दौरान अल्ट्रासेट ले सकते हैं?

यदि आप स्तनपान करा रही हैं तो अल्ट्रासेट का उपयोग नहीं करना चाहिए| स्तनपान कराने के दौरान यह दवा मां के दूध से बच्चे तक जाती है।

क्या अल्ट्रासेट लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

अल्ट्रासेट सतर्कता को कम कर करके नींद का कारण बन सकती है।

यदि अल्ट्रासेट अधिक मात्रा में ली जाए तो क्या होता है?

अल्टासेट को अधिक मात्रा में लेने से जिगर को नुकसान पहुंच सकता है, यहां तक ​​कि यह भी मौत का कारण बन सकती है। यदि आपको भूख, मतली, उल्टी, पेट-दर्द, पसीना, भ्रम या कमजोरी महसूस हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलें|

यदि एक्सपायरी हो चुकी अल्ट्रासेट खाएं तो क्या होगा?

यदि एक्सपायरी अल्ट्रासेट की एक टैबलेट खाते हैं तो गंभीर साइड इफेक्ट्स होने की संभावना नहीं है। लेकिन इसका उपयोग करने से पहले दवा के लेबल की जांच करें।

यदि अल्ट्रासेट की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होता है?

यदि इसकी खुराक लेनी याद ना रहे तो जैसे ही आपको याद आये तुरंत इसे लें| लेकिन यदि अगली खुराक का समय हो गया हो तो दुगुनी खुराक ना लें|

13भंडारण

  • इसे कमरे के तापमान पर ना रखें|
  • इसे बाथरूम या नमी वाली जगहों में स्टोर न करें|
  • इसे बच्चों की पहुंच से दूर रखें|

14अल्ट्रासेट लेते समय टिप्स

  • यदि कभी भी आपको शराब की वजह से जिगर का रोग हो चुका हो तो या आप नियमित रूप से शराब पीते हैं, तो इस दवा को लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें।
  • इस दवा को किसी के साथ साझा न करें विशेष रूप से किसी ऐसे व्यक्ति से जिसका नशीली दवाओं के दुरुपयोग या व्यसन का इतिहास हो भले ही उसके स्थिति आपके समान हो।
  • इस दवा को लगातार 5 दिनों से ज्यादा इस्तेमाल न करें।
  • 12 साल से कम उम्र के बच्चों को इसे देने की सलाह नहीं दी जाती|
  • यह मुंह के सूखेपन का कारण बन सकता है। इससे अस्थायी रूप से राहत पाने के लिए कैंडी, च्यूइंग-गम वगैरह खाएं।

दर्द की दवा सामान्यत: तब ली जाती है जब आपको इसकी जरूरत महसूस हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − 5 =