Ultram fayde nuksan in hindi

अल्टरम क्या है?

अल्टरम में ट्रामडोल मुख्य घटक के रूप में होता है जो एक कृत्रिम एनाल्जेसिक यानी दर्दनाशक है जिसका उपयोग मध्यम से उच्च दर्द में आराम पहुंचाने के लिए किया जाता है।

अल्टरम कैसे काम करता है?

अल्टरम एक दर्दनाशक है और यह मोर्फिन के समान काम करता है। अल्टरम दिमाग में रिसेप्टर्स को बांधकर शरीर के हर हिस्से से दर्द की संवेदनाओं को फैला देता है।

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: मेडलाइफफार्मइजी

अल्टरम कैसे लें

अल्टरम गोलियों के रूप में मिलती है जिन्हें तोड़े, कुचले और चबाये बिना निगल लेना चाहिए| इन्हें भोजन के बाद बहुत सारे तरल पदार्थ के साथ लेना चाहिए।

सामान्य खुराक-

इस दवा की खुराक का निर्णय निम्न बातों पर आधारित होता है:

  • रोगी के स्वास्थ्य की स्थिति और चिकित्सा की स्थिति
  • लक्षणों की गंभीरता
  • पहली खुराक लेने पर प्रतिक्रिया
  • एलर्जी या दवा प्रतिक्रियाओं का इतिहास
  • वयस्कों के लिए इसकी सामान्य खुराक 50 से 100 मि.ग्रा. हर 4 से 6 घंटे है।
  • इसकी अधिकतम खुराक 400 मि.ग्रा. प्रति दिन है।
  • 12 साल से कम आयु के बच्चों को इसे देने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें।
  • डॉक्टर की सलाह के बिना या किसी की भी सिफारिश से इसकी खुराक को लंबे समय तक न लें|
और पढो: जिथ्रोमैक्सवेलबर्रटिन

अल्टरम से कब बचें?

निम्न स्थितियों में अल्टरम से बचना चाहिए –

  • यदि आपको अल्टरम से एलर्जी हो|
  • आत्मघाती या व्यसन-प्रवण लोगों को|
  • मस्तिष्क में श्वसन अवसाद या अस्थमा वाले रोगी|
  • मस्तिष्क में इंट्राक्रैनियल दबाव या सिर की चोट वाले रोगी|
  • मस्तिष्क, अवसाद जैसे मानसिक या मनोदशा विकार वाले मरीज।
  • किसी आदत के दुरुपयोग के इतिहास वाले मरीज।
  • मूत्र में कठिनाई या बढ़े हुए प्रोस्टेट वाले मरीज।
  • मोटापे वाले रोगी
  • पैनक्रिया और पित्ताशय की बीमारी वाले मरीज़।
  • जिगर और गुर्दे की गंभीर बीमारी वाले मरीज।
  • अल्टरम पेट के मरीजों के नैदानिक ​​मूल्यांकन को मुश्किल कर सकता है।

दुष्प्रभाव-

सभी दवाओं के कुछ न कुछ दुष्प्रभाव तो होते ही हैं। इसके दुष्प्रभाव संभव हैं लेकिन वे हमेशा नहीं होते| यदि आपको लगता है कि आपको निम्न में से कोई भी हो तो अपने डॉक्टर से सलाह लें-

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • भूख की कमी, थकावट
  • वजन घटना
  • पेट में दर्द
  • पेट फूलना
  • कब्ज
  • सीने में जलन
  • दस्त
  • मुँह सूखना
  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • रूखी त्वचा
  • सर-दर्द
  • चक्कर आना
  • मनोदशा में परिवर्तन
  • पेशाब आने में कठिनाई

अंगों पर प्रभाव-

जिगर या गुर्दे की बीमारी वाले मरीजों में इसकी खुराक के समायोजन की जरूरत होती है।

ड्रग इंटरैक्शन के बारे में सावधानी –

बड़ी संख्या में दवाओं को एक दूसरे के साथ प्रभाव डालते देखा गया है। इसलिए रोगी को अपने चिकित्सक को अपने द्वारा प्रयोग की जाने वाली सभी दवाओं या काउंटर उत्पादों या विटामिन की खुराक के इस्तेमाल के बारे में बताना चाहिए। आपको उन हर्बल उत्पादों के बारे में भी बताना चाहिए जिन्हें आप ले रहे हैं। अपने डॉक्टर की इज्ज़ज़त के बिना दवा के आहार में संशोधित न करें। सभी इंटरैक्शन वाली दवाओं को यहां सूचीबद्ध नहीं किया जा सकता लेकी अल्टरम के साथ प्रभाव डालने वाली कुछ सामान्य दवाओं में निम्न हैं-

  • कुछ दर्द नाशक जैसे पेंटाज़ोसाइन, नाल्टरेक्सोन
  • अन्य ओपियोड दर्दनाशक या खांसी की दवाएं
  • एम.ए.ओ. अवरोधक जैसे कि आइसोकार्बोज़ाइड, लाइनज़ोलिड
  • स्ट्रीट ड्रग्स जो सेरोटोनिन को बढ़ाती हैं जैसे “एक्स्टसी”, सेंट जॉन्स वॉर्ट, मारिजुआना
  • फ्लूक्साइटीन जैसे एंटीड्रिप्रेसेंट्स
  • क़ुइनिडाईन
  • एज़ोल एंटीफंगल दवाएं
  • एच.आई.वी दवाएं
  • मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक्स जैसे एरिथ्रोमाइसिन
  • कार्बामाज़ेपिन जैसी दवाएं
  • सोने वाली दवाएं
  • एंटी-स्ट्रेस दवाएं
  • मांसपेशियों को आराम देने वाली
  • सिट्रिजिन जैसे एंटी-एलर्जी दवाएं
और पढो: वेंटोलिनट्रेसिबाट्र्यूलिसिटी

सामान्य प्रश्न

क्या अल्टरम नशे की लत है?

हाँ। अल्टरम का उपयोग करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

क्या शराब के साथ अल्टरम ले सकते हैं?

इस दवा के साथ शराब का दैनिक उपयोग करने से दुष्प्रभावों का जोखिम को बढ़ सकता है।

क्या किसी भी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

किसी भी खाद्य उत्पाद के साथ इसका कोई प्रभाव नहीं देखा गया।

क्या गर्भवती होने पर अल्टरम ले सकते हैं?

यदि आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने की योजना बना रही हैं तो अपने डॉक्टर से कहें। गर्भवती महिलाओं में अल्टरम का उपयोग तब तक नहीं करना चाहिए जब तक कि इससे होने वाले लाभ खतरे से अधिक न हों।

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान अल्टरम ले सकते हैं?

स्तनपान कराने वाली माताओं को अल्टरम का उपयोग नहीं करना चाहिए।

क्या अल्टरम लेने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

अल्टरम की वजह कुछ रोगियों में चक्कर आना, सिरदर्द, उनींदापन और जैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं| ऐसे मरीजों को ड्राइविंग से बचना चाहिए।

यदि अल्टरम अधिक मात्रा में लें तो क्या होता है?

इसे तय की गयी से मात्रा से अधिक लेने से साइड इफेक्ट्स की घटनाएँ बढ़ सकती हैं| इसकी खुराक के लक्षणों में निम्न हो सकते हैं:

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • पेट में असुविधा
  • आलस्य
  • सुस्ती

यदि एक्सपायरी हो चुकी अल्टरम खाएं तो क्या होगा?

हमेशा एक्सपायरी दवा लेने से बचना चाहिए| यदि आपने गलती से इसे ले ही लिया है और आपको कोई असुविधा महसूस हो रही है तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ। इलाज के लिए एक्सपायरी दवा उतनी शक्तिशाली नहीं हो सकती इसलिए एक्सपायरी दवा का उपयोग करने से बचें| की सलाह दी जाती है।

भंडारण –

दवा को प्रकाश और नमी से दूर कमरे के तापमान पर रखें।

इस दवा को ठंडा ना करें|

टिप्स:

इए लेने के दौरान कब्ज को रोकने के लिए आहार में फाइबर पर्याप्त मात्रा में लें, बहुत सारा पानी पीएं और व्यायाम करें।

Previous articleवेंटोलिन (Ventolin in Hindi): उपयोग, खुराक, मूल्य, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां
Next articleFreshMenu Customer Care Numbers: FreshMenu Toll Free Helpline Number & Complaint No.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 + eighteen =