वॉलिनी (Volini In Hindi): उपयोग,फायदे, खुराक, साइड इफेक्ट्स, सावधानियां, मूल्य

Volini fayde nuksan in hindi

वॉलिनी क्या है?

वॉलिनी एक दर्द नाशक जेल है जिसका प्रयोग मांसपेशियों और जोड़ों के विभिन्न प्रकार के दर्द के लिए किया जाता है|

इसमें क्या शामिल है?

वॉलिनी में डिक्लोफेनाक डाइथाइलामाइन, लिंसेड तेल और मेथिल सैलिसिलेट के मुख्य तत्व के रूप में मौजूद हैं। इसमें मेन्थॉल और बेंजाइल भी पाए जाते हैं|

इस दवा को खरीदें और 20% छूट प्राप्त करें: नेटमेड्स

वॉलिनी का उपयोग

इसका उपयोग सामान्यत: निम्न के लिए किया जाता है:

  • पीठ दर्द
  • घुटने के दर्द
  • कंधे का दर्द
  • गर्दन दर्द
  • चोट के कारण दर्द

वॉलिनी कैसे काम करती है?

वॉलिनी जेल शरीर में साईंक्लोओक्सीजेनस के उत्पादन को रोकने का काम करता है जो संश्लेषण के लिए जिम्मेदार होते हैं जो दर्द और सूजन के लक्षण पैदा करते हैं।

और पढो: वर्टिनवेलोज़-डीविबैक्ट-डी.एस.

भारत में वॉलिनी का मूल्य

वॉलिनी जेल

  • 52 रुपये में 15 ग्रा.
  • 105 रुपये में 30 ग्रा.
  • 148 रुपये में 50 ग्रा.
  • 199 रुपये में 75 ग्रा.

वॉलिनी स्प्रे

  • 50 रुपये में 15 ग्रा.
  • 125 रुपये में 40 ग्रा.
  • 175 रुपये में 60 ग्रा.

वॉलिनी जेल कैसे लगायें?

इसकी ट्यूब से जेल लेकर दर्द वाली जगह पर एक पतली परत लगायें| इसे लगाने के बाद जेल को रगड़ने या मालिश करने की कोई जरूरत नहीं होती|

वॉलिनी की सामान्य खुराक?

वॉलिनी जेल 10 ग्रा., 15 ग्रा., 30 ग्रा., 50 ग्रा., 75 ग्रा. और 100 ग्रा. की ट्यूब में मिलती है। जब तक दर्द दूर ना हो तब तक वयस्क इसे दिन में 3 से 4 बार लगा सकते हैं। बच्चों के लिए इसे 2 से 3 बार लगाना चाहिए।

वॉलिनी से कब बचें?

  • कटे हुए और खुले घावों पर वॉलिनी लगाने से बचना चाहिए| यदि त्वचा पूरी तरह सही हो तभी इसे लगायें|
  • इसे संक्रमित त्वचा पर भी इस्तेमाल ना करें|
  • यदि इसके किसी घटक से एलर्जी हो तो वालिनी से बचें।

वॉलिनी के साइड इफेक्ट्स

  • उच्च रक्त चाप,
  • सीने की जलन
  • सरदर्द
  • चक्कर आना
  • पेट दर्द
  • गाढ़े रंग का मल
  • वजन घटना
  • थकान

अंगों पर प्रभाव?

बहुत कम मामलों में ही वॉलिनी जिगर और गुर्दे को नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए यदि आप ऐसी किसी भी परिस्थिति से पीड़ित हैं तो इस जेल को लगाने से बचना चाहिए:

एलर्जी प्रतिक्रियाएं

त्वचा पर खुजली, चकत्ते और हीव्स

सांस लेने की कमी

जीभ की सूजन

दवा इंटरैक्शन के बारे में सावधानी

  • एडेफोविर
  • एपिक्साबन
  • मेठोतरेक्सेट
  • रामिप्रिल
  • केटोरोलाक

प्रभाव और परिणाम

वॉलिनी नैनोजेल फॉर्मूला में मिलता है जो त्वचा में जल्दी अवशोषित हो जाता है और और लंबे समय तक चलने वाले प्रभाव पैदा करता है। 1 दिन के भीतर ही वॉलिनी के प्रभाव देखे जा सकते हैं|

और पढो: विजाइलैकवोवरनविकोरिल

सामान्य प्रश्न

क्या वॉलिनी नशे की लत है?

नहीं, इस जेल का उपयोग करना आदत नहीं है।

क्या शराब के साथ वॉलिनी प्रयोग कर सकते हैं?

इस दवा के साथ शराब लेने के उपयोग के बारे में अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

क्या किसी विशेष खाद्य पदार्थ से बचना चाहिए?

केवल आपका डॉक्टर ही आपको खाद्य पदार्थों से बचने के बारे में सलाह दे सकता है।

क्या गर्भवती होने पर वॉलिनी का उपयोग कर सकते हैं?

यदि आप गर्भवती हैं या गर्भवती होने की योजना बना रहे हैं तो यह दवा लेना सुरक्षित नहीं है। इस दवा को लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें।

क्या बच्चे को स्तनपान कराने के दौरान वॉलिनी का उपयोग कर सकते हैं?

यदि आप बच्चे को स्तनपान करा रही हैं तो यह दवा लेना सुरक्षित नहीं है। इस दवा को लेने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें|

क्या वॉलिनी लगाने के बाद ड्राइव कर सकते हैं?

यह दवा साइड इफेक्ट्स का कारण हो सकती है जिसकी वजह से सतर्कता का स्तर कम हो  सकता है। इसलिए यदि सिरदर्द, धुंधली दृष्टि, चक्कर आना या उनींदापन लगे तो ड्राइविंग से बचें।

यदि वॉलिनी अधिक मात्रा में लें तो क्या होगा?

तय की गयी मात्रा से अधिक दवा लेने से यह आपको तेजी से ठीक नहीं करेगी| बल्कि गंभीर दुष्प्रभाव पैदा करेगी|

यदि एक्सपायरी हो चुकी वॉलिनी   खाएं तो क्या होगा?

यदि एक्सपायरी हो चुकी दवा की एक खुराक का उपयोग करें  तो नुकसान की संभावना बहुत कम होती है। इसे उपयोग करने से पहले एक्सपायरी दवा की हमेशा जांच करें।

यदि वॉलिनी   की खुराक लेनी याद ना रहे तो क्या होगा?

ऐसी अवस्था में जैसे ही आपको याद आये तुरंत इसकी खुराक लें| लेकिन यदि अगली खुराक का समय पहले से ही हो गया हो तो दुगुनी खुराक ना लें|

भंडारण

  • इसे कमरे के तापमान पर रखें|
  • इसे भंडार करने के लिए बाथरूम जैसे नमी वाले स्थानों पर रखने से बचें|
  • इस दवा को सीधी सूर्य की रोशनी से हमेशा दूर रखें|
  • इसे बच्चों और पालतू जानवरों से भी दूर रखें|

वॉलिनी लगाते समय टिप्स

  • इस जेल को कटी-फटी त्वचा पर ना लगायें|
  • इस जेल को आंखों और श्लेष्म झिल्ली के साथ करने संपर्क से बचें।
  • इस जेल को लगाने से पहले उस जगह को साफ और सूखा रखें|
  • इस जेल की एक मोटी परत को लगाने से इससे दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं।

इस जेल को लागू करने के तुरंत बाद पानी के संपर्क से बचें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 − 4 =